ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

दुनिया भर के 700 से अधिक निर्वासित कश्मीरी लेखकों, कलाकारों और अन्य बुद्धिजीवियोंकी आवाज़ मीडिया को नहीं सुनाई दी

संसार भर के 700 से अधिक प्रतिष्ठित कश्मीरी निर्वासित लेखकों,कवियों,पदम् श्री से सम्मानित आदरणीयों,रंगकर्मियों, बुद्धिजीवियों, चित्रकारों, फिल्मकारों, विश्वविद्यालयों के उपकुलपतियों ,शिक्षाविदों, समाजशास्त्रियों, वैज्ञानिकों, वकीलों, संगीतकारों, पूर्व सैन्य अधिकारियों, उद्यमियों,अभिनेताओं, नाटककारों सहित सिविल सोसाइटी के गणमान्य सदस्यों सहित सामाजिक कार्यकर्ताओं आदि ने धारा 370 ,35-ए हटाए जाने और जम्मू कश्मीर राज्य के पुनर्गठन का स्वागत किया है ।

और उन चंद दोगले छदम कश्मीरी पंडित रंगकर्मी और बुद्धिजीवियों की निन्दा करते हुए कहा है कि यह वे घर के भेदिए हैं जिन्हें अंग्रेजी में Victim collaboraters कहा जाता है
जिनका लाखों कश्मीरी पंडितों की जलावतनी उनके ‘जीनोसाइड’ और उनकी हत्याओं, अपहरणों को लेकर कभी दिल नहीं पसीजा।कभी मुंह तक नहीं खोला। कभी किसी शरणार्थी कैंप में पशुओं का जीवन जी रहे अपने समुदाय के लोगों को देखने तक नहीं आए।

ऊपरयुक्त इन प्रमुख 700 संस्कृतिकर्मियों, लेखकों,कवियों, सभ्यता- समीक्षकों,बुद्धिजीवियों आदि ने एक स्वर में कहा है कि धर्मनिरपेक्ष भारत की धरती पर अनुच्छेद 370 की ओट में जम्मू कश्मीर राज्य के रूप में एक मुस्लिम राज्य उर्फ एक इस्लामी राज्य का निर्माण होने दिया था।

यह अनुच्छेद 370 ही मुस्लिम अलगावाद की जड़ है जिससे पाकिस्तान समर्थित जिहादी आतंकवाद प्रसाफुटित हुआ जिसके चलते लाखों कश्मीरी पंडितों का जीनोसाइड और सामूहिक निर्वासन घटित हुआ।

अनुच्छेद 370 , 35-ए को हटाकर और राज्य को पुनर्गठित कर उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में बदलना एक निर्णायक पहल है ।

इन 700 प्रतिनिधि कश्मीरी निर्वासित अपीलकर्ताओं में कुछेक नाम इस तरह हैं :

