ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

नागपुर में 15 से 18 मार्च तक जम्मू-कश्मीर, लद्दाख महाउत्सव का आयोजन

जम्मू कश्मीर स्टडी सेंटर की नागपुर शाखा द्वारा मुंबई, दिल्ली, जम्मू और देशकी सभी शाखाओं के सहयोग से गुरुवार, 15 मार्च से रविवार, 18 मार्च 2018, चार दिन के सप्तसिंधु जम्मू कश्मीर लद्दाख महा-उत्सव का आयोजन नागपूर में किया है। इस महोत्सव का शुभारंभ 15 मार्च 2018 को सुबह 10.30 बजे मा. सरसंघचालक डॉ. मोहनजी भागवत के करकमलों द्वारा होगा।। यह कार्यक्रम डॉ. वसंतराव देशपांडे सभागृह में संपन्न होगा। इसके पूर्व सुबह 8.00 बजे राष्ट्रीय एकात्मता इस संकल्पना को ध्यान मे रखकर रेशिमबाग से डॉ. वसंतराव देशपांडे सभागृह तर एक बाईक रैली निकाली जाएगी।

मिझोरम के राज्यपाल निर्भय शर्माजी, जम्मू कश्मीर की पर्यटन मंत्री प्रिया सेठीजी, केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरीजी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीसजी इन्होंने इस महोत्सव में सम्मिलित होंगे।

महोत्सव के बाकी सारे कार्यक्रम देशपांडे सभागृह के बगल मे दक्षिण मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र के (डउनउउ) परिसर में होंगे । चार दिन के इस महोत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ अकादमिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया है।

‘कश्मीर द रीअल स्टोरी’ यह महानाट्य, नो यूवर आर्मी प्रदर्शनी, कुशोक बकुला रिम्पोछे, आचार्य अभिनव गुप्त और जम्मू कश्मीर की ऐतिहासिक वास्तुओंको दर्शानेवाली छायाचित्र प्रदर्शनी यह इस कार्यक्रम की विशेषतः रहेंगी। ‘जम्मू कश्मीर ः भाषा एवं साहित्य’ और ‘जम्मू कश्मीरः लोक एवं संस्कृती’ इन विषयोंपर उत्तर प्रदेश साहित्य परिषद द्वारा राष्ट्रीय सेमिनार भी इस महोत्सव में संपन्न होंगे । साथ ही नागपुप के अलग अलग भागोंमे स्वयंसेवी संस्थाओं एवं महाविद्यालयों के सहयोग से करीब 20 समानांतर अकादमिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे । जम्मू कश्मीर के व्यंजनोंके स्टाल, हँण्डीक्राफ्ट, ट्राय फ्रूट्स, उनी कपडे, कालिन, कहावा (कश्मिरी चाय) आदी वस्तूओं के स्टाल इसके खास आकर्षण होंगे।

मीरा खडक्कार
अध्यक्ष
जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र, नागपूर



सम्बंधित लेख
 

Back to Top