आप यहाँ है :

काँवड़ियों के जरिए देश भक्ति का अलख जगा रहा है संघ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अब कांवड़ियों में ‘देशभक्ति का अलख’ जगाने जा रहा है। हर साल भगवान शिव की पूजा के लिए हजारों लोग कांवड़ लेकर निकलते हैं। ये लोग हरिद्वार, गोमुख और गंगोत्री से पवित्र गंगा जल लेकर आते हैं और अपने इलाके के शिव मंदिरों में चढ़ाते हैं। RSS इस बार कांवड़ यात्रा पर निकलने वालों से राष्ट्रभक्ति का प्रदर्शन करने की अपील कर रहा है।

संघ उत्तर प्रदेश के 250 जिलों में 15,000 टी शर्ट बांट रहा है, जहां से बड़ी संख्या में लोग कांवड़ लेकर निकलते हैं। RSS ने इन केसरिया टीशर्ट पर ‘मेरा भारत, मेरा कर्तव्य’, वंदे मातरम लिखवाया है और इन पर भारतमाता की तस्वीर के साथ ‘एक कांवड़ राष्ट्र के नाम’ नारा लिखा है।

संघ के यूपी प्रचारक अजय मित्तल ने कहा कि यूं तो संघ में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं को कांवड़ उठाने के लिए बढ़ावा देता रहा है लेकिन यह पहली बार हो रहा है कि संगठन उनसे ‘कांवड़ उठाने के साथ देश की
मित्तल ने कहा, ‘देश प्रेम और उसकी सुरक्षा की प्रतिबद्धता हमारे खून में होनी चाहिए। हमें देश के लिए जीना और मरना चाहिए। हम कांवड़ियों और कांवड़ियों को जानने वालों में सबको बताना चाहते हैं कि देशप्रेम शिव भक्ति जितना ही अहम है।’ उन्होंने इस बात से इनकार किया कि संघ यह सब यूपी में होने वाले आगामी चुनाव को देखते हुए कर रहा है।

उन्होंने कहा, ‘कांवड़ हिंदुओं के जीवन का अभिन्न अंग है। हम चाहते हैं कि कांवड़ यात्रा पर निकलने वालों में एकजुटता रहे और वे देश के बारे में सोचें। हमने पहले सिर्फ 10,000 टीशर्ट छपवाए थे, लेकिन प्रतिक्रिया इतनी अच्छी रही कि हमें इसमें बढ़ोतरी करनी पड़ी। बहुत से लोगों ने खुद भी टीशर्ट प्रिंट कराए हैं जिससे पता चलता है कि वे हमारे प्रयासों से सहमत हैं। हम तो सिर्फ जागरूकता फैला रहे हैं।’

संघ के सूत्र ने बताया कि उनकी इकाई धर्म जागरण समिति इस बार यात्रा के लिए लोगों को जुटाने में सक्रिय भूमिका निभा रही है। समिति का फोकस मुसलमानों और ईसाइयों को हिंदू धर्म में लाने के लिए उनकी घर वापसी कराने पर है।

साभार- इकॉनामिक टाईम्स से

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top