– पद्मभूषण अनुपम खेर ( अभिनेता),
– पद्मश्री पं.भजन सोपोरी (संतूरवादक और संगीतकार,दिल्ली)
– पद्मश्री सुभाष काक (कम्पूटर वैज्ञानिक ,विचारक और लेखक,अमेरिका)
– पद्मश्री जवाहर लाल कौल ( पत्रकार,दिल्ली)
– पद्मश्री डाॅ काशीनाथ पंडित ( लेखक,विचारक,पूर्व निदेशक, सेंटर फाॅर सेंट्रल एशियन स्टडीज़, कश्मीर विश्वविद्यालय)
– पद्मश्री बंसी कौल ( रंगकर्मी,नाटककार और निदेशक, दिल्ली )
– के के रैना (अभिनेता ,नाटककार और निदेशक, मुम्बई )
– शांतिवीर कौल (कवि,लेखक ,विचारक )
-डाॅ. मोहन कौल ( पूर्व डायरेक्टर जनरल, काॅमनवेल्थ)
– रतन पारिमू ( चित्रकार, आर्ट- हिस्टोरियन, गुजरात )
– सुशील पंडित ( विचारक, मीडिया पैनलिस्ट, दिल्ली )
– डाॅ पुष्कर नाथ राज़दान ( पूर्व उपकुलपति,डी वय पाटिल विश्वविद्यालय,पूणे)
– डाॅ कुलदीप रैना ( उपकुलपति,देहरादून टैक्निकल यूनिवर्सिटी)
– डाॅ.रतन हांगलू ( उपकुलपति अलाहाबाद विश्वविद्यालय)
– पं त्रिलोक कौल ( चित्रकार,पूर्व निदेशक स्कूल ऑफ डिज़ाइन कश्मीर )
– हृदय कौल भारती ( कश्मीरी ट्रैंडसैटर कथाकार, विचारक )
– अशोक पंडित ( फिल्मकार,रंगकर्मी,अध्यक्ष एसोसिएशन ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन डायक्टर्स , मुम्बई)
– पं. तेज कृष्ण जलाली ( संगीतकार पूर्व अध्यक्ष स्कूल ऑफ फाइन आर्ट्स,जम्मू)
– भूषण कौल ( चित्रकार,जयपुर)
– प्रो. शिबन रैना ( अनुवादक, लेखक, पूर्व सदस्य उच्चतर अध्ययन संस्थान, शिमला)
– गोकल डेंबी ( चित्रकार,जम्मू)
– कश्मीरी खोसा (चित्रकार, दिल्ली)
– क्षमा कौल (कथाकार, कवयित्री, डायरी लेखक और विचारक,जम्मू )
– महाराज कृष्ण सन्तोषी (कवि,कहानीकार और अनुवादक,
जम्मू )
– शिबन खैबरी ( स्तम्भकार, लेखक, जम्मू)
– महाराज शाह ( कहानीकार, फिल्मकार ,रंगकर्मी,
निदेशक,लेखक,जयपुर )
– कुलदीप सप्रू (संगीत निदेशक,जम्मू)
– कैलाश मेहरा साधु (गायिका, पूर्व प्रोफेसर, जम्मू)
-अरविंद गिग्गू ( लेखक,अनुवादक,कला प्रेमी)
– नैना सप्रू ( गायिका और विचारक, जम्मू )
– डाॅ दिलीप कुमार कौल ( कवि,लेखक,विचारक,दिल्ली)
– नीरजा पंडित ( गायक,संस्कृतिकर्मी,मुम्बई)
– दिलीप लंगू ( गायक, फरीदाबाद)
– उत्पल कौल ( इतिहासवेता, प्रकाशक, कार्यकर्ता, दिल्ली)
– डाॅ.अद्वैतवादिनी कौल ( लेखक, अनुसन्धिसु,दिल्ली)
– लेनिन भट ( सामाजिक कार्यकर्ता,जम्मू)
– आदर्श अजीत ( लेखक, समीक्षक)
– बिहारी लाल कौल ( मुख्य अध्यापक,सामाजिक कार्यकर्ता,जम्मू)
– अर्चना जलाली (गायक, कैनेडा)
-डाॅ दीपाली वातल ( गायिका, नैरोबी, दक्षिण अफ्रीका)
-डाॅ रतन लाल शांत ( कवि,कहानीकार, समालोचक)
– डाॅ शशिशेखर तोषखानी (कवि,समालोचक, भारतविद्)
– डाॅ रमेश तैमीरी ( लेखक, रिसर्चर , जम्मू)
– डाॅ.अजय च़ंग्रू ( विचारक, चेयरमैन पनुन कश्मीर,जम्मू)
– डाॅ कविता सूरी ( पत्रकार, छायाकार, लेखक, जम्मू)
– कमल हाक ( लेखक,स्तम्भकार, कार्यकर्ता,नोएडा)
– किरन वातल ( पूर्व आयुक्त जम्मू नगर निगम, अध्यक्ष
विश्व कश्मीरी समाज,जम्मू)
– पी. एल. बड़गामी ( लेखक, सामाजिक कार्यकर्ता)
– एम.के. बंगरू ( पत्रकार, पूर्व पीटीआई बीरो चीफ, जम्मू)
– डाॅ के. एल. चौधरी ( कवि, लेखक,फिज़िशियन
