Thursday, February 22, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिफिल्मी हस्तियों द्वारा अटलजी की कविताओं के गायन से मनेगा अटलजी का...

फिल्मी हस्तियों द्वारा अटलजी की कविताओं के गायन से मनेगा अटलजी का जन्मदिन

मुंबई। पूर्व प्रधानमंत्री भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर प्रति वर्ष होनेवाला अटल गीत गंगा का कार्यक्रम अब की बार 30 दिसम्बर को मुंबई में आयोजित किया गया है। पिछले 8 वर्षों से दीप कमल फाउंडेशन द्वारा आयोजित किये जानेवाले अटल गीत गंगा के इस आयोजन मेें फ़िल्मी हस्तियां अटल जी की कविताओं का पाठ करती हैं।

दीप कमल फाउंडेशन के अध्यक्ष व मुंबई भाजपा के महामंत्री अमरजीत मिश्र ने बताया कि शनिवार शाम 6 बजे से मालाड पश्चिम के डी जी खेतान स्कूल सभागृह में होनेवाले इस समारोह की अध्यक्षता सुप्रसिद्ध शास्त्रीय संगीतज्ञ पद्मश्री डॉ सोमा घोष करेंगी। इस अवसर पर मॉरीशस के रामायण सेंटर के अध्यक्ष पंडित राजेंद्र अरुण का सम्मान किया जायेगा। फिल्म अभिनेत्री राजेश्वरी सचदेव, हिमानी शिवपुरी, अभिनेता अमित बहल व दयाशंकर पांडेय के साथ ही फ़िल्म गीतकार मदन पाल और कवियित्री ज्योति त्रिपाठी आदि अटलजी की कविताओं का पाठ करेंगे। इस वर्ष लखनऊ में अटल गीत गंगा का कार्यक्रम करने के बाद दीप कमल फाउंडेशन द्वारा अब इसी तरह का कार्यक्रम शनिवार को मुंबई में किया जा रहा है। फाउंडेशन के पदाधिकारी कार्यक्रम की तैयारी में जुटे हुए हैं।

विभिन्न भाषाओँ में अनुवाद करने का यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने किया आग्रह:

उल्लेखनीय है कि दीप कमल फाउंडेशन ने लखनऊ में अटल के जन्मदिन पर आयोजन किया था। उत्तरप्रदेश के राजभवन को जन भवन बनानेवाले राज्यपाल राम नाईक व उत्तरप्रदेश के करिश्माई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री के नॉएडा के समारोह से सीधे इस समारोह में पहुंचे और इत्मिनान से इस समारोह में बैठे व लोगों का मार्गदर्शन किया। मुख्यमंत्री योगी ने अटल जी की कविताओं को विभिन्न भाषाओँ में अनुवाद कराने का आग्रह फाउंडेशन के अध्यक्ष अमरजीत मिश्र से किया।

श्री योगी ने कहा कि अटलजी का मानना था कि देश के विकास का केन्द्र बिन्दु ग्रामीण भारत ही हो सकता है। उन्होंने अपने प्रधानमंत्रित्व कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना को मूर्तरूप दिया, जिसके कारण देश की ग्रामीण आबादी को पक्के मार्गों से जोड़ा गया।श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के साथ सार्वजनिक जीवन में सहभागी होने और संसद में कार्य करने का सौभाग्य मिला है। अटल जी ने आजाद भारत की सही मायनों में विकास की नींव रखी और उन्होंने एक कुशल शिल्पकार के रूप में कार्य किया।

योगी ने ‘अटल गीत गंगा’ समारोह को श्री अटल जी की कर्मभूमि लखनऊ में आयोजित किए जाने पर आयोजकों को बधाई और साधुवाद दिया।

राज्यपाल श्री नाईक ने मुंबई के लोगों द्वारा लखनऊ आकर अटल जी की कविताओं का कार्यक्रम करने पर उनकी पीठ थपथपाई। उन्होंने वाजपेयी सरकार में मंत्री के नाते किये गए अपने अनुभव को भी साझा किया।डॉ रीता बहुगुणा जोशी, ब्रजेश पाठक , आशुतोष टण्डन, स्वतंत्रदेव सिंह, डॉ महेंद्र सिंह उत्तरप्रदेश के आठ कैबिनेट व राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के अलावा लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया व प्रदेश भाजपा के अनेक पदाधिकारियों के साथ लखनऊ की अटल प्रेमी जनता बड़ी संख्या में उपस्थित रही। दिनेश त्रिपाठी , एल बी सिंह व दीपक सिंह आदि ने कार्यक्रम को सफल बनाने में योगदान दिया।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार