ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

कौन हैं वर्षा राउत

शिवसेना सांसद और वरिष्ठ नेता संजय राउत उनकी पत्नी चर्चा में हैं। जानिए कौन हैं संजय राउत की पत्नी और दिनों में उनके चर्चा में होने की वजह क्या है…

शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी का नाम वर्षा राउत है। संजय राउत की वर्ष 1993 में वर्षा से शादी हुई थी। वर्षा राउत मुंबई के भांडुप के एक स्कूल में शिक्षिका हैं। राजनीतिक सुर्खियों से दूर रहने वाली वर्षा राउत फिल्म प्रोड्यूसर के तौर पर भी काम करती हैं। उनकी आखिरी फिल्म 2019 में आई ‘ठाकरे’ थी। वर्षा और संजय राउत की दो बेटियां भी हैं, जिनका नाम पूर्वांशी और विदिता है।

संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत एक शिक्षिका हैं। वे मुंबई स्थित भांडुप के एक स्कूल के साथ काम करती हैं. साल 1993 में वर्षा और संजय की शादी हुई. उनकी दो बेटियां भी हैं, जिनका नाम पूर्वांशी और विदिता है. राउत परिवार भांडुप की फ्रेंड्स कॉलोनी में स्थित अपने ‘मैत्री बंगले’ में रहता है. संजय राउत द्वारा दायर चुनावी हलफनामे के अनुसार, वर्ष 2014-15 में वर्षा राउत की आय 13,15,254 रुपए थी. वर्षा राउत राजनीतिक लाइमलाईट से अक्सर दूर ही रही हैं. कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के रिकॉर्ड के अनुसार वर्षा राउत, तीन फर्मों, रायटर एंटरटेनमेंट एलएलपी, सनातन मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड और सिद्धांत सिस्कोन प्राइवेट लिमिटेड की पार्टनर हैं.

राउत परिवार भांडुप की फ्रेंड्स कॉलोनी में स्थित अपने मैत्री बंगले में रहता हैं। संजय राउत की ओर से दिए गए चुनावी हलफनामे के मुताबिक, वर्ष 2014-15 में वर्षा राउत की आय 13,15,254 रुपये थी। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के रिकॉर्ड के अनुसार वर्षा राउत तीन फर्मों, रायटर एंटरटेनमेंट एलएलपी, सनातन मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड और सिद्धांत सिस्कोन प्राइवेट लिमिटेड की पार्टनर हैं। आपको बता दें कि रायटर एंटरटेनमेंट एलएलपी नाम की फर्म ने ही वर्ष 2019 में बॉलीवुड फिल्म ‘ठाकरे’ बनाई थी। वर्षा राउत अपने पति संजय राउत और बेटियों पूर्वांशी और विदिता के साथ इस फर्म में भागीदार हैं।

वर्षा राउत हाल ही में तब चर्चा में आईं, जब उन्होंने पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (पीएमसी) बैंक घोटाला मामले के संबंध में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश होने से मना कर दिया और पांच जनवरी तक का समय मांगा था। ईडी ने तीसरी बार समन भेजकर वर्षा राउत को पेश होने के निर्देश दिए हैं। इससे पहले, ईडी ने वर्षा राउत को 11 दिसंबर और 22 दिसंबर को एजेंसी के समक्ष पेश होने के लिए दो बार समन जारी किए थे, लेकिन वर्षा ने तबीयत बिगड़ने का हवाला देते हुए एजेंसी के सामने पेश होने से मना कर दिया था। इस मामले पर संजय राउत भी सोशल मीडिया पर भड़के थे और केंद्र सरकार पर परेशान करने का आरोप लगाया था।

ईडी के समन को लेकर संजय राउत ने कहा, ”घर की महिलाओं को निशाना बनाना कायरता का काम है। हम किसी से नहीं डरते हैं और उसी के अनुसार प्रतिक्रिया देंगे। ईडी को कुछ कागजात की आवश्यकता थी और हमने उन्हें समय पर जमा कर दिया है।”

वर्षा राउत ने प्रवीण राउत की पत्नी माधुरी प्रवीण राउत से 55 लाख रुपये का लोन लिया था, जिसका इस्तेमाल संपत्ति खरीदने के लिए किया गया था। ईडी ने वर्षा को माधुरी राउत से लिए गए 55 लाख रुपये के लोन के संबंध में पूछताछ के लिए बुलाया है। सिद्धांत सिस्कोन प्राइवेट लिमिटेड में माधुरी प्रवीण राउत भी पार्टनर हैं।बता दें कि प्रवीण राउत, गुरुआशीष कंस्ट्रक्शंस नाम की एक कंपनी के निदेशक हैं, जो हाउसिंग डेवलपमेंट इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआईएल) की एक सहायक कंपनी है। प्रवीन राउत के गुरुआशीष कंस्ट्रक्शंस कंपनी के डायरेक्टर रहने के दौरान ही सारंग और राकेश वाधवन एचडीआईएल के प्रमोटर थे। राकेश वाधवन और सारंग दोनों ही 6500 करोड़ रुपये के पीएमसी बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी हैं। इस केस की जांच ईडी कर रही है। इसी मामले में संजय राउत की पत्नी की भूमिका होने के चलते ईडी ने वर्षा राउत को समन भेजे हैं।

रायटर्स एंटरटेनमेंट नाम की फर्म वही फर्म है जिसने साल 2019 में ठाकरे नाम की बॉलीवुड बायोपिक फिल्म बनाई थी. वर्षा राउत अपने पति संजय राउत और बेटियों पूर्वांशी और विदिता के साथ इस फर्म में भागीदार हैं. दूसरी फर्म सनातन मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड है, इस फर्म में वर्षा राउत, अरुण बंसल, विमला कुमार और विजय कुमार के साथ साझीदार हैं.

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top