ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

भारत गौरव
 

  • साहित्य की विश्व स्तरीय सूची में डॉ.चंद्रकुमार जैन का शोध आलेख

    साहित्य की विश्व स्तरीय सूची में डॉ.चंद्रकुमार जैन का शोध आलेख

    राजनांदगांव। साहित्य विभूतियों की संस्कारधानी को एक और गौरव का अधिकारी बनाते हुए दिग्विजय कालेज के हिंदी विभाग के प्राध्यापक डॉ.चंद्रकुमार जैन ने हिंदी साहित्य की उत्कृष्ट रचनाओं में अपने शोध आलेख को शुमार कर दिखाया है।

  • पर्यटन क्षेत्र में तेजी से बढ़ोत्तरी

    पर्यटन क्षेत्र में तेजी से बढ़ोत्तरी

    अन्य क्षेत्रों में तेजी से हो रही प्रगति के साथ-साथ भारतीय पर्यटन क्षेत्र भी अब निश्चत रूप से तेजी से आगे बढ़ रहा है। "अतुल्य भारत" के रूप में वर्णित अनेक तीर्थ स्थलों और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के साथ हमारा देश धीरे-धीरे प्राकृतिक सौन्दर्य वाले अनेक स्थानों, विशिष्ट वातावरण और अनेक अन्य आकर्षणों के साथ लोकप्रियता हासिल कर रहा है।

  • अश्वनी लोहानीः एक जानदार, दमदार, ईमानदार और जांबाज अफसर

    अश्वनी लोहानीः एक जानदार, दमदार, ईमानदार और जांबाज अफसर

    श्री अश्वनी लोहानी को रेल्वे को बोर्ड का नया अध्यक्ष बनाया गया है. लोहानी फिलहाल एयर इंडिया के सीएमडी हैं. इसके अलावा वे आईटीडीसी के भी चेयरमैन रह चुके हैं. लोहानी दिल्ली में रेल म्यूजियम के निदेशक के रूप में भी काम कर चुके हैं।

  • कितना बड़ा रहस्य छुपा है सोमनाथ मंदिर के बाण स्तंभ में

    कितना बड़ा रहस्य छुपा है सोमनाथ मंदिर के बाण स्तंभ में

    ‘इतिहास’ बडा चमत्कारी विषय हैं. इसको खोजते खोजते हमारा सामना ऐसे स्थिति से होता हैं, की हम आश्चर्य में पड जाते हैं. पहले हम स्वयं से पूछते हैं, यह कैसे संभव हैं..? डेढ़ हजार वर्ष पहले इतना उन्नत और अत्याधुनिक ज्ञान हम भारतीयों के पास था, इस पर विश्वास ही नहीं होता..!

  • अंतरिक्ष में भारत की ऊँची उड़ान

    अंतरिक्ष में भारत की ऊँची उड़ान

    गर्मी के 53 से ज्‍यादा मौसम बीते होंगे जब भारत ने केरल में मछुआरों के एक अनजाने से गांव थुंबा से अमेरिका में बने दो चरणों वाले ‘नाइक-अपाचे’ साउंडिंग राकेट को छोड़ कर अंतरिक्ष में पहली बार अपनी उपस्थिति दर्ज की। यह भारत का पहला राकेट था।

  • 1857 की क्रांति की महान योध्दा अवंती बाई लोधी

    1857 की क्रांति की महान योध्दा अवंती बाई लोधी

    आज भी भारत की पवित्र भूमि ऐसे वीर-वीरांगनाओं की कहानियों से भरी पड़ी है जिन्होंने 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम से लेकर देश के आजाद होने तक भिन्न- भिन्न रूप में अपना अहम योगदान दिया।

  • मॉरीशस में राम मंदिर के लिए सहयोग देने वालों का मुंबई में सम्मान

    मॉरीशस में राम मंदिर के लिए सहयोग देने वालों का मुंबई में सम्मान

    मुंबई। अयेध्या में तो राम मंदिर राजनीति की भेंट चढ़ गया, मगर भारत से हजारों किलोमीटर दूर समंदर पार एक ऐसा भव्य राम मंदिर बन चुका है जिसको लेकर हर भारतीय का सिर गर्व से ऊंचा हो जाएगा। ये राम मंदिर ऐसे ही नहीं बना है इसके निर्माण के लिए मॉरिशस की संसद ने अधिनियम बनाकर रामायण सेंटर का गठन किया और जमीन भी दी।

  • ऐसे होता है संघ का गुरू दक्षिणा उत्सव

    ऐसे होता है संघ का गुरू दक्षिणा उत्सव

    किसी साफ-सुथरे मैदान या कमरे में 50- 100 लोग भगवा झंडे के सामने एकत्र हैं। ध्वज प्रणाम के बाद सब बारी बारी झंडे के सामने सर झुका कर लिफाफे में कुछ अर्पित कर शांत चित से अपने स्थान पर आ कर बैठ जाते हैं।

  • ॐ   और स्वस्तिक के अद्भुत रहस्य में लिपटी है भोपाल की बसाहट

    ॐ और स्वस्तिक के अद्भुत रहस्य में लिपटी है भोपाल की बसाहट

    भोपाल। मध्य प्रदेश के ऐतिहासिक भोजपुर मंदिर के बारे में तो आपने सुना ही होगा, लेकिन अब ये मंदिर वैज्ञानिक महत्व के लिए भी जाना जाएगा। जी हां, भोजपुर और मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के छिपे हुए प्राचीन रहस्य अब सामने आ रहे हैं।

  • म.प्र. में सार्वजनिक कार्यक्रमों की शुरुआत अब कन्या पूजन और वृक्षारोपण से

    म.प्र. में सार्वजनिक कार्यक्रमों की शुरुआत अब कन्या पूजन और वृक्षारोपण से

    मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्की श्री शिवराज सिंह चौहान ने पूरे प्रदेश में वृक्षारोपण का व्यापक अभियान चलाकर मध्यप्रदेश में वृक्षारोपण के क्षेत्र में एक नई मिसाल कायम की।

  • Page 2 of 29
    1 2 3 4 29

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top

Page 2 of 29
1 2 3 4 29