Thursday, April 18, 2024
spot_img

Monthly Archives: November, 2016

गूगल ने याद किया जगदीश चंद्र बसु को

भारत के प्रसिद्ध वैज्ञानिक जगदीश चंद्र बसु के 158वें जन्मदिन पर गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया। जगदीश चंद्र बसु का जन्म पूर्वी बंगाल में ढाका जिले के फरीदपुर में हुआ था, जो अब बांग्लादेश में है।

भारतीय संस्कृति में प्रदक्षिणा का अपना महत्व हैः श्री वीरेंद्र याज्ञिक

मुंबई के श्री भागवत परिवार द्वारा गीतामृतम श्रृंखला के 11 वें सोपान का आयोजन पवई के धर्मनिष्ठ परिवार श्री कमलेश जी पारिख जी के परिवार में किया गया।

इस गांव में पुरानी स्लेट नहीं टैबलेट से होती है पढ़ाई

बदलते भारत में लगातार हम विकास की ओर अग्रसर हैं, गांव और शहरों से लेकर, स्कूलों और बजारों में भी तबदीली आ रही हैं, शिक्षा के क्षेत्र में भी बदल रहा है हमारा देश।

अपने पिता से संस्कारों की ये अनमोल वसीयत मिली है आशुतोष राणा को

बात सत्तर के दशक की है जब हमारे पूज्य पिताजी ने हमारे बड़े भाई मदनमोहन जो राबर्ट्सन कॉलेज जबलपुर से एमएससी कर रहे थे, की सलाह पर हम तीन भाइयों को बेहतर शिक्षा के लिए गाडरवारा के कस्बाई विद्यालय से उठाकर जबलपुर शहर के क्राइस्ट चर्च स्कूल में दाखिला करा दिया. मध्य प्रदेश के महाकौशल अंचल में क्राइस्ट चर्च स्कूल उस समय अंग्रेजी माध्यम के विद्यालयों में अपने शीर्ष पर था.

बाकी का काला धन यहाँ से भी निकाल लीजिए

8 नवंबर को नोटबंदी के फैसले के बाद से दिल्ली की आम आदमी पार्टी ने मुंबई और चंडीगढ़ के निकाय चुनावों से हाथ पीछे खींच लिए। ये इत्तेफाक भी हो सकता है और झटका भी।

नालन्दा राजनीतिक नहीं, राष्ट्रीय मुद्दा है

नालंदा विश्वविद्यालय के रूप में प्राचीन भारत के सबसे बड़े ज्ञान केंद्र के लुप्त हो चुके इतिहास को पुनर्जीवित करने के उद्देश्य से नालंदा विश्वविद्यालय अधिनियम, 2010 को लोकसभा में पारित किया गया और एक सपने को आकार देने की दिशा में सार्थक प्रयत्न शुरु हुआ, लेकिन चांसलर जॉर्ज यो ने विश्वविद्यालय की स्वायत्तता का मुद्दा उठाते हुए अपने पद से इस्तीफा देकर राष्ट्रीयता एवं शिक्षा-संस्कृृति से जुड़ी बड़ी परियोजना को धुंधलाया है।

युवा लेखिका अवंतिका के उपन्यास हमनवा का विमोचन संपन्न

फैज़ाबाद।वो प्यार..जो दूर जाने के बाद भी दिल के पास रहता है..जुदा होने के बाद भी हर पल याद आता है,वही तो होता है सच्चा प्यार..! प्यार में अपनी जान देना तो बहुत आसान है,मुश्किल तो उस प्यार की यादों संग जिन्दा रहने में है।

ज़िंदगी में कुछ करना है तो फेसबुक से दूर रहिए

तरक्की चाहते हैं! तो जरा अपनी आदत बदल लीजिए और फेसबुक पर वक्त बिताना कम कर दीजिए। फेसबुक जैसे सोशन मीडिया पर अपना प्रोफाइल अपडेट करते रहने से तरक्की नहीं मिलने वाली। यह नतीजा निकाला है कंप्यूटर वैज्ञानिक और ब्लॉगर कैल न्यूपोर्ट ने।

नोट बंदी से विकास के नए द्वार खुलेंगे

मुंबई, 26 नवंबर(शनिवार)। नोटबंदी भारतीय अर्थ व्यवस्था की मजबूती के लिए एक ऐसा ऐतिहासिक कदम है, जिससे देश में विकास के नए मानक स्थापित होंगे। बड़ी संख्या में सड़कें बनेंगी, घर सस्ते होंगे, ब्याज दरें घटेंगी, उच्च शिक्षा सस्ती होगी, उद्योग जगत को ज्यादा आर्थिक सहयोग मिलेगा और निवेश बढ़ेगा, जिससे ज्यादा रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।

कोरियाई फिल्मों में भारतीय सिनेमा के तत्वों को शामिल करना चाहता हूः किम जी-वून

समीक्षकों द्वारा अत्यंत प्रशंसित फिल्म निर्देशक किम जी-वून द्वारा निर्देशित दक्षिण कोरियाई एक्शन थ्रिलर फिल्म ‘द एज ऑफ शैडोज़’ को आईएफएफआई 2016 के अंतर्गत आज अंतिम फिल्म के तौर पर दिखाया गया।
- Advertisment -
Google search engine

Most Read