ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

दूरदर्शन के पहले महानिदेशक पीवी कृष्णमूर्ति नहीं रहे

वरिष्ठ पत्रकार एवँ दूरदर्शन के पहले महानिदेशक रहे पीवी कृष्णमूर्ति का बुधवार को निधन हो गया। 98 वर्षीय पीवी कृष्णमूर्ति ने चेन्नई स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। उनके परिवार में दो पुत्र हैं, जिनमें से एक पीके बालाचंद्रन पत्रकार हैं। पीवी कृष्णमूर्ति का जन्म एक अप्रैल 1921 को यंगून (म्यांमार) में हुआ था। अंग्रेजी साहित्य में ग्रेजुएट पीवी कृष्णमूर्ति ने वर्ष 1944 में ‘ऑल इंडिया रेडियो’ (AIR) में बतौर न्यूज रीडर/अनाउंसर जॉइन किया था।

इसके बाद वह चेन्नई और कोलकाता में ऑल इंडिया रेडियो के निदेशक के साथ ही नई दिल्ली और मुंबई में दूरदर्शन केंद्र के निदेशक भी बने। वह 1976 में दूरदर्शन के पहले महानिदेशक बनाए गए थे और इस पद पर तीन साल तक कार्यरत रहे थे।

कला व संगीत के पारखी पीवी कृष्णमूर्ति संगीत नाटक अकादमी के उपाध्यक्ष भी चुने गए थे और उन्हें यहां से वर्ष 2012 में टैगोर अकादमी रत्न (फेलेशिप) भी प्रदान की गई थी। कई अवॉर्ड्स से सम्मानित पीवी कृष्णमूर्ति को वर्ष 2011 में इंडियन ब्रॉडकास्टर्स फोरम की ओर से मीडिया रत्न अवॉर्ड भी दिया गया था।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top