आप यहाँ है :

6 साल की बच्ची लोगों को वोट देने के लिए प्रेरित करेगी

दूसरी क्लास में पढ़ने वाली बच्ची प्रीति तमिलनाडु में लोगों को वोट डालने के लिए जागरूक करेगी। वह इलेक्शन कमिशन द्वारा चुने गए उन सितारों में से एक है जो लोगों को मतदान अधिकार की अहमियत समझाएंगे। सात साल की प्रीति पांच मिनट से भी कम समय में राज्य के सभी 234 सभी निर्वाचन क्षेत्रों के नाम गिना सकती है क्योंकि उसे ये नाम जुबानी याद हैं।

विलानल्लडपुर यूनियन मिडल स्कूल में पढ़ने वाली प्रीति को चेय्यर निर्वाचन क्षेत्र के लिए इलेक्शन कमिशन की ब्रैंड ऐंबैसडर बनाया गया है। उसका चयन गुरुवार को किया और वह जल्द ही मतदाताओं को जागरूक करने के लिए बनाई जाने वाली शॉर्ट फिल्मों की शूटिंग शुरू करेगी। राज्य के मुख्य चुनाव आयुक्त राजेश लखानी ने द टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया,’हम युवा प्रतिभाओं को पहचान दिला रहे हैं और उनके जरिए मतदान के प्रति जागरूकता फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। हमारे पास आधिकारिक तौर पर 1,200 ऐसे ब्रैंड ऐंबैसडर हैं जिन्हें हमने कॉलेज कैंपस से चुना है। उन्होंने अपने दोस्तों को मतदाता सूची में शामिल होने के लिए प्रेरित किया।’ निर्वाचन आयोग ने कई फिल्म सिलेब्रिटीज और खिलाड़ियों को भी ब्रैंड ऐंबैसडर बनाया है। इसमें कार्ती, सूर्या, रविचंद्रन अश्विन, दिनेश कार्तिक और दीपिका पल्लिकल भी शामिल हैं।

चेय्यर के सब कलेक्टर डॉ. टी प्रभु शंकर ने कहा,’हम प्रीति के साथ ‘अपने निर्वाचन क्षेत्र को जानिए’ नाम से दो विडियो बनाएंगे। इनकी शूटिंग शनिवार को चेन्नै में होगी और दो दिनों के अंदर हम इन्हें यू ट्यूब और सोशल मीडिया पर पोस्ट करेंगे। प्रीति के पिता एक किसान हैं। वह अरिग्नर अन्ना गवर्नमेंट आर्ट्स कॉलेज के ‘वारुंगल वक्कातिप्पोम’ कार्यक्रम में सबके आकर्षण का केंद्र थी। जहां कॉलेज के कई स्टूडेंट्स यह भी नहीं बता पाए कि राज्य में कितने निर्वाचन क्षेत्र हैं वहीं प्रीति सबके नाम फटाफट गिना दिए। प्रीति ने कहा कि भाइयों और बहनों आप वोट जरूर डालें और मंच से नीचे आ गई, इसके साथ ही पूरा हॉल तालियों से गूंज उठा।’ सब कलेक्टर ने उसे 2,100 रुपये का कैश प्राइज भी दिया।

4 मार्च को प्रीति के स्कूल में ऐनुअल डे प्रोग्राम था जिसमें टी. प्रभु चीफ गेस्ट थे। वहीं उन्हें प्रीति के बारे में पता चला। उन्होंने कहा,’मैं उसकी प्रतिभा को शाबाशी देने के साथ ही सकारात्मक असर भी पैदा करना चाहता था।’ प्रीति की मां ललिता ने कहा कि वह रोमांचित हैं। उन्होंने कहा,’जब मुझे पता चला कि अधिकारियों ने मेरी बच्ची की तारीफ की और उसे ब्रैंड ऐंबैसडर बनाया तो मेरे पास खुशी जताने के लिए शब्द ही नहीं थे।’

प्रीति ने कहा कि वह इतने लोगों के सामने निर्वाचन क्षेत्रों के नाम सुनाने के लिए उत्साहित थी। उसने बताया कि मेरे टीचर रोसैया ने मुझे सब कुछ सिखाया है। पंचायत के अध्यक्ष जे. वेंकटेसन और स्कूल के हेडमास्टर एन. पालानी ने कहा कि प्रीति ने गांव और स्कूल का नाम रोशन किया है। टीचर रोसैया ने कहा,’मुझे निर्वाचन क्षेत्रों के नाम वॉट्सऐप ग्रुप के एक मेसेज में मिले। मैंने वे नाम प्रीति को याद कराए और ऐनुअल डे पर उसने सुनाया। उसने सिर्फ 10 दिन में सारे नाम याद कर लिए थे।’

पंचायत अध्यक्ष ने गांव में तकरीबन 1,700 मतदाता हैं और उन्हें उम्मीद है कि प्रीति से प्रेरित होकर सभी लोग वोट डालेंगे।
सभार-टाईम्स ऑफ इंडिया से

image_pdfimage_print


Get in Touch

Back to Top