ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मंत्री श्री धारीवाल की पहल पर प्रशासन शहरों के संग अभियान , कोटा में 55 हज़ार पट्टे जारी होंगे

कोटा। राज्य सरकार की बजट घोषणा के तहत 2 अक्टूबर 2021 से प्रस्तावित प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत कोटा में 55 हज़ार पट्टे जारी करने का लक्ष्य रखा गया है। स्वायत शासन मंत्री शांति धारीवाल की पहल पर राज्य के शहरों में यह विशेष अभियान चला कर लोगों को उनके घर का मालिक बनाया जाएगा। धारीवाल ने बताया कि राज्य स्तर पर नियमों को सरल बनाया जाएगा जिससे अधिक से अधिक लोगों को इस अभियान का लाभ मिल सके।

इस महत्वपूर्ण अभियान के अंतर्गत कोटा शहरी क्षेत्र में बसी हुई कृषि भूमि की 336 अनुमोदित कॉलोनियों के लगभग 15 हजार पट्टे एवं गैर-अनुमोदित लगभग 410 कोलोनियों को नियमन कर लगभग 40 हजार पट्टे जारी करने का कार्यक्रम बनाया गया है। अभियान की तैयारियों के लिए नगर विकास न्यास सभागार में नगर विकास न्यास के अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। न्यास सचिव राजेश जोशी ने बताया कि सभी भू-अभिलेख निरीक्षक एवं पटवारियों को गैर-अनुमोदित कोलोनियों के नियमन के लिए सर्वे कार्य शीघ्र करने के निर्देश दिये गये हैं।

सर्वे कार्य के लिए शहर को छः भू-अभिलेख निरीक्षक क्षेत्रों में विभाजित किया गया है। भू-अभिलेख निरीक्षक सन्तोष नायक नदी पार समस्त क्षेत्र के लिए, शिवप्रकाष टाटू स्टेशन क्षेत्र के लिए, शेलेन्द्र प्रकाश जायसवाल बारां रोड के उत्तरी क्षेत्र के लिए, रघुराज सिंह हाड़ा बारां रोड से दक्षिणी क्षेत्र के लिए, कपिल सोनी कैथून रोड क्षेत्र के लिए, रामदयाल मीणा को नया कोटा क्षेत्र के लिए जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने बताया कि गैर-अनुमोदित कॉलोनियों के सर्वे एवं नियमन के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करने के लिए क्षेत्रानुसार सम्बन्धित भू-अभिलेख निरीक्षक से सम्पर्