Friday, July 19, 2024
spot_img
Homeजियो तो ऐसे जियोमनोरंजन और तनाव मुक्त रखने के लिए हॉस्टल संचालक की प्रेरक पहल

मनोरंजन और तनाव मुक्त रखने के लिए हॉस्टल संचालक की प्रेरक पहल

कोटा / कोचिंग सिटी में जब स्टूडेंट द्वारा आत्महत्या करने का वातावरण बनने लगा और प्रशासन बैठकें कर स्टूडेंट को तनाव मुक्त करने और आत्महत्या की घटनाओं को रोकने के लिए निर्देश दे कर उपाय करने को कह रहा है। ऐसे में दो हॉस्टल संचालक महावीर और शिव रतन शर्मा ने 75 छात्र – छात्राओं को दो दिन के कार्यक्रम में एक दिन गेपरनाथ और दूसरे दिन गरडिया महादेव का भ्रमण करा कर पूर्ण मनोरंजन कराया।

इस कार्यक्रम के पीछे उनकी सोच थी की बच्चें माहोल सुन सुन कर परेशान हो रहे थे , उनका मूड चेंज करने और मनोरंजन के लिए यह आयोजन किया गया। जवाहर नगर के एक हॉस्टल के 25 छात्रों को गेपरनाथ और चंबल गार्डन की तफरी कराई। लैंडमार्क हास्टल की 50 छात्राओं को गरडिया महादेव ले जाया गया। स्टूडेंट्स को बस द्वारा ले जाया गया, रास्ते में कोल्ड ड्रिंक, स्पॉट पर अच्छा नाश्ता और शाम का भोजन तथा मनोरंजन के लिए छोटे – छोटे खेल भी खिलाए गए। यह सब हॉस्टल की ओर से निशुल्क किया गया जो अन्य संचालकों के लिए अनुकरणीय है।

गरडिया महादेव भ्रमण पर जाने वाली छात्राओं ने बताया उन्हें बंद-बंद माहोल से खुले में जाना बहुत अच्छा लगा। बेगुसरा से पढ़ने आई अनुष्का भारती ने बताया हॉस्टल से बाहर निकलते ही बड़ी – बड़ी बिल्डिंड्स में घुटा – घुटा सा लगता है। घूमने गए तो नदी और जंगल के खुले माहोल में बहुत राहत महसूस की। सबने खूब मस्ती की। मुरादाबाद आरुषि यादव ने बताया हमने लंगूरों के साथ खूब फोटो लिए। वहां का प्राकृतिक दृश्य इतना खूबसूरत है की बस देखते ही रहो। हमने वहां रिंग फेंकने आदि खेलों का भी मजा लिया।

उज्जैन की आस्था धाकड़ ने बताया की नाश्ता इतना मजेदार था की घूमने का आनंद दुगुना हो गया। बक्सर अंकिता राजसिंह ने इस कार्यक्रम को पढ़ाई की दृष्टि से बहुत अच्छा बताया और कहा कि ऐसे आयोजन होते रहे तो तो मूड फ्रेस होता है और पढ़ाई में मन भी लगता है। खूब मनोरंजन और मस्ती कर खुले समय बीता कर सभी प्रफुल्लित थे।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार