आप यहाँ है :

राजभाषा की प्रेरणादायक डगर : पश्चिम रेलवे का सार्थक सफर पश्चिम रेलवे पर मनाये जा रहे राजभाषा पखवाड़े के अंतर्गत सुरुचिपूर्ण प्रदर्शनी का आयोजन

मुंबई। पश्चिम रेलवे पर 12 सितम्बर से 27 सितम्बर, 2018 तक मनाये जा रहे राजभाषा पखवाड़े के अंतर्गत पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री ए. के. गुप्ता ने चर्चगेट स्थित मुख्यालय भवन में आयोजित एक दिवसीय राजभाषा प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। ‘राजभाषा की प्रेरणादायक डगर : पश्चिम रेलवे का सार्थक सफर’ शीर्षक से लगाई गई इस प्रदर्शनी के उद्घाटन के अवसर पर श्री गुप्ता ने कहा कि पश्चिम रेलवे द्वारा हिंदी के प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए परम्परागत तरीकों के अलावा आधुनिक तकनीक यथा वेब पत्रिका के साथ ही सोशल मीडिया में भी हिंदी का प्रयोग शुरू किया गया है, जो प्रशंसनीय है। उन्होंने शासकीय कार्यों में हिंदी का अधिकाधिक प्रयोग किये जाने पर बल दिय

पश्चिम रेलवे के जनसम्पर्क एवं राजभाषा विभाग द्वारा आयोजित इस प्रदर्शनी में पश्चिम रेलवे द्वारा हिंदी के प्रचार-प्रसार एवं उपयोग को प्रोत्साहन प्रदान करने के लिए किये जा रहे कार्यों का सचित्र प्रदर्शन किया गया। साथ ही विभिन्न विभागों के दैनिक कार्यों में हिंदी के उपयोग की प्रभावी प्रस्तुति भी की गई। श्री गुप्ता द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर प्रदर्शनी का शुभारम्भ किया गया। इस अवसर पर पश्चिम रेलवे के अपर महाप्रबंधक श्री राहुल जैन, पश्चिम रेलवे के मुख्य राजभाषा अधिकारी तथा मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (निर्माण) श्री एम. के. गुप्ता और विभिन्न प्रधान विभागाध्यक्ष, अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। प्रारम्भ में मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी श्री रविंद्र भाकर ने महाप्रबंधक एवं अपर महाप्रबंधक का फूलों से स्वागत किया। इसी दिन राजभाषा पखवाड़े के अंतर्गत श्री सर्वेश्वरदयाल सक्सेना लिखित और पश्चिम रेलवे के कलाकारों द्वारा प्रस्तुत हिन्दी नाटक ‘हवालात’ का मंचन भी किया गया, जिसका निर्देशन नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा दिल्ली के प्राध्यापक श्री राजेश तिवारी ने किया। इस अवसर पर जनसम्पर्क विभाग द्वारा निर्मित तथा पश्चिम रेलवे के गौरवशाली अतीत और गतिशील वर्तमान को दर्शाती एक प्रभावशाली फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया, जिसे महाप्रबंधक एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने सराहा। 27 सितम्बर, 2018 तक चलने वाले राजभाषा पखवाड़े के दौरान पश्चिम रेलवे के प्रधान कार्यालय में अनेक साहित्यिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों और प्रतियोगिताओं का आयोजन किया है।

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top