आप यहाँ है :

कलम की ताकत सबसे बड़ी : उमाशंकर गुप्ता

भोपाल। राजस्व विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने दुष्यंत कुमार पाण्डुलिपि संग्रहालय में 27 दिसंबर 2016 को सत्य की मसाल द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में राजधानी के पत्रकारों, साहित्यकारों व समाजसेवियों को सम्मानित किया।

मुख्य अतिथि श्री गुप्ता ने कहा कि मुझे खुशी है कि मैं मीडियाकर्मियों को सम्मानित कर रहा हूं। कलम की ताकत सबसे बड़ी है। उन्होंने कहा कि साहित्यिक, सांस्कृतिक समारोह के लिए मेरे आवास का हॉल उपयोग में किया जा सकता है।

इस अवसर पर समारोह के अतिथि वरिष्ठ पत्रकार एवं राज्य स्तरीय राष्ट्रीय एकता समिति के उपाध्यक्ष रमेश शर्मा ने साहित्यिक समारोह के लिए परशुराम मंदिर के हॉल का उपयोग करने की बात कही। वरिष्ठ पत्रकार रमेश तिवारी ने कहा कि पत्रकारों को एकजुट होकर बेहतरीन कार्य करना होगा। प्रतिस्पर्धा के दौर में हमें भी प्रतिस्पर्धी बनना चाहिए। कार्यक्रम के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार दिनेश चंद्र वर्मा ने संस्था के अध्यक्ष जवाहर सिंह को बधाई देते हुए कहा कि संस्था हर वर्ष शहर की प्रतिभाशाली लोगों का सम्मान करती है यह खुशी की बात है। यह आयोजन और बड़े स्तर पर होना चाहिए।

मुख्य अतिथि उमाशंकर गुप्ता ने शॉल, स्मृति चिन्ह एवं प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया।

पत्रकारिता
सर्वदमन पाठक (जागरण), विश्वेश्वर शर्मा (वरिष्ठ पत्रकार) राजकुमार सोनी (जागरण) दीप्ति चौरसिया (इंडिया न्यूज) राममोहन सिन्हा (पत्रकार, विदिशा) महेश चौधरी (पत्रकार विदिशा), अटल तिवारी (हरिभूमि विदिशा), दीरज नरवरिया (स्वतंत्र समय भोपाल), वहीद खान (पत्रकार विदिशा)।

समाज सेवा
हर्षराय, भरत नायक, आरएस अग्रवाल, जानवी देवनानी।

कवि व साहित्यकार
डॉ. अनीता चौहान, डॉ. विमलकुमार शर्मा, चंद्रभान राही, सुश्री शशि बंसल को साहित्य के क्षेत्र में सत्य की मसाल सम्मान से अलंकृत किया गया।

समारोह का प्रारंभ में अतिथियों ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रच्च्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। लता स्वरांजलि ने सरस्वती वंदना की। कार्यक्रम का संचालन साहित्यकार मोहन तिवारी ने किया। अंत में सभी के सत्य की मशाल की समाचार संपादक कांता राय ने आभार प्रकट किया।

Print Friendly, PDF & Email


सम्बंधित लेख
 

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top