आप यहाँ है :

जीवन शैली
 

  • छोड़िये भी ! क्या रखा है इन विचारों में !

    हम अपने मन में चल रहे अविवेकपूर्ण व अतार्किक विचारों से परेशान रहते हैं जिसका हमारे दैनिक जीवन और कामकाज पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. ये विचार सफल व्यक्ति को असफल व्यक्ति से अलग करते हैं. ये विचार सभी क्लेशों और युद्दों की जड़ हैं क्योंकि अचेतन एवं अतार्किक विचारधारा ही सभी युद्धों को जन्म […]

  • सफल जीवन की एक नई राह बनाएं

    व्यक्ति अपने जीवन को सफल और सार्थक बनाने के लिये समाज से जुड़कर जीता है, इसलिए समाज की आंखों से वह अपने आप को देखता है। साथ ही उसमें यह विवेक बोध भी जागृत रहता है ‘मैं जो भी हूं, जैसा भी हूं’ इसका मैं स्वयं जिम्मेदार हूं। उसके अच्छे बुरे चरित्र का बिम्ब समाज […]

  • अतीत के खंडहर और भविष्य के हवा महल से निकलने की ज़रुरत

    अभी के दौर में आर्थिक शब्दावली कुछ ज्यादा ही चलन में है, लिहाजा जीवन मूल्यों को भी आयात-निर्यात की नजर से देखा जाने लगा है। लेकिन भारत ने अपने मूल्य न तो अभी तक किसी पर थोपे हैं, न ही उनका निर्यात किया है। इनमें से जो भी दुनिया को अपने काम का लगता है, […]

  • आभूषण और पोशाक कश्मीर के गर्व

    अपनी नैसर्गिक और अगाध खूबसूरती के लिए कश्मीर की वादियों का कवियों और गायकों ने भरपूर चित्रण किया है जिन्होंने इसे विभिन्न रस्मों, संस्कृतियों और जीने के तरीके का एक खुशनुमा स्थान बताया है। यहां की जमीन और लोगों की आत्मसात करने वाली प्रवृत्तियों ने जीवन का एक अनूठा दर्शन पैदा किया है जिसमें हर […]

  • हार का डर

    आज हमारी समाज के समक्ष बहुत सारी  समस्याएं  हैं, और ये समस्याएं ख़त्म होने की जगह,  दिन दूनी रात चौगिनी बढ़ रही है. और कहीं ऐसा न हो की इन समस्याओं के कारण आगे आने वाली पीढ़ियां इन सबके कारण कहीं खो जाएँ।   उन्ही समस्याओं में से एक बहुत बड़ी समस्या है  " हार […]

  • आभूषण और पोशाक कश्मीर के गर्व

    अपनी नैसर्गिक और अगाध खूबसूरती के लिए कश्मीर की वादियों का कवियों और गायकों ने भरपूर चित्रण किया है जिन्होंने इसे विभिन्न रस्मों, संस्कृतियों और जीने के तरीके का एक खुशनुमा स्थान बताया है। यहां की जमीन और लोगों की आत्मसात करने वाली प्रवृत्तियों ने जीवन का एक अनूठा दर्शन पैदा किया है जिसमें हर […]

  • हल हो सांस की आस का सवाल

    शहरी लोगों के लिए गाड़ियों से निकलने वाला प्रदूषण, उद्योगों से निकलने वाला प्रदूषण, सिगरेट का धुंआ इत्यादि तो प्रभावित हो ही रहा है, साथ ही घर व कार्यालयों के अंदर वायु प्रदूषण से बच्चे और वयस्क तेजी से गिरफ्त में आ रहे हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय से संबंद्ध डा. वल्लभ भाई पटेल चेस्ट इंस्टीट्यूट की […]

  • व्यवहार कौशल ( सॉफ्ट स्किल ) से सँवारें अपना व्यक्तित्व

    व्यावहारिक कौशल अक्सर एक व्यक्ति के अन्य लोगों के साथ संबंधों के तौर तरीके, व्यक्तित्व लक्षण, सामाजिक गौरव, संचार, भाषा, व्यक्तिगत आदतों, मित्रता और आशावाद के साथ जुड़ा शब्द है। साफ्ट स्किल एक नौकरी और कई अन्य गतिविधियों की व्यावसायिक जरूरत को पूरा करती हैं। व्यवहार कुशलता से आपकी तकनीकी दक्षता में चार चाँद लग […]

  • प्रभावशाली जन-सम्बोधन की कला सिखाएंगे डॉ.चन्द्रकुमार जैन

    राजनांदगांव। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में अच्छा बोलने की बढ़ती महत्ता के मद्देनज़र आयोजित एक विशिष्ट प्रसंग में,शहर के जाने-माने वक्ता,लेखक और  दिग्विजय कालेज के हिन्दी विभाग के प्राध्यापक डॉ.चन्द्रकुमार जैन ख़ास मार्गदर्शन देंगे। मार्च के पहले सप्ताह में गोंदिया ( महाराष्ट्र ) में डॉ.जैन 'इमेज बिल्डिंग थ्रू इफेक्टिव पब्लिक स्पीकिंग' पावर प्वाइंट प्रेसेंटेशन के […]

  • जन्म दिन पर मोमबत्तियाँ बुझाना अशुभ ही नहीं घातक भी

    जन्म दिन  या किसी दूसरे मौके पर काटे जाने वाले केक पर सजीं मोमबत्तियों को फूंक मारकर बुझाना आपको भारी पड़ सकता है। सरकार इस पर पाबंदी लगाने के बारे में सोच रही है। मकसद है इसके कारण फैलने वाले इन्फेक्शन को रोकना। राज्यसभा में  एक सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद […]

  • Page 3 of 3
    1 2 3

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top

Page 3 of 3
1 2 3