Tuesday, April 16, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिमुंबई अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह के वृत्‍तचित्र फिल्म बाजार में प्रविष्टियां जमा कराने...

मुंबई अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह के वृत्‍तचित्र फिल्म बाजार में प्रविष्टियां जमा कराने की समय सीमा 10 अप्रैल तक बढ़ाई गई

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने 18वें मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (एमआईएफएफ) के साथ आयोजित होने वाले पहले वृत्‍तचित्र फिल्म बाजार के लिए परियोजनाओं की प्रस्तुति तिथियों के विस्तार की घोषणा की है। देश के भौगोलिक रूप से दूरदराज के क्षेत्रों में काम करने वाले फिल्म निर्माताओं द्वारा अपने प्रोजक्‍ट प्रस्तुत करने में आसानी के लिए समय सीमा, जो पहले 31 मार्च, 2024 थी, अब 10 अप्रैल, 2024 तक बढ़ा दी गई है।

यह बाज़ार 16 से 18 जून 2024 तक मुंबई में आयोजित किया जाएगा। वृत्‍तचित्र फिल्म बाज़ार का उद्देश्य फिल्म निर्माण, उत्पादन और वितरण में प्रतिभा दिखाने वाली डॉक्यूमेंट्री, लघु फिल्मों और एनीमेशन सामग्री को बढ़ावा देने और सहयोग करने के लिए तैयार किया गया अपनी तरह का पहला व्यापक मंच बनना है।

वृत्‍तचित्र फिल्म बाजार के प्रमुख खंडों में वृत्‍तचित्र को-प्रोडक्शन मार्केट (वृत्‍तचित्र सीपीएम), वृत्‍तचित्र व्यूइंग रूम (वृत्‍तचित्र वीआर) और वृत्‍तचित्र वर्क-इन-प्रोग्रेस लैब (वृत्‍तचित्र डब्ल्यूआईपी) शामिल हैं, जिसके लिए फिल्म निर्माताओं को अपनी फिल्में जमा करने के लिए आमंत्रित किया जाता है। वृत्‍तचित्र को-प्रोडक्शन मार्केट (सीपीएम) एक ऐसा मंच है जिसे विशेष रूप से वैश्विक फिल्म बिरादरी से कलात्मक और वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए तैयार किया गया है। यह विश्व स्तर पर फिल्म निर्माताओं और संभावित निर्माताओं या सह-निर्माताओं के बीच साझेदारी को सुविधाजनक बनाने वाला एक खंड है। यह वृत्तचित्र और एनीमेशन फिल्म परियोजनाओं के लिए सहयोग, सह-निर्माण और वित्त पोषण के अवसरों के लिए एक मंच प्रदान करता है।

फिल्म निर्माता अपने प्रोजेक्‍ट को आगे बढ़ा सकते हैं और घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोनों स्तरों से वित्तीय सहायता और सहयोग के रास्ते तलाश सकते हैं। वृत्‍तचित्र को-प्रोडक्शन मार्केट से चयनित परियोजनाओं को ओपन पिच सत्र में अपने प्रोजेक्ट को पेश करने का अवसर मिलेगा और साथ ही उत्पादकों, वितरकों और फाइनेंसरों के साथ वन-टू-वन बैठकें करने के लिए एक समर्पित स्थान मिलेगा। व्यूइंग रूम (वीआर) फिल्म निर्माताओं के लिए अपनी डॉक्यूमेंट्री, शॉर्ट्स और एनीमेशन फिल्म प्रदर्शित करने का एक मंच है। यह एक प्रतिबंधित स्थान है जहां पंजीकृत प्रतिनिधियों को फिल्मों के क्यूरेटेड चयन को देखने की अनुमति दी जाती है और यह मंच विश्व बिक्री, वितरण भागीदारों, सह-निर्माताओं, समापन निधि और फिल्म समारोहों में स्क्रीनिंग की मांग करने वाली फिल्मों के लिए आदर्श है।

वर्क-इन-प्रोग्रेस लैब (डब्ल्यूआईपी) रफ-कट चरण में फिल्मों के लिए एक बंद दरवाजे वाली लैब है जहां चयनित प्रोजेक्‍ट प्रतिनिधियों को सलाह, फीडबैक और उद्योग के पेशेवरों के साथ बातचीत करने का अवसर मिलता है। प्रयोगशाला केवल 30 मिनट से अधिक की डॉक्यूमेंट्री और एनीमेशन फिल्मों के लिए खुली है। एकमात्र मानदंड यह है कि प्रस्तुत की जाने वाली फिल्म अपने रफ-कट चरण में या अंतिम संपादन से ठीक पहले होनी चाहिए और फिल्म को डीआई या अंतिम ध्वनि डिजाइन जैसी पोस्ट-प्रोडक्शन प्रक्रियाओं के साथ शुरू नहीं किया जाना चाहिए।

पहल के बारे में, संयुक्त सचिव (फिल्म) और एमडी, एनएफडीसी, श्री पृथुल कुमार ने कहा, “वृत्‍तचित्र फिल्म बाजार का मुख्य फोकस अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वास्तविक और सम्मोहक कहानियों को प्रदर्शित करने वाले अवसरों तक पहुंच प्रदान करना है। यह मंच फिल्म निर्माताओं को मौजूदा रुझानों, बाजार की मांग, वितरण रणनीतियों और दर्शकों की प्राथमिकताओं के बारे में मूल्यवान विस्‍तृत जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा।” वृत्‍तचित्र फिल्म बाज़ार चयनित प्रोजेक्‍ट को उद्योग के विशेषज्ञों और अनुभवी फिल्म निर्माताओं से मूल्यवान प्रतिक्रिया, विस्‍तृत जानकारी और सुझाव प्राप्त करने में सक्षम बनाएगा, जबकि उन्हें सहयोगियों को ढूंढने का बहुत जरूरी अवसर प्रदान करेगा जो उनकी फिल्में खरीद सकते हैं या प्रोजेक्‍ट को पूरा करने में उनकी मदद कर सकते हैं। ”

जमा कराने की प्रक्रिया पर अधिक विवरण एमआईएफएफ की वेबसाइट www.miff.in पर उपलब्ध है।

 

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार