Thursday, February 22, 2024
spot_img
Homeश्रद्धांजलिसाधना कट वाली साधना नहीं रही

साधना कट वाली साधना नहीं रही

गुजरे जमाने की खूबसूरत और बेहतरीन अभिनेत्रियों में से एक साधना का 73 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। बताया जा रहा है कि वह लंबे समय से बीमार थीं। लड़कियों के बीच चूड़ीदार सलवार का फैशन प्रचलित करने का श्रेय उन्हीं को जाता है। उनका हेयर स्टाइल एक जमाने में साधना कट नाम से फेमस हुआ था।

60 के दशक में साधना के इस हेयरस्टाइल ने लड़कियों को दीवाना कर दिया था। साधना की इस हेयर स्‍टाइल को रोम हॉलिडे फिल्म में ऑद्रे के लुक से प्रेरित बताया जाता है। यह हेयरस्टाइल सेक्सी तो लगता ही था, क्यूट लुक भी देता था।

दरअसल, साधना ने अपने चौड़े माथे को छुपाने के लिए इस तरह का हेयर स्टाइल अपनाया कि उनके बाल माथे पर रहें। मगर, ये स्टाइल इतना मशहूर हुआ कि 60 और 70 के दशक में तो हर लड़की साधना की तरह हेयर स्टाइल रखने की कोशिश करने लगी।

साधना का नाम उनके पिता ने अपने समय की पसंदीदा अभिनेत्री ‘साधना बोस’ के नाम पर रखा था। चूड़ीदार कुर्ता, शरारा, गरारा, कान में बड़े झुमके, बाली और लुभावनी मुस्कान यह सब साधना की विशिष्ट पहचान रही है।

अभिनेत्री साधना का मुंबई में निधन हो गया है। वह 74 साल की थीं और काफी लंबे समय से बीमार चल रही थीं। 60 के दशक की मशहूर अदाकारा साधना ने ‘मेरा साया’, ‘राजकुमार’, ‘मेरे महबूब’, ‘वो कौन थी’ जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया है। मुंह के कैंसर से पीड़ित साधना पिछले साल भी आईसीयू में भर्ती हुई थी जब उनकी नौ घंटे लंबी सर्जरी चली थी।

साधना को उनके हेयरस्टाइल की वजह से भी खासी लोकप्रियता हासिल हुई और एक दौर में फैशन की दुनिया में ‘साधना कट’ काफी लोकप्रिय भी रहा। करीना कपूर की मां बबीता की चचेरी बहन साधना के कई गीत काफी सुपरहिट रहे, ‘झुमका गिरा रे’ और ‘मेरे साया साथ होगा’ कुछ ऐसे ही गीत हैं। शनिवार को साधना का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

साधना शुरू से ही सिंधी थिएटर में काफी बढ़चढ़ कर भाग लेती थी और 1958 में उनका चयन एक ऑडिशन के जरिए उस वक्त की मशहूर सिंधी अभिनेत्री शीला रमानी की छोटी बहन के लिए किया गया। इस सिंधी फिल्म का नाम ‘अबाना’ था जो सुपरहिट रही और इसके बाद ही हिंदी सिनेमा के दरवाज़े उनके लिए खुल गए। इस वक्त साधना की उम्र 16 साल भी नहीं थी जब निर्माता-निर्देशक शशधर मुखर्जी ने उन्हें ‘लव इन शिमला’ के लिए साइन किया और उनके लुक को थोड़ा बदलने के लिए साधना को ब्यूटी पार्लर ले जाया गया।

निर्देशक आर के नारायण चाहते थे कि साधना का चौड़ा माथा थोड़ा सा ढक जाए इसलिए उन्होंने हॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री और ‘ब्रेकफास्ट एट टिफनी’ की नायिका ऑड्रे हेपबर्न का ज़िक्र करते हुए कहा कि उनके माथे पर जिस तरह फ्रिंज हैं, वैसी ही कुछ लटें इनके माथे पर भी ला दो और क्योंकि साधना जी को ऑड्रे का नाम याद नहीं आता था तो किसी के पूछने पर वह कहने लगी कि ये ‘साधना कट’ है। इस तरह पूरे देश में साधना कट की दिवानगी शुरू हो गई

साधना के प्रमुख नायकों में जॉय मुखर्जी, देव आनंद, सुनील दत्त, मनोज कुमार, शम्मी कपूर, राजेन्द्र कुमार, राज कपूर, फ़िरोज ख़ान, शशि कपूर, किशोर कुमार, संजय ख़ान और वसंत चौधरी आदि का नाम आता है। इन दिनों साधना प्रशंसकों के बीच नहीं आती।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार