आप यहाँ है :

कश्मीर फाईल्स पर पल्लवी जोशी व विवेक अग्निहोत्री के साथ एक सार्थक चर्चा

मुंबई। रामभाऊ म्हाळगी प्रबोधिनी एवं डॉ.श्यामाप्रसाद मुखर्जी स्मृति के संयुक्त तत्वाधान में ‘डायलॉग ऑन द कश्मीर फाइल्स’ इस कार्यक्रम का आयोजन इंडियन मर्चेंट चेम्बर, चर्चगेट में 16 मार्च 2022 को किया गया था जिसमे ‘द कश्मीर फाइल्स’ फील्म के निर्माता-निर्देशक विवेक अग्निहोत्री एवं कलाकार पल्लवी जोशी ने शिरकत की.

कार्यक्रम में बात करते समय विवेक ने कहा “ये फ़िल्म कश्मीर में कश्मीरी हिंदुओंपर किये गये नरसंहार में मारे गए उन सारे कश्मीरी हिंदुओंको श्रद्धाजंली है.आज तक कश्मीरी हिंदुओंपर हुए अत्यचारोंके बारेमे किसीने सच सामने नही लाया इससे मै बहुत व्यथित हुआ इसलिए मैंने एवं पल्लवीने तय किया कि हम जिनकी आवाज दबायी गयी उनकी आवाज बनेंगे”

पल्लवी जोशी ने कहा वो इस फ़िल्म के निर्माण हेतु किये गए संशोधन में 700 कश्मीरी हिन्दू परिवारोंको मिली और उनसे बातचीत की. बातचीत करते समय पल्लवी को जो दिल दहलाने वाले अनुभव आये वो पल्लवीने उपस्थित श्रोताओंके साथ साझा किए.

“ये फ़िल्म कश्मीरी हिंदुओंका सच सामने ला रही है लेकिन भारत के लेफ्ट मीडिया ने और छद्म सुधारणावादियोने इस फ़िल्म का विरोध किया. बॉलीवुड ने तो हमेशा कश्मीर का असत्य पक्ष ही समाज के सम्मुख लाया है.” विवेक ने कहा

अंत मे विवेक अग्निहोत्री ने स्व.बालासाहब ठाकरे जी को याद किया . बालासाहेब ठाकरे जी कश्मीरी हिंदुओंके हक के लिए लढ़े, कश्मीरी हिंदुओंका पुरजोर समर्थन किया. बालासाहब ने किए कार्य के कारण उनका नाम भी फ़िल्म में लिया है. ये कहकर उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और बालासाहब के सुपुत्र उद्धव ठाकरे को महाराष्ट्र में फ़िल्म टैक्स फ्री की जाए ये मांग की. कार्यक्रम में विवेक और पल्लवी को सुनने के लिए बहुत बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। आशीष चव्हाण इस कार्यक्रम का संचालन किया। रामभाऊ म्हालगी प्रबोधिनी के महासंचालक एवं डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी स्मृति के न्यासी रविन्द्र साठे ने प्रस्तावना रखी. देवेंद्र पै इस कार्यक्रम के सूत्रसंचालक थे।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top