Tuesday, April 16, 2024
spot_img
Homeखबरेंभारतीय नौसेना ने अदन की खाड़ी में हूती हमले से एक और...

भारतीय नौसेना ने अदन की खाड़ी में हूती हमले से एक और मालवाहक जहाज को बचाया

एक बड़ी सफलता में भारतीय नौसेना ने अदन की खाड़ी में हूती हमले से एक और मालवाहक जहाज को बचाया लिया है। जहाज पर हूती विद्रोहियों ने मिसाइल से हमला किया था, जिससे जहाज पर भीषण आग लग गई थी। भारतीय नौसेना ने हमले की सूचना पर तुरंत मौके पर पहुंचकर जहाज को बचाया। कई घंटे की मशक्कत के बाद जहाज पर लगी आग पर काबू पाया जा सका।

ब्रिटिश व्यापारिक जहाज मार्लिन लाउंडा पर शनिवार को अदन की खाड़ी से गुजरते हुए हूती विद्रोहियों ने मिसाइल हमला किया था। इस हमले के चलते जहाज पर आग लग गई थी। जहाज के चालक दल में 22 भारतीय और बांग्लादेशी नागरिक शामिल है। हमले के बाद जहाज के क्रू ने भारतीय नौसेना से मदद मांगी। इस पर नौसेना ने अपना युद्धक जहाज आईएनएस विशाखापत्तनम को ब्रिटिश व्यापारिक जहाज को मदद के लिए रवाना किया। नौसेना ने बयान जारी कर बताया कि 10 फायर फाइटर्स की एक टीम ने जहाज पर लगी आग को करीब छह घंटे में कंट्रोल कर लिया। जहाज पर नौसेना के कर्मी मौजूद हैं और स्थिति का जायजा ले रहे हैं कि कहीं फिर से तो आग भड़कने की आशंका नहीं है। नौसेना ने बताया कि अमेरिका और फ्रांस के युद्धक जहाजों को भी ब्रिटिश जहाज के चालक दल ने मदद के लिए फोन किया था, जिस पर उन्होंने प्रतिक्रिया भी दी।

ब्रिटिश व्यापारिक जहाज के कप्तान ने भारतीय नौसेना को धन्यवाद कहा है। उन्होंने कहा कि ‘हमने इस भीषण आग से लड़ने की उम्मीद छोड़ दी थी, लेकिन भारतीय नौसेना के जज्बे को सलाम है जिन्होंने इस भीषण आग पर काबू पाया। भारतीय नौसेना ने उम्मीद से बढ़कर हमारी मदद की।’

यूएस सेंट्रल कमांड (CENTCOM) ने बताया कि मार्लिन लाउंडा ब्रिटिश कंपनी का जहाज था, जिस पर यमन के हूती विद्रोहियों मिसाइल से हमला किया था। इस्राइल हमास युद्ध के बाद से हूती विद्रोही लगातार लाल सागर और अदन की खाड़ी में व्यापारिक जहाजों को निशाना बना रहे हैं। यही वजह है कि भारतीय नौसेना समेत अमेरिका और कई अन्य देशों की नौसेनाएं अरब सागर, अदन की खाड़ी में पेट्रोलिंग कर रही हैं।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार