आप यहाँ है :

जियो तो ऐसे जियो
 

  • 2020 में मनाएँ खादी शताब्दी वर्ष

    2020 में मनाएँ खादी शताब्दी वर्ष

    गांधी जी ने 1920 के दशक में गाँवों को आत्म निर्भर बनाने के लिये खादी के प्रचार-प्रसार पर बहुत जोर दिया था । जरा सोचें कि हम विज़न 2020 में शामिल कर उसी खादी को एक नई पहचान देकर बापू की उस देशभक्ति से परिपूर्ण मुहिम

  • बालक दीनदयाल ने शिक्षक से कहा, ये मेरा नववर्ष नहीं, मुझे बधाई स्वीकार नहीं

    बालक दीनदयाल ने शिक्षक से कहा, ये मेरा नववर्ष नहीं, मुझे बधाई स्वीकार नहीं

    आज भले पूरी दुनिया नया वर्ष मना रही है, लेकिन भारत में एक बड़ा वर्ग है, जो इसे नए वर्ष की मान्यता नहीं देता। इस वर्ग के अपने तर्क व तथ्य हैं, जो उचित भी हैं। सामान्यतः भारत में इस अंग्रेजी नव वर्ष का विरोध नहीं होता।

  • मुंबई की लोकल में भीख माँगकर गरीब बच्चों के लिए जुटाए एक करोड़ रुपये

    मुंबई की लोकल में भीख माँगकर गरीब बच्चों के लिए जुटाए एक करोड़ रुपये

    मरीन इंजीनियर के रूप में करियर शुरू कर प्राइवेट कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट और देश के जाने माने संस्थान एसपी जैन मैनजमेंट कॉलेज, मुंबई के प्रोफेसर संदीप देसाई जिंदगी के एक ऐसे सफर में हैं, जिस पर चलना हर किसी के लिए संभव नहीं है।

  • मुस्लिम युवक ने  संस्कृत में  गीता पर लिखा  शानदार निबंध और विजेता बना

    मुस्लिम युवक ने संस्कृत में गीता पर लिखा शानदार निबंध और विजेता बना

    देश भर में इन दिनों राष्ट्रीयता का मुद्दा छाया हुआ है, लेकिन जयपुर में कुछ ऐसा हुआ जिसने लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया है. जयपुर में गीता पर संस्कृत में निबंध लिखने की प्रतियोगिता में 16 साल के नदीम खान को विजेता चुना गया. प्रतियोगिता में नदीम के अलावा दो अन्य मुस्लिम छात्राएं जहीन और जोराबिया भी विजेता बनीं. एक तरफ राजस्थान में जहां मुस्लिम युवाओं के खिलाफ रोज नई हिंसा की खबरें आ रही हैं वहीं दूसरी तरफ मुस्लिम बच्चों का संस्कृत भाषा और गीता से ऐसा लगाव अपने आप में अनूठा है. सभी विजेताओं को आज (बुधवार) को अवॉर्ड दिया जाएगा.

  • बाँए हाथ वाले बच्ची की पुकार सुनी कंपनी ने

    बाँए हाथ वाले बच्ची की पुकार सुनी कंपनी ने

    दुनिया में 10 प्रतिशत लोग बाएं हाथ से काम करना और लिखना पसंद करते हैं। लेकिन भले ही बचपन से वे बाएं हाथ से काम करते हो लेकिन किसी न किसी काम को लेकर इन लेफ्टी-हैंडेड लोगों को परेशानी हो ही जाती है।

  • उज्जैन में महाकाल का अभिषेक किया अमजद अली खान ने

    उज्जैन में महाकाल का अभिषेक किया अमजद अली खान ने

    संगीत खुदा की बख्शी गई नियामत है। ईश्वर दिल में बसता है, इसलिए आज साज और सुर की बात न करते हुए मेरे दिल की सुनो, संगीत की भाषा आप खुद-ब-खुद समझ जाओगे। यह बात महाकालेश्वर मंदिर में अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सरोद वादक अमजद अली खान ने नईदुनिया से कही।

  • भारतीय सेना में शामिल होने के लिए मजदूर के बेटे ने छोड़ी अमेरिका की नौकरी

    भारतीय सेना में शामिल होने के लिए मजदूर के बेटे ने छोड़ी अमेरिका की नौकरी

    देश की सेवा के लिए सिर्फ जुनून होना चाहिए और उसके लिए पैसा कोई महत्व नहीं रखता है. इस बात को सही साबित किया है हैदराबाद के बरनाना यडागिरी ने जिन्होंने अमेरिका की नौकरी और आईआईएम छोड़कर सेना में शामिल होने का फैसला किया है.

  • मंदिर क्यों जाना, शरीर को ही बना डाला रामनामी

    मंदिर क्यों जाना, शरीर को ही बना डाला रामनामी

    क्या आपको बाबरी मस्जिद विध्वंस के बारे में पता है, छह दिसंबर को बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी मनाई जाती है। वहां राम मंदिर बनाने के लिए सालों से आंदोलन चल रहा है। इस सवाल के जवाब में शरीर पर राम नाम गोदे हुए रामनामी समुदाय के सदस्य कहते हैं कि हमें भक्ति के लिए राम मंदिर जाने की क्या जरूरत?

  • इंसानियत अभी ज़िंदा है

    सच है कि अधिक से अधिक धन, अधिक से अधिक भौतिक सुविधा, अधिक से अधिक यश व प्रचार हासिल करना आज अधिकांश लोगों की हसरत का हिस्सा बनता जा रहा है। यहीं यह भी सच है कि ऐसी हसरतों की पूर्ति के लिए हमने जो रफ्तार और जीवन शैली अख्तियार कर ली है, उसका दबाव न सिर्फ ज़िंदगी को ज़िंदादिली और आनंद से महरूम कर रहा है

  • जीईएस में 13 साल का ये लड़का बना सबके आकर्षण का केंद्र

    जीईएस में 13 साल का ये लड़का बना सबके आकर्षण का केंद्र

    अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप के आगमन के साथ हैदराबाद में शुरू हुए वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन (जीईएस) में 1500 पहुंचे कारोबारी पहुंचे हैं। लेकिन इस सम्मेलन में पहुंचे 13 साल के लड़के ने सबका ध्यान आकर्षित किया है। यह लड़का अपनी विलक्ष प्रतिभा के कारण सुर्खियां बटोर रहा है। सम्मेलन में पहुंचे कारोबारियों में 13 साल का यह लड़का सबसे कम उम्र का उद्यमी है जो कि ऑस्ट्रेलिया का रहने वाला है। इस लड़के का नाम हमीश फिनलेसन है जो एक एप डेवलपर है।

Back to Top