ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

ब्रिटिश पत्रिका ने केरल की स्वास्थ्य मंत्री को दिया सम्मान

कोरोना वायरस से लड़ने में केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने जो तत्परता और कुशलता दिखाई है, उसकी तारीफ अब हर जगह हो रही है। यही वजह है कि ब्रिटिश पत्रिका ‘प्रोस्पेक्ट’ ने पूरी दुनिया में केके शैलजा को ‘टॉप थिंकर 2020’ के रूप में नामित किया है। इस मैगजीन ने World’s Top 50 Thinkers of COVID-19 Age नाम से लिस्ट निकाली, जिसमें केके शैलजा टॉप पर आई हैं। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न दूसरे नंबर पर हैं।

इस मैगजीन में दार्शनिकों, बुद्धिजीवियों, कलाकारों, वैज्ञानिकों और लेखकों को पाठकों द्वारा मतदान के आधार पर और विशेषज्ञों व संपादकों की पैनल की राय के आधार पर चुना गया है।

पत्रिका के अनुसार, इस लिस्ट को अंतिम रूप देने के लिए 20,000 से अधिक वोट डाले गए। केके शैलजा इस लिस्ट में एकमात्र भारतीय महिला हैं। इस मैगजीन ने शैलजा की प्रशंसा करते हुए लिखा, ‘साल 2018 में भी शैलजा ने केरल में फैले निपाह वायरस का डटकर सामना किया था।’

शैलजा राजनीति में आने से पहले एक शिक्षक थीं। उन्हें लोग ‘शैलजा टीचर’ भी कहते हैं। इससे पहले भी शैलजा द्वारा कोरोना को रोकने की दिशा में किए गए प्रयासों को तारीफ मिली है। ब्रिटेन के प्रतिष्ठित अखबार ‘द गार्जियन’ ने भी कोरोना काल में शैलजा द्वारा किए गए कामों की प्रशंसा की थी।

संयुक्त राष्ट्र ने COVID-19 महामारी की सीमाओं पर काम कर रहे लोक सेवकों को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में अपनी बात रखने के लिए शैलजा को आमंत्रित किया था।

जेसिंडा के बाद प्रोस्पेक्ट की लिस्ट में फ्रेंच इकोनॉमिस्ट और नोबल प्राइज वीनर एस्थर डूफलो, लेखक और कई बार बुकर प्राइज से सम्मानित किए गए हिलेरी मेंटल व पर्यावरणविद डेविड एटेनबोरो का नाम भी शामिल है। इस लिस्ट में पुरुषों के बजाय महिलाओं के नाम अधिक हैं। इसमें 26 महिलाओं के नाम शामिल हैं।

साभार-https://www.samachar4media.com/ से

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top