Tuesday, April 16, 2024
spot_img
Homeफ़िल्मी-गपशपऑस्कर अवार्ड की रेस में ये तीन फिल्में सबसे आगे

ऑस्कर अवार्ड की रेस में ये तीन फिल्में सबसे आगे

परमाणु बम के जनक जे. रॉबर्ट ओपेनहाइमर के जीवन पर आधारित ‘ओपेनहाइमर’ को 13 श्रेणियों में नामित किया गया है।

क्रिस्टोफर नोलन की फिल्म ‘ओपेनहाइमर’ 96वें ऑस्कर पुरस्कारों के नामांकन में शीर्ष दावेदार के रूप में उभरी है। इसके साथ ही योर्गोस लैंथिमोस की ‘पुअर थिंग्स’ और मार्टिन स्कोर्सेसे निर्देशित फिल्म ‘किलर्स ऑफ द फ्लावर मून’ भी मुकाबले में हैं।

परमाणु बम के जनक जे. रॉबर्ट ओपेनहाइमर के जीवन पर आधारित ‘ओपेनहाइमर’ को 13 श्रेणियों में नामित किया गया है। इनके अलावा, सर्वश्रेष्ठ फिल्म की सूची में ‘अमेरिकन फिक्शन’, ‘एनाटॉमी ऑफ ए फॉल’, ‘द होल्डओवर्स’, ‘मेस्ट्रो’, ‘पास्ट लाइव्स’ और जोन ऑफ इंटरेस्ट’ भी शामिल हैं। निर्देशकों की सूची में स्कॉर्सेज, नोलन जैसे दिग्गज प्रमुख दावेदार हैं।

अन्य नामितों में ‘एनाटॉमी ऑफ ए फॉल’ के लिए लैंथिमोस, जस्टिन ट्राइट और ‘द जोन ऑफ इंटरेस्ट’ के लिए जोनाथन ग्लेजर भी शामिल हैं। माना जा रहा है कि मुख्य अभिनेता की दौड़ में मर्फी सबसे आगे हैं, लेकिन ब्रैडली कूपर (मेस्ट्रो), पॉल जियामाटी (द होल्डओवर्स), कोलमैन डोमिंगो (रस्टिन) और जेफरी राइट (अमेरिकन फिक्शन) से उन्हें कड़ी टक्कर मिलने वाली है।

‘किलर्स…’ में असाधारण प्रदर्शन को लेकर लिली ग्लैडस्टोन मुख्य अभिनेत्री की श्रेणी में सबसे आगे बनी हुई हैं। वहीं, ‘पुअर थिंग्स’ के लिए एम्मा स्टोन, ‘न्याद’ के लिए एनेट बेनिंग, ‘मेस्ट्रो’ के लिए केरी मुलिगन और ‘एनाटॉमी ऑफ ए फॉल’ के लिए सैंड्रा हॉलर भी इस पुरस्कार के लिए मुकाबला कर रही हैं। सहायक अभिनेता श्रेणी में रॉबर्ट बनाम रॉबर्ट का मुकाबला देखने को मिलने वाला है।

इस श्रेणी में ‘किलर्स…’ के लिए रॉबर्ट डी नीरो, ‘ओपेनहाइमर’ के लिए रॉबर्ट डाउनी जूनियर, ‘अमेरिकन फिक्शन’ के लिए स्टर्लिंग के ब्राउन, ‘पुअर थिंग्स’ के लिए मार्क रफालो और ‘बार्बी’ के लिए रयान गोसलिंग प्रमुख दावेदार हैं।

सहायक अभिनेत्रियों की श्रेणी में ‘ओपेनहाइमर’ के लिए एमिली ब्लंट, ‘बार्बी’ के लिए अमेरिका फेरेरा, ‘न्याद’ के लिए जोडी फोस्टर, ‘द कलर पर्पल’ के लिए डेनिएल ब्रूक्स नामित की गई हैं। हालांकि, भारत की आधिकारिक प्रविष्टि ‘‘2018’’ अंतरराष्ट्रीय फीचर फिल्म की दौड़ से बाहर हो गई है, लेकिन भारत के एक छोटे गांव की पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म ‘टू किल ए टाइगर’ को वृत्तचित्र फीचर श्रेणी में नामित किया गया है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार