ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

इमामी क्रीम गोरा नहीं कर पाई, 15 लाख का जुर्माना

चार हफ्तों में त्वचा को गोरा बनाने का दावा करना एक नामी फेयरनेस क्रीम कंपनी को भारी पड़ा। युवक ने कोर्ट केस किया और तीन साल की कानूनी लड़ाई के बाद अब कंपनी पर 15 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है।

मामला इमामी कंपनी की क्रीम का है। चार हफ्तों में गोरे बनाने की फेयरनेस क्रीम का विज्ञापन देखने के बाद निखिल ने क्रीम खरीदी, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। तब वे 23 साल के थे। उन्होंने कानून के छात्र अपने छोटे भाई पारस की मदद से उपभोक्ता न्यायालय में केस किया।

वापस भी लेना होगा विज्ञापन

फैसले के मुताबिक, इमामी को अपना वह विज्ञापन भी वापस लेना होगा, जिसमें पुरुषों की त्वचा को चार हफ्तों में गोरा बनाने का झूठा दावा किया गया है। शाहरुख खान को लेकर यह विज्ञापन बनाया गया है।

निखिल के मुताबिक, मैंने एक महीने तक क्रीम लगाई, लेकिन कुछ नहीं हुआ। करोड़ों लोग ऐसे ही क्रीम का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन ठगे जाते हैं। पारस और मैं सिर्फ यही चाहते थे कि हमारी तरह दूसरे लोग झांसे में न आएं।

खास बात यह रही कि निखिल ने कंपनी से किसी मुआवजे की मांग नहीं की। उन्होंने सिर्फ कानूनी कार्रवाई में खर्च हुई राशि की मांग की। कंपनी अब उन्हें इसके एवज में 10,000 रुपए देगी। 15 लाख रुपए की राशि दिल्ली के उपभोक्ता कल्याण निधि में जाएगी।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top