आप यहाँ है :

संत और समाज के शुभकामनाओं के साथ शुरू हुई अहिंसा यात्रा

इंदौर / उज्जैन। गौ वंश को राष्ट्रीय पशु घोषित करो अभियान को सफल बनाने के उद्देश्य से देश भर के 4980 विधायक (दोनों सदनों के ) एवं 788 सांसद (दोनों सदनों के) से मुलाक़ात कर गौ वंश को राष्ट्रीय पशु घोषित करवाने के लिए समर्थन प्राप्त करने हेतु 17 माह की अहिंसा यात्रा का आगाज़ यात्रा संयोजक विनायक अशोक लुनिया ने इंदौर के खजराना गणेश मंदिर के दर्शन कर बहन कशिश से विजय तिलक करवा के माता पिता के आशीर्वाद के साथ प्रारम्भ किया।

यात्रा के प्रथम पड़ाव में उज्जैन में श्री महावीर तपोभूमि में विराजमान आचार्यश्री प्रज्ञासागर जी महाराज से आशीर्वाद व समाजजनों की शुभकामनाएं प्राप्त की।
यात्रा में विशेष सहयोग रखने वाले AMJSWA के राष्ट्रीय अध्यक्ष सचिन कासलीवाल ने बताया कि गौ संरक्षण का यह अभियान हमारे पूजनीय अंकल एवं विनायक लुनिया जी के पिता श्री स्व. श्री अशोक जी लुनिया साहब के द्वारा गत 40 वर्षों से चल रहा था जिसको फिर एक बार जीवंत रूप देकर विनायक लुनिया द्वारा अहिंसा यात्रा के रूप में देश भर के विधायक एवं सांसदों का समर्थन प्राप्त कर रहे है।

डॉ सचिन कासलीवाल ने बताया कि विनायक लुनिया की की माता जी का देहांत 4 अगस्त 2022 को हो गया है एवं पिता श्री का देहांत 16 मार्च 2017 को हो गया था। इस दुःख की घड़ी में भी गौ वंश के संरक्षण एवं माता पिता के अंतिम इच्छा को पूर्ण करने हेतु यात्रा सुचारू रूप से संचालित कर रहे है।

श्री लुनिया ने बताया कि 18 अगस्त 2022 से प्रारंभ हुई अहिंसा यात्रा 24 जनवरी 2024 को राष्ट्रपति महोदय से संपर्क कर उनको समस्त विधायक एवं सांसदों का समर्थन पत्र भेंट कर यात्रा का समापन किया जाएगा। यह यात्रा 17 माह 6 दिन का होगा।
Attachments area

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top