आप यहाँ है :

मुंबई में मांझे को लेकर पुलिस सख्त, पतंग पर पहरा !

पतंग में मांझे के उपयोग पर इस बार पुलिस सख्त, सरकारी आदेश का पालन होगा

मुंबई, 11 जनवरी। मुंबई पुलिस इस बार पतंग उड़ाने में लगनेवाले मांझा को लेकर सख्त हो रही है। जॉइंट पुलिस कमिश्नर देवेन भारती ने आश्वस्त किया है कि मांझे पर प्रतिबंध को लेकर पुलिस शीघ्र ही आदेश जारी करेगी। विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा की अगुवाई में जैन शक्ति फाउंडेशन एवं विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधि मंडल को भारती ने यह विश्वास दिलाया। महाराष्ट्र सरकार ने भी एक आदेश में नायलॉन मांझा धागे को मानव जीवन एवं पक्षियों के लिए हानिकारक बताते हुए इसे प्रतिबंधित करने का आदेश दिया है। उसी आदेश की पालना में पुलिस सख्त कारवाई करेगी।

मुंबई की कानून व्यवस्था से संबदध् जॉइंट पुलिस कमिश्नर देवेन भारती को जैन शक्ति फाउंडेशन ने एक ज्ञापन देकर मांग की कि महाराष्ट्र सरकार ने पतंग उडाने में नायलॉन, कांच एवं जिंक मांझे को प्रतिबंधित कर रखा है। इस बारे में भारती को ज्ञापन के साथ सरकार के आदेश की प्रति भी सौंपी गई। विधायक लोढ़ा के साथ इस प्रतिनिधि मंडल में जैन शक्ति फाउंडेशन के कनक परमार सहित विभिन्न संस्थाओं से जुड़े नरेंद्र भंडारी, ललित जैन, शैलेश चोवटिया, राजेश संघवी, रमेश शाह, डॉ. विनोद कोठारी आदि कई प्रमुख लोग भी थे। जॉइंट पुलिस कमिश्नर भारती ने इस प्रतिनिधि मंडल को आश्वस्त किया कि वे तत्काल आदेश जारी करके सभी पुलिस थानों में निर्देश दे रहे हैं कि पतंग में प्रतिबंधित मांझे का उपयोग करनेवालों पर सख्त कारवाई की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि मकर संक्रांति के मौके पर बड़ी संख्या में पतंग उडाई जाती है। जिनमें मांझे का धड़ल्ले से उपयोग होता है। इस मांझे से प्रदेश भर में हर साल लाखों की संख्या में पक्षी मांझे के कारण मौत के शिकार होते हैं। साथ ही तार पर लटकत मांझे से सड़क चलते लोग भी दुर्घटना के शिकार होते हैं। इस मांझे से किसी का गला कटता है, तो किसी का कान कटता है। इसी कारण जनहित में विधायक लोढ़ा ने जैन शक्ति फाउंडेशन एवं अन्य संस्थाओं के साथ जॉइंट पुलिस कमिश्नर से मिलकर ने मांझे पर सरकार के आदेश को सख्ती से लागू करने की मांग की है।



सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top