आप यहाँ है :

मीडिया की दुनिया से
 

  • तो जल्द ही अभिजात्य वर्ग की गिरफ्त में होगी पत्रकारिता भी….!!

    क्या गीत – संगीत व कला से लेकर राजनीति के बाद अब लेखन  व पत्रकारिता के क्षेत्र में भी जल्द ही  ताकतवर अभिजात्य  वर्ग का कब्जा होने वाला है। क्या बड़े – बड़े लिक्खाड़ इस वर्ग के पीछे वैसे ही घूमते रहने को मजबूर होंगे , जैसा राजनीति के क्षेत्र में देखने को  मिलता है। […]

  • जानिए उस साइट के बारे में जिस पर मोदी ने बनाया है अकाउंट

    चाइना की यात्रा पर जाने से पहले पीएम मोदी ने वहां की बेहद प्रसिद्ध सोशल नेटवर्किंग साइट वेइबो पर आमद दर्ज कराई और चाइनीज में मैसेज लिखा। इसके बाद से लगातार भारत के लोग इस वेबसाइट में जानने की कोशिश कर रहे हैं। चलिए हम आपको बताते हैं इस वेबसाइट से जुड़े कुछ बेहद खास […]

  • भारतीय मीडिया वालों को भगाना चाहते हैं नेपाली भाई

    जिस दिन लाजो लश्कर के साथ भारतीय चैनल काठमांडू पहुँचे थे तभी मैने फेसबुक पर उनकी संवेदनहीन रिपोर्टिंग की कड़ी आलोचना की थी, अब तो नेपाल को भी कहना पड़ा–‪#‎GoHomeIndianMedia‬ , ‪#‎DontComeBackIndianMedia‬ ____________ रविवार को पूरे दिन टि्वटर पर #GoHomeIndianMedia ट्रेंड करता रहा। इसमें इस हैशटैग के साथ भारतीय मीडिया पर असंवेदनशील रिपोर्टिंग का आरोप […]

  • पाँच पैसे रोज में मच्छरों से छुटकारा पाईये!

    भारत में जन्मे ब्रिटिश डॉक्टर सर रॉनल्ड रॉस को 1902 में मच्छरों द्वारा फैलाए जाने वाले मलेरिया के परजीवी की खोज के लिए नोबेल पुरस्कार प्राप्त हुआ था। इससे मलेरिया से लड़ने का आधार तैयार हुआ। अब लगभग 113 साल बाद एक अन्य भारतीय इग्नेशियस ऑरविन नरोन्हा भारत को 2019 तक मलेरिया से मुक्त करने […]

  • मुंबई प्रेस क्लब के समारोह में मीडिया पर मंथन

    मुंबई प्रेस क्‍लब के तत्‍वावधान में आयोजित रेड इंक पुरस्कार समारोह में पत्रकारों को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय योगदान और उनकी विशेष रिपोर्ट के लिए पुरस्‍कार भी प्रदान किए गए। इस अवसर पर असहमति की सीमा विषय पर एक चर्चा भी आयोजित की गई।  मिड डे  के संपादक सचिन कलबाग के नेतृत्‍व में  केंद्रीय […]

  • रेल की पटरियों पर चलता है ये ट्रेक्टर

    महू-इंदौर ब्रॉडगैज कन्वर्जन के चलते ट्रैक को मजबूती देने तथा सेट करने के लिए गिट्‌टी डालने का सिलसिला चालू हो गया है। इसके चलते एक जुगाड़ वाहन (रेलवे की भाषा) को उपयोग में लिया जा रहा है जो दिनभर इस पर दौड़कर पटरियों के आसपास गिट्‌टी डालने लगा है। महू-इंदौर के बीच 21 किमी के […]

  • भारत – भाषा प्रहरी बालेन्दु शर्मा दाधीच

    ‘वैश्विक हिंदी सम्मेलन’ द्वारा गोवा की राज्यपाल माननीय श्रीमती मृदुला सिन्हा के हाथों ‘सम्मान’  वाणिज्य-व्यापार या ज्ञान-विज्ञान आदि के विभिन्न क्षेत्र, जहाँ से भारतीय भाषाओं का  आधार खिसक रहा है। वहाँ भी अक्सर यह देखने में आया है कि जब इन क्षेत्रों में  हिंदी  व भारतीय भाषाओं के प्रयोग की बात आती है तो भी […]

  • ऐसी चिठ्ठियाँ लिखते थे मनमोहन सिंह

    प्रधानमंत्री रहते हुए मनमोहन सिंह ने निजी तौर पर जामा मस्जिद के शाही इमाम को पत्र लिखा था और उन्हें यह भरोसा दिया था कि मुगलकालीन मस्जिद को संरक्षित स्मारक का दर्जा नहीं दिया जाएगा। यह जानकारी आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की ओर से दिल्ली हाई कोर्ट में दिए गए एक पत्र से सामने आई […]

  • महिलाओं के इशारे पर भी चल रही है भारतीय रेलें

    कभी घर की चौखट से बाहर नहीं निकलने वाली महिलाएं अब भारतीय रेल का चक्का दौड़ाने में बढ़चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं। फौलादी रेल पटरियों की मरम्मत, टिकट चेकिंग, मालगाड़ी का गार्ड, स्टेशन मास्टर और गेटमैन जैसे जो कार्य पहले रेलवे में सिर्फ पुरुषों के ही बस के माने जाते थे, अब महिलाएं भी […]

  • मोदी राज में तो हि्न्दी की और दुर्गति कर दी सरकारी बाबुओं ने

    जब नवभारत टाइम्स में एक सरकारी विज्ञापन देखा तो अचानक पाक्षिक पत्रिका सरिता की याद आ गई। तब मैं उसी संस्थान में था। एक बार रिपोर्टिंग के लिए इलाहाबाद गया था। वहां एक अधिकारी ने मेरी काफी आवभगत की और बातों ही बातों में कहने लगा कि भई मान गए। सरिता तो एकदम लाइफब्वाय साबुन […]

Back to Top