ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

भारतीय रेल की क्षमता को बढ़ा रहे हैं सुरेश प्रभु

रेलवे मंत्रालय द्वारा गठित एक कमिटी आईटी का इस्तेमाल करके रेलवे की क्षमताओं में बेहतरी और बढ़ोतरी के लिए काम कर रही है। यह कमिटी उन क्षेत्रों की भी पहचान कर रही है जिसमें नई तकनीकों का इस्तेमाल किया जा सकता है। मई में गठित 11 सदस्यी सूचना तकनीक सलाहकार परिषद की अगुवाई करने वाले सोम मित्तल ने बताया, 'हालांकि भारतीय रेलवे पैसेंजर रिजर्वेशन और फ्रेट ऑपरेशन के लिए तकनीक का ईस्तेमाल कर रहा है लेकिन सुधार की व्यापक गुंजाइश है।'

उन्होंने बताया, 'इसका मकसद रेलवे की क्षमता में बेहतरी लाना, सुरक्षा व्यवस्था को रेलों में मजबूत करना और तकनीक से रेलवे के विभिन्न ऑपरेशनों को जोड़ना है।' उन्होंने बताया कि परिषद उन मौजूदा ऐप्लिकेशंस को एकीकृत करने पर गौर कर रही है, जिनको शुरू में खास जरूरतों के लिए बनाया गया था।

ऐप्लिकेशंस को एकीकृत करने से रीयलटाइम इंफर्मेशन उपलब्ध हो पाएगी। कुछ ऐप्स को भी देखने की जरूरत है जिसकी तकनीक बंद हो रही है और इसे फिर से बनाने की जरूरत आ सकती है। उन्होंने बताया कि इसका मकसद पुराने सिस्टम के स्थान पर नए सिस्टम को लागू करना है जिससे समय पर सूचना मिल सके। उन्होंने यह भी कहा कि संपत्तियों और संसाधनों का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किया जाएग।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top