Monday, July 22, 2024
spot_img
Homeफिल्म समीक्षा''अयोध्या के श्री राम'' और वेब सीरीज ''दिल नवाजी'' का मुहूर्त मुंबई...

”अयोध्या के श्री राम” और वेब सीरीज ”दिल नवाजी” का मुहूर्त मुंबई में – निरंजन सिन्हा

यूँ तो प्रभु श्रीराम के बारे में हर कोई अपने अपने स्तर से गुणगान करते रहता है लेकिन यह मौका बेहद खास है क्योंकि अगले साल अयोध्या में प्रभु श्रीराम के मंदिर का भव्य उद्घाटन होने जा रहा है और इस मौके पर उनके भक्त के द्वारा उनका गुणगान किया जाना बेहद रोमांचक घटना ही है । जी हाँ हम बात कर रहे हैं श्री मॉन्क एंटरटेनमेंट के आगामी प्रोजेक्ट ”अयोध्या में श्रीराम” के संगीत रिकॉर्डिंग की जो आज मुम्बई के यशराज स्टूडियो में किया गया । इसके निर्देशक और संगीतकार हैं बॉलीवुड के जाने माने संगीत निर्देशक माधव एस राजपूत और गीत लिखी है मीनाक्षी एस आर ने । आवाज दिया है माधव एस राजपूत व सृष्टि नवीन ने । जल्द ही इस गाने की शूटिंग भी दिल्ली और अयोध्या में की जाएगी ताकि दर्शक जल्द से जल्द ही अपने आराध्य प्रभु के इस भजन का आनंद ले सकें।

इस मौके पर मुंबई में एक वेब सीरीज ”दिल नवाजी” का भी मुहूर्त भी किया गया । जिसके लेखक प्रणव वत्स हैं । निर्माता निरंजन सिन्हा द्वारा बनाये जा रहे इस वेब सीरीज के निर्देशक हैं माधव एस राजपूत । इस मुहूर्त के मौके पर बॉलीवुड के जाने माने हास्य कलाकार सुनील पॉल ,राज प्रेमी, श्रेया नविन ,ताहिर कमाल खान ,संजय भूषण पटियाला, श्याम शर्मा ,कमर हाज़ीपुरी और हेमंत कुमार के साथ बहुत सारी सेलिब्रिटी ने अपनी शुभकामनाएं पूरी टीम को दिया । निर्माता निरंजन सिन्हा का यह पहला ही प्रोजेक्ट है जिसके बारे में निरंजन सिन्हा ने बताया कि इसके स्क्रिप्ट का काम प्रणव वत्स बेहद संजीदगी से कर रहे हैं , और वे ही इस वेबसिरिज मे लीड एक्टर की भूमिका भी निभाने वाले हैं । बाकी कलाकारों का चयन भी जल्द ही किया जाएगा । प्रणव वत्स ने प्रोजेक्ट के बारे में बात करते हुए बताया कि स्क्रिप्ट का काम फाइनल होते ही इसके शूटिंग की तैयारियां शुरू कर दी जाएगी । यह वेबसिरिज एक बेहद ही रोमांटिक विषय वस्तु के साथ बनाया जा रहा है जिस को पांच एपिसोड में बनाया जा रहा है । इसके प्रचार प्रसार का जिम्मा संजय भूषण पटियाला का है।


Hungama Media Group
sanjay Bhushan Patiyala
+91 9320886866
[email protected]

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार