Friday, April 19, 2024
spot_img
Homeसोशल मीडिया सेकलकत्ता हाईकोर्ट से न्यायमूर्ति के रूप में इस्तीफा देकर भाजपा में आपने...

कलकत्ता हाईकोर्ट से न्यायमूर्ति के रूप में इस्तीफा देकर भाजपा में आपने अभिजीत गंगोपाध्याय कौन हैं?

कलकत्ता उच्च न्यायालय में न्यायाधीश के रूप में अपना पद छोड़ने के तुरंत बाद, अभिजीत गंगोपाध्याय ने ऐलान किया कि वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होंगे। उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस फैसले की घोषणा करते हुए कहा कि वह आधिकारिक तौर पर 7 मार्च को पार्टी में शामिल होंगे।

62 वर्षीय अभिजीत गंगोपाध्याय जुलाई में रिटायर होने वाले थे। अपने पिछले कुछ फैसलों के लिए उन्हें सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC) पार्टी की आलोचना का सामना करना पड़ा। गंगोपाध्याय 2018 में एडिशनल न्यायाधीश के रूप में उच्च न्यायालय में शामिल हुए और जुलाई 2020 में पर्मानेंट न्यायाधीश बन गए। वकील बनने से पहले, उन्होंने पश्चिम बंगाल सिविल सेवा अधिकारी के रूप में कार्य किया।

मई 2022 में, अभिजीत गंगोपाध्याय ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को पश्चिम बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच करने का आदेश दिया था। यह मामला 2014 से 2021 तक पश्चिम बंगाल के अधिकारियों द्वारा गैर-शिक्षण और शिक्षण कर्मचारियों की नियुक्ति से जुड़ा है। कथित तौर पर, सिलेक्शन टेस्ट में असफल होने के बाद इन पदों पर नौकरी पाने के लिए उम्मीदवारों ने 15 लाख रुपये तक की रिश्वत दी थी। नियुक्तियां पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग और पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा की गई थीं।

अप्रैल 2023 में न्यायाधीश ने सीबीआई को विभिन्न विभागों में इसी तरह के अन्य संदिग्ध भर्ती घोटालों की जांच करने का निर्देश दिया। सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि ये घोटाले आपस में जुड़े हुए हैं. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी, उनकी पत्नी और माता-पिता सहित सभी कथित शिक्षण भर्ती घोटाले में संदिग्ध हैं।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार