ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

आपदा को अवसर में बदला पश्चिम रेलवे ने

मुंबई।

कोरोना वायरस महामारी लॉकडाउन के कारण एक तरफ जहां ज़िंदगी ठहर सी गई है, वहीं पश्चिम रेलवे अपनी आधारभूत संरचनाओं को सुदृढ़ बनाने का कार्य निरंतर जारी रखे हुए है। उल्लेखनीय है कि वैश्विक महामारी की आपदा की विकट परिस्थिति को भी पश्चिम रेलवे द्वारा एक अवसर के रूप में परिवर्तित किया गया और लॉकडाउन की स्थिति का सदुपयोग करते हुए पश्चिम रेलवे ने मुंबई उपनगरीय खंड पर 3 पैदल ऊपरी पुलों और एक स्काईवॉक का निर्माण किया तथा एक सड़क ऊपरी पुल के मरम्मत का कार्य पूर्ण किया है।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार अंधेरी (उत्तर एमसीजीएम पैदल ऊपरी पुल), अंधेरी (दक्षिण पैदल ऊपरी पुल), मरीन लाइन्स (उत्तर पैदल ऊपरी पुल) तथा मालाड स्काईवॉक का निर्माण कार्य और वसई रोड नालासोपारा (पुराने आर ओ बी) का मरम्मत कार्य लॉकडाउन के दौरान पूरा हुआ। अंधेरी (साउथ एफ ओ बी), प्लेटफॉर्म नं.8/9, 6/7 तथा वेस्ट साइड को कनेक्ट करता है। इस 92 मीटर लम्बाई तथा 6 मीटर चौड़ाई की मापवाले एफओबी का निर्माण कार्य 30 जून, 2020 को पूरा किया गया। 44 मीटर लम्बाई तथा 6 मीटर चौड़ाई वाला मरीन लाइंस (एफ ओ बी) (नॉर्थ एफ ओ बी) प्लेटफॉर्म संख्या 1, 2, 3 और 4 को कनेक्ट करता है। इसका निर्माण कार्य 24 अप्रैल, 2020 को पूरा हुआ। 141 मीटर लम्बाई तथा 6 मीटर चौड़ाई वाला मालाड एमसीजीएम स्काईवॉक स्टेशन को एमसीजीएम एफओबी से कनेक्ट करता है। इसका निर्माण कार्य 9 मई, 2020 को पूरा हुआ। पूर्व – पश्चिम की बेहतर कनेक्टिविटी के लिए 84.7 मीटर लम्बाई तथा 8 मीटर चौड़ाई वाले वसई रोड – नालासोपारा (पुराना आर ओ बी) की मरम्मत की गई जिसका कार्य 7 मई 2020 को पूरा किया गया।

श्री ठाकुर ने कहा कि 30 जुलाई, 2020 को पूरी की गई परियोजना अंधेरी – जोगेश्वरी के बीच स्थित उत्तर एमसीजीएम एफओबी है। अंधेरी (पश्चिम) में मस्जिद गली से होकर एस वी रोड पश्चिम की ओर अंधेरी स्टेशन से मेट्रो स्टेशन की तरफ जाने वाले पूर्व को जोड़ने वाले एमसीजीएम स्काईवॉक के एफ ओ बी के भाग का कार्य पश्चिम रेलवे के सर्वे एवं निर्माण विभाग के उप मुख्य इंजीनियर (निर्माण II) के यूनिट द्वारा पूरा किया गया है। यह एफ ओ बी अंधेरी (पूर्व) मस्जिद क्षेत्र से अंधेरी (पश्चिम) मेट्रो स्टेशन पहुॅंचने के लिए लोगों के आवागमन तथा मुंबई सेंट्रल और बोरीवली के बीच छठी लाइन परियोजना के लिए भी उपयोगी रहेगा।

अंधेरी (उत्तर एमसीजीएम एफओबी) पुल 40 मीटर लम्बाई और 6 मीटर चौड़ाई वाला है, जो रेलवे की सभी पटरियों को पार कर अंधेरी पूर्व से पश्चिम को जोड़ता है। पैदल ऊपरी पुल का कार्य 10 मार्च, 2019 को शुरू किया गया और जनता के उपयोग के लिए लॉकडाउन के दौरान युद्ध स्तर पर पूरा किया गया। बड़ी बाधा रनिंग लाइनों के बीच पैदल ऊपरी पुल की नींव का निर्माण करना और केबलों, लोकेशन बॉक्स, उपरी उपस्कर और पोर्टल आदि को शिफ्ट करना था। इसके अलावा, गर्डरों को लॉन्च करने के लिए 220 टन क्षमता वाली हाइड्रोलिक क्रेन की आवाजाही के लिए पहुॅंच मार्ग उपलब्ध नहीं था, इसलिए अंधेरी सबवे से 500 मीटर की दूरी पर लोकेशन साइट पर ट्रैक पर पहुॅंच मार्ग बनाया गया और गर्डर की लॉन्चिंग निर्धारित अवधि के अंदर एवं सीमित क्षेत्र में आस पास के मेट्रो पुल पर किसी भी प्रकार की गड़बड़ी के बिना की गई। कोरोना वायरस महामारी लॉकडाउन के दौरान सीमित उपलब्ध कर्मचारियों के साथ विभिन्न इन्फ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं को पूरा करने के लिए पश्चिम रेलवे के सभी प्रयास वास्तव में उल्लेखनीय है

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top