आप यहाँ है :

मुख्यमंत्री द्वारा डॉ. चन्द्रकुमार जैन को यूएनओ और श्री रामचंद्र मिशन का सम्मान दूसरी बार

राजनांदगाँव । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने दिग्विजय कॉलेज के हिंदी विभाग के प्राध्यापक डॉ. चन्द्रकुमार जैन को सर्वश्रेष्ठ समन्वय का दूसरा श्री रामचन्द्र मिशन सम्मान प्रदान किया । डॉ. जैन इस सृजनात्मक लेखन कार्यक्रम का अब तक अपनी सेवा के दौरान दस बार संयोजन कर चुके हैं । इस वर्ष संस्थागत सम्मान प्राचार्य डॉ. आर.एन. सिंह सिंह को प्रदान किया गया । साथ छत्तीसगढ़ राज्य में प्रथम दस में सर्वाधिक पाँच पुरस्कार दिग्विजय कालेज के होनहारों को मिला । इनमें रिंकी साहू, साक्षी शुक्ला, नावेश चंद्र साहू, प्रतिमा निषाद और सुमृति ठाकुर शामिल हैं ।

उल्लेखनीय है कि सृजनात्मक कार्यों तथा अभिव्यक्ति कला में अपनी विशिष्ट पहचान से छत्तीसगढ़ राज्य का सतत गौरववर्द्धन कर करते हुए पूर्व में राष्ट्रपति डॉ. कलाम द्वारा पुरस्कृत डॉ. चन्द्रकुमार जैन को यह सम्मान भारत और भूटान संयुक्त राष्ट्र सूचना के केंद्र तथा श्री रामचन्द्र मिशन द्वारा उच्च शिक्षण संस्थानों के लिए आयोजित अखिल भारतीय निबंध लेखन कार्यक्रम के सर्वश्रेष्ठ समन्वय एवं उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया गया है । गत वर्ष भी मिशन ने इस पुरस्कार के लिए डॉ. जैन का चयन किया था । तब पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह द्वारा डॉ. जैन सम्मानित हुए थे ।

उल्लेखनीय है कि लेखन और अभिव्यक्ति कला के विविध आयामों में अविस्मरणीय सहभागिता व सेवाओं से अति विशिष्ट ख्याति अर्जित कर डॉ. चन्द्रकुमार जैन सामाजिक-सांस्कृतिक कर्मक्षेत्र के साथ-साथ दिग्विजय कालेज के होनहारों को भी प्रतिभा परिष्कार के लिए लगातार प्रेरित व प्रोत्साहित कर रहे हैं । उनके प्रयासों को देश की अनेक प्रतिष्ठित सामाजिक संस्थाओं ने संस्तुत व अलंकृत भी किया है । संस्था के प्राचार्य डॉ. आर.एन. सिंह ने संस्थागत सम्मान सहित सतत अभिप्रेरण पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मिशन का आभार माना और बेस्ट कोआर्डिनेशन के लिए डॉ. जैन को शुभकामना दी है । महाविद्यालय परिवार ने खुशी जाहिर की है ।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top