ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

बरखा दत्‍त अर्णव गोस्वामी पर भड़की, पूछा क्या ये पत्रकार है?

बरखा दत्त ने टाईम्स नाउ और अर्णव गोस्वामी पर निशाना साधा है। बरखा दत्त ने 27 जुलाई को किए गए एक ट्वीट में लिखा, ‘टाइम्‍स नाऊ मीडिया के दमन की बात करता है। वो जर्नलिस्‍ट्स पर मामला चलाने और उन्‍हें सजा दिलाने की बात करता है। क्‍या यह शख्‍स जर्नलिस्‍ट है?’

कश्‍मीर में हुई हिंसा पर जारी बहस के बीच एनडीटीवी की कंसल्‍ट‍िंग एडिटर और मशहूर पत्रकार बरखा दत्‍त ने टाइम्‍स नाऊ के एडिटर इन चीफ अरनब गोस्‍वामी पर निशाना साधा है। बरखा ने 27 जुलाई को किए गए एक ट्वीट में लिखा, ‘टाइम्‍स नाऊ मीडिया के दमन की बात करता है। वो जर्नलिस्‍ट्स पर मामला चलाने और उन्‍हें सजा दिलाने की बात करता है। क्‍या यह शख्‍स जर्नलिस्‍ट है? उस शख्‍स की तरह ही इस इंडस्‍ट्री का हिस्‍सा होने के लिए शर्मिंदा हूं।’ बरखा दत्‍त ने सीधे सीधे अरनब का नाम तो नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि उनके निशाने पर अरनब गोस्‍वामी ही थे।
क्‍या है मामला?
अरनब गोस्‍वामी ने एक दिन पहले अपने शो न्‍यूज ऑवर में जिस विषय पर चर्चा की, उसका विषय था pro pak doves silent. इस चर्चा में बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा, आर्मी रिटायर्ड अफसर जनरल जीडी बक्‍शी, मेजर गौरव आर्या, कश्‍मीर के नेशनल पैंथर्स पार्टी के अध्‍यक्ष भीम सिंह, सुप्रीम कोर्ट की वकील मिहिरा सूद, पॉलिटिकल एक्‍ट‍िविस्‍ट जॉन दयाल मौजूद थे। मेजर गौरव आर्या वही शख्‍स हैं, जिनका कश्‍मीरियों को लिखा ओपन लेटर हाल ही में वायरल हो गया था। चर्चा के दौरान जीडी बक्‍शी ने मीडिया पर सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर क्‍यों कुछ बड़े अखबारों ने बुरहान वानी की लाश की फोटो छापी? ऐसा करना क्‍यों जरूरी था? जीडी बक्‍शी ने कहा, ‘यह इन्‍फॉर्मेशन वॉरफेयर (सूचना के जरिए जंग) का युग है। हम मीडिया के हमले का शिकार हो रहे हैं।’ बक्‍शी ने कहा कि कुछ मीडिया वाले कश्‍मीरी लोगों को अलगाव के लिए भड़का रहे हैं।

इससे पहले, कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए अरनब गोस्‍वामी कहते हैं, ”जब लोग खुलेआम भारत का विरोध और पाकिस्‍तान व आतंकवादियों के लिए समर्थन जाहिर करते हैं तो ऐसे लोगों के साथ कैसा बर्ताव करना चाहिए?” अरनब ने कहा कि वे ऐसे लोगों को स्‍यूडो लिबरल्‍स (छद्म उदारवादी) कहते हैं। चर्चा के दौरान अरनब गोस्‍वामी ने कहा कि ऐसे लोगों का ट्रायल होना चाहिए। चर्चा के दौरान अरनब गोस्‍वामी ने एक जगह कहा यह भी कहा कि मीडिया में कुछ खास लोग बुरहान वाणी के लिए हमदर्दी दिखाते हैं। यह वही ग्रुप है जो अफजल गुरु के लिए काम करता है और उसकी फांसी को साजिश बताता है। अरनब ने कहा कि मीडिया में छिपे ऐसे लोगों पर बात होनी चाहिए।
चर्चा के दौरान बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने बरखा दत्‍त पर निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि मुझे पता है कि हाफिज सईद यहां कुछ लोगों को पसंद करता है और उसका वीडियो भी आजकल चर्चाओं में है। संबित का इशारा बरखा दत्‍त की ओर ही था।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top