स्पेशलिस्ट,जम्मू )
– डाॅ राजेन्द्र च़ंग्रू ( सर्जन स्पेशलिस्ट,जम्मू)
– डाॅ के के पंडिता ( न्यूराॅलाॅजिस्ट , जम्मू)
– रमेश मन्वटी ( अभियन्ता, लेखक, सामाजिक कार्यकर्ता, पुणे)
– वीरजी सुम्बली (चित्रकार,रंगकर्मी,कला निदेशक)
– संजय मोज़ा ( कृषि पंडित, सामाजिक
कार्यकर्ता,जम्मू)
– आशा ज़ारू ( रंगकर्मी,जम्मू )
– बिहारी काक ( रंगकर्मी ,जम्मू)
– सी. बी. कौल ( पत्रकार, दिल्ली)
– भाषा सुंबली (अभिनेता,निदेशक,मुम्बई)
– एम. एल. काक ( पत्रकार, दिल्ली)
– श्याम बिहारी( कवि,निबन्धकार ,जम्मू)
– अवतार कृष्ण रहबर ( लेखक ,ब्राॅडकास्टर)
– डाॅ. अमर मालमोही ( कथाकार,नाटककार,पुणे)
– हीरालाल भट ( कृषि पंडित,सामाजिक कार्यकर्ता)
– अवतार कृष्ण राज़दान ( कहानीकार,समीक्षक, पुणे)
– कमल हाक ( लेखक,स्तम्भकार,कार्यकर्ता,नोएडा)
– रवीन्द्र कौल ( कला समीक्षक,लेखक, स्तम्भकार, जम्मू )
– आशा ज़ारू ( रंगकर्मी,जम्मू )
– सी. बी. कौल ( पत्रकार, दिल्ली)
– ललित पारिमू ( फिल्म अभिनेता,मुम्बई)
– बालकृष्ण संन्यासी (कवि,लेखक,जम्मू)
– पी एन ‘शाद’ ( कवि,लेखक,जम्मू)
– श्याम जुनेजा ( कवि, डायरी लेखक )
– शिबन कोटवाल ( उद्यमी,कार्यकर्ता,लंदन)
– रेणुलता कौल ( गायिका, लखनऊ)
– उषा हंडू ( गायिका ,जम्मू)
– उषा सुंबली ( रंगकर्मी,जम्मू)
– सुनयना काचरू ( गायिका, जम्मू)
-जयकिशन रैना ( रंगकर्मी, जम्मू)
– एम के रैना ( सांख्यिकी विशेषज्ञ , जम्मू)
– डाॅ शैलजा अंबारदार ( लेखक, पूर्व विभागाध्यक्ष सैयाजी राव
विश्वविद्यालय, वडोदरा, गुजरात)
– डाॅ.अर्चना कौल ( वैज्ञानिक, कैनेडा)
– हिमालय सुंबली ( लेखक, उद्यमी, कैनेडा)
– आलोक कौल (मैकेनिकल इंजीनियर,जम्मू)
– प्रद्युम्न भट ( रंगकर्मी, जम्मू)
– प्रिया भट ( लोक गायिका, जम्मू)
– छामली सुंबली पेंडके ( उद्यमी, अभिनेत्री,नागपुर)
– संजय रैना ( उद्यमी,सामाजिक कार्यकर्ता, दुबई)
– कुलदीप रैना ( महासचिव पनुन कश्मीर,जम्मू)
– शैलेन्द्र ऐमा ( शिक्षाविद्, संपादक कश्मीर सेंटिनल , जम्मू)
– वीर वंगू ( लेखक, अध्यक्ष बिज़ीनेस,फिनलैंड)
– विजय धर ( रंगकर्मी, टीवी अभिनेता, निदेशक,जम्मू)
– ललित कौल ( उद्यमी,अमेरिका)
– आशा हांगलू राज़दान (उद्यमी,सामाजिक कार्यकर्ता,आस्ट्रेलिया)
– वीरजी खर ( उद्यमी, सामाजिक कार्यकर्ता, न्यूज़ीलैंड)
– प्राणेश नगरी ( कवि, सितारवादक, बैंगलुरु)
– विद्याभूषण धर ( उद्यमी,कवि,संस्कृतिकर्मी, कैनेडा )
– मंजू भट ( संस्कृतिकर्मी, कैनेडा)
– राहुल राज़दान ( मैक्रोसाॅफ्ट प्रोफेशनल, हैदराबाद)
– राहुल कौल ( उद्यमी, पुणे)
– विट्ठल चौधुरी ( उद्यमी , दिल्ली)
– अग्निशेखर ( कवि,लेखक, विचारक, कार्यकर्ता,जम्मू )

( निवेदन : उचित लगे तो इस पोस्ट को अधिक से अधिक साझा करें और दूसरों से भी कहें ताकि कपिल काक एंड कम्पनी के भ्रामक प्रचार का भंडा फोड हो)

साभार- अग्नि शेखर जी की फेसबुक वाल से

image_pdfimage_print


Leave a Reply
 

Your email address will not be published. Required fields are marked (*)

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

सम्बंधित लेख
 

Back to Top