आप यहाँ है :

यात्रियों की अधिक सुविधा के लिए लगे तेज गति वाले पंखे

फोटो कैप्शन: पश्चिम रेलवे के मुंबई सेंट्रल एवं चर्चगेट स्टेशनों पर स्थापित हाई-वॉल्यूम लो स्पीड (HVLS) पंखों के दृश्य।

पश्चिम रेलवे ने रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों की सुविधा बढ़ाने के लिए कई उल्लेखनीय कदम उठाये हैं। इस दिशा में एक और अभिनव पहल के रूप में हाई वॉल्यूम लो स्पीड (HVLS) पंखों का प्रावधान किया गया है, जो न केवल बेहतर वेंटिलेशन और बेहतर कूलिंग अनुभव प्रदान करते हैैं, बल्कि यह एक बहुत ही लागत प्रभावी पहल भी है।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्‍पर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार यात्रियों की सुविधा के लिए, वर्ष 2020-2021 के दौरान मुंबई उपनगरीय खंड पर 13 हाई वॉल्यूम लो स्पीड (HVLS) पंखे लगाए गए हैं। इनमें से पाँच पंखे चर्चगेट स्टेशन के कॉनकोर्स एरिया में और आठ पंखे मुंबई सेंट्रल स्टेशन पर लगाये गये हैं। अब तक ऐसे कुल 34 एचवीएलएस पंखे पश्चिम रेलवे के विभिन्न उपनगरीय स्टेशनों पर लगाये गये हैं, जिनमें चर्चगेट (5 पंखे), मुंबई सेंट्रल (10 पंखे), बांद्रा टर्मिनस (2 पंखे), अंधेरी (5 पंखे), जोगेश्वरी (4 पंखे), गोरेगांव (3 पंखे) और बोरीवली (5 पंखे) शामिल हैं। पश्चिम रेलवे ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंत तक ऐसे 20 और पंखे लगाने का लक्ष्य रखा है। श्री ठाकुर ने बताया कि इन एचवीएलएस पंखों के किफायती होने के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के अन्य लाभ भी हैं।

ये पंखे हवा को व्यापक क्षेत्र में समान रूप से वितरित करते हैं। ये 1.2 किलोवाट की मोटर क्षमता के उच्च प्रदर्शन वाले पंखे हैं, जिनसे प्रत्येक 200 वाट के 20 एयर सर्कुलेटर को सीधे बदल दिया गया है। साथ ही इन पंखों का वायु प्रवाह 3 लाख क्यूबिक फीट प्रति मिनट (सीएफएम) से ऊपर है और इसमें बिजली की खपत कम होती है। इसके एयर सर्कुलेटरों के परिणामस्वरूप शोर काफी कम होता है और ऊर्जा की बचत भी होती है।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top