आप यहाँ है :

एनसीसी भी लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड में

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के दिन 21 जून 2015 को अपनी तरह के अनोखे एवं अनुशासित युवाओं के संगठन (एनसीसी) द्वारा विभिन्न स्थानों पर एक साथ व्यापक स्तर पर योग प्रदर्शन करने के लिए 24 सितंबर 2015 को राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) को लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड का प्रमाण पत्र दिया गया है। रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रिकर की उपस्थिति में लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड्स की संपादक श्रीमती विजया घोष ने यह प्रमाण पत्र एनसीसी के लेफ्टिनेंट जनरल ए. चक्रवर्ती को सौंपा।

28 जनवरी 2015 को एनसीसी रैली में दिए गए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन से प्रेरणा लेकर एनसीसी के 9,50,210 कैडेट ने 21 जून 2015 को भारत के अलग-अलग स्थानों पर एक साथ योग प्रदर्शन कर यह रिकॉर्ड बनाया है।

एनसीसी कैडेट के साथ बातचीत के दौरान, रक्षा मंत्री श्री मनोहर पर्रिकर ने इन नौजवानों के साथ अपने विचार साझा किए और स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने के बारे में कुछ कारगर सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि, चूंकि एनसीसी के विस्तार की काफी मांग है, ऐसे में यह संगठन वृहत स्तर पर अपने विस्तार के कगार पर है। मंत्री महोदय ने एनसीसी स्टाफ और कैडेट के परिश्रम और समर्पण के लिए उनकी सराहना की और कहा कि युवाओं को भविष्य के नेता के रूप में संवारकर एनसीसी राष्ट्र निर्माण में अहम भूमिका अदा कर सकता है।

इससे पूर्व, एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल ए. चक्रवर्ती ने एनसीसी की विभिन्न गतिविधियों के बारे में जानकारी दी और कहा कि लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड में स्थान पाने की इस उपलब्धि पर संगठन को गर्व है। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कई स्थानों पर एक साथ सफल कार्यक्रम आयोजित करने के लिए एनसीसी को समर्थन देने वाले रक्षा मंत्रालय और आयुष मंत्रालय को धन्यवाद दिया।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top