Tuesday, April 23, 2024
spot_img
Homeखबरेंमोदी के आह्वान के साथ ही देश में श्रीराम ज्योति जलाने की...

मोदी के आह्वान के साथ ही देश में श्रीराम ज्योति जलाने की तैयारियां शुरू

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद देश में 22 जनवरी को श्रीराम ज्योति जलाने और एक बार फिर से ‘दीपावली’ मनाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इसके लिए बाकायदा देश के अलग-अलग धार्मिक संगठनों की संयुक्त संस्थाओं की ओर से 14 जनवरी से ही हर घर को रोशन करने की व्यवस्थाएं की जाने लगी हैं।

धार्मिक संगठनों की संयुक्त संस्था अखिल भारतीय सनातन महासभा ने कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी और तवांग से लेकर कच्छ तक के मंदिरों और घरों में दीपावली मनाने की योजनाएं बना ली हैं। संगठन के संरक्षक के मुताबिक 22 तारीख की शाम को तो श्रीराम ज्योति जलेगी ही, लेकिन उससे पहले हर घर में कम से कम एक दीपक जलाने के लिए उनकी संस्था ने काम शुरू कर दिया है।

अखिल भारतीय सनातन महासभा के संरक्षक पंडित प्रदीप तिवारी ने एक बयान में कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान के साथ ही उनकी संस्था ने 11 हजार धर्माचार्यों के माध्यम से देश के सभी राज्यों में इस आयोजन की तैयारियां शुरू कर दी हैं। उन्होंने कहा कि सिर्फ उनकी संस्था ही नहीं, बल्कि सभी प्रमुख धार्मिक संगठनों के संयुक्त प्रयास के साथ इस महान दीपोत्सव की श्रृंखला को आगे बढ़ाया जाना है।

उन्होंने कहा कि अरुणाचल प्रदेश के तवांग से लेकर गुजरात के कच्छ तक सभी प्रमुख धार्मिक संगठनों के साथ उनकी संस्था ने प्रथम चरण की वर्चुअल बैठक भी कर ली है। वह कहते हैं कि परशुराम कुंड से लेकर भुज के लक्ष्मी नारायण मंदिर और कश्मीर के शारदा पीठ से लेकर कन्याकुमारी के मंदिरों में धार्मिक अनुष्ठान करने वाले आचार्य के साथ इस अभियान और दीप ज्योति को हर घर तक पहुंचाने की तैयारी हुई है।

उनके संगठन से जुड़े ग्यारह हजार आचार्य अलग-अलग मंदिर, प्रतिष्ठानों और सामाजिक संगठन के सहयोग से हर घर में कम से कम एक दीप जलाने के लिए लोगों से संपर्क कर रहे हैं। उनका कहना है कि जिस तरीके से लोगों की प्रतिक्रिया मिल रही है, उससे अहसास हो रहा है कि 14 जनवरी के बाद से ही देश में अगले 10 दिनों तक दीपावली जैसा उत्सव होने वाला है।

उन्होंने कहा कि सूर्य के उत्तरायण में आने के साथ ही देश के अलग-अलग हिस्सों में दीपोत्सव की तैयारियां शुरू हो जाएंगी। आचार्य प्रदीप तिवारी बताते हैं कि उनकी संस्था सिर्फ उत्तर प्रदेश ही नहीं, बल्कि उन सभी राज्यों में मंदिरों की साफ सफाई भी करवा रही है, जिसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपील की है। वह कहते हैं कि सिर्फ उनकी संस्था ही नहीं देश के सभी प्रमुख संगठन इस कार्य में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं।

सूर्य के उत्तरायण होते ही दीपोत्सव की तैयारियों के साथ-साथ अयोध्या में भी इस तरह की यात्राएं लगातार पहुंच रही हैं। हाल में ही राजस्थान से श्रीराम ज्योति यात्रा अयोध्या पहुंची। जबकि देश के अलग-अलग हिस्सों में इस तरीके की यात्राएं लगातार निकली जा रही हैं। गुड़गांव में रविवार को निकाली गई श्रीराम ज्योति यात्रा के समन्वयक कुलबीर यादव ने कहा कि उनकी यात्रा पूरे हरियाणा में निकल रही है। इस यात्रा का मकसद लोगों को कम से कम 108 श्रीराम ज्योति अपने घर में 22 जनवरी को जलाने की अपील करना है।

उन्होंने कहा कि सिर्फ हरियाणा ही नहीं बल्कि राजस्थान में भी यह यात्रा निकाल रही है। उनका कहना है कि देश के सभी प्रमुख और सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर वह पूरे देश में श्रीराम ज्योति के प्रचार प्रसार के लिए चार जनवरी से निकल रहे हैं। वह कहते हैं कि उनके संगठन के सदस्य तमिलनाडु में पिछले एक सप्ताह से पदयात्रा करके लोगों को दीपोत्सव की तैयारियों के लिए जागृत कर रहे हैं।

 

 

 

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार