आप यहाँ है :

विवेक अग्रवाल ‘यंग एंटरप्रन्योर अवार्ड-2015’ से सम्मानित

नई दिल्ली। भारतीय उद्योग जगत के उभरते हुए युवा उद्यमी श्री विवेक अग्रवाल को ‘यंग एंटरप्रन्योर अवार्ड-2015’ से सम्मानित किया गया है। यह अवार्ड उन्हें केन्द्रीय कौशल विकास मंत्री श्री राजीव प्रताप रूढि़ ने प्रदत्त किया। विदित हो श्री अग्रवाल को यह पुरस्कार युवा व्यवसायी के रूप में  विभिन्न कारोबारी क्षेत्रों में उनकी उपलब्धियों के लिए दिया गया है। 28 वर्षीय श्री विवेक अग्रवाल रियल स्टेट, दूरसंचार, सूचना प्रौद्योगिकी और शिक्षा से जुड़े विभिन्न उद्यमों में सक्रिय हैं एवं उनके पास दो हजार से अधिक कर्मियों की ताकत है। वे आईटी और टेलिकाॅम में भी सफलता के नये कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं। इस अवसर पर प्रख्यात व्यावसायिक हस्तियों एवं काॅरपोरेट दिग्गजों को उनकी उत्कृष्ट व्यावसायिक उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया गया। 

श्री राजीव प्रताप रूढि़ ने उन्हें सम्मान प्रदत्त करते हुए कहा कि आज भारत को दुनिया में एक आर्थिक ताकत के रूप में स्वयं को स्थापित करना है तो उद्योग एवं व्यवसाय के क्षेत्र में युवा प्रतिभाओं को आगे आना होगा। कौशल विकास के क्षेत्र में नये मानक स्थापित करके ही हम देश को आर्थिक ताकत के रूप में उभार सकते हैं। श्री विवेक अग्रवाल जैसी युवा प्रतिभाओं पर सभी की आशा भरी निगाहें लगी हैं।

श्री विवेक अग्रवाल ने इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि यह पुरस्कार मेरे लिए सम्मान की बात है और इससे मुझे एक प्रेरणा और शक्ति प्राप्त हुई है। पुरस्कार मेरे को एक उत्साह के साथ-साथ अधिक जिम्मेदारी से आगे बढ़ने की दिशा प्रदत्त करेगा। मैंने साहस और जोखिम के साथ नये रास्तों को चुना और मेरा आत्मविश्वास एवं महत्वाकांक्षाएं मुझे निरंतर सफलताओं की ओर अग्रसर करती रही है। आज भारत के व्यापार जगत में मैं और मेरे व्यावसायिक प्रतिष्ठानों का एक सकारात्मक योगदान है। मेरा मानना है कि भारत की युवा पीढ़ी अगर संकल्प लें तो भारत दुनिया की सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बन सकता है। 

श्री विवेक अग्रवाल मोबाइल व्यवसाय के शीर्षस्थ दस प्रतिष्ठानों में शुमार करते हैं। वे एम.टेक इन्फाॅरमेटिक लिमिटेड के प्रबंध निदेशक है। इस कंपनी सन् 2010 में कोलकाता में अपना प्रधान कार्यालय स्थापित किया और दिल्ली में विस्तार शाखा निर्मित की। एम.टेक का संपूर्ण भारत में एक नेटवर्क है। मुख्य रूप से पश्चिम बंगाल में एकछत्र राज स्थापित करने के बाद धीरे-धीरे उत्तरप्रदेश, बिहार, झारखण्ड, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश आदि प्रमुख राज्यों में विस्तार किया है। बीस हजार से अधिक खुदरा विक्रेताओं के पहुंच के साथ लगभग एक हजार डिस्ट्रीब्यूटर हैं। चार वर्ष की अल्पावधि में इस कंपनी ने वित्तीय वर्ष 2014-15 में सौ करोड़ का व्यवसाय किया और सन् 2020 तक इस कंपनी का लक्ष्य एक हजार करोड़ की बिक्री है। 

श्री विवेक अग्रवाल ने 2015 में ई-वाणिज्य उद्योग में भी अपनी सफलता के झण्डे गाड़े हैं। कंपेयर मुनाफा के साथ ई-शाॅपिंग की विभिन्न वेबसाइट की लाॅचिंग के साथ आॅनलाइन व्यापार में भी सक्रिय भागीदारी निभा रहे हैं। कंपेयर मुनाफा ग्राहकों को कुछ नया और उम्मीद भरा प्रदत्त करने के लिए तत्पर है।

श्री विवेक अग्रवाल नवीन प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देते हुए उन्हें व्यवसाय में सक्रिय कर रहे हैं। उनका मानना है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इंडिया के संकल्प को युवा ही साकार कर सकेंगे। 
 

प्रेषकः 

(ललित गर्ग)
ए-56/ए, प्रथम तल
लाजपत नगर-2
नई दिल्ली-110024
मो. 9811051133

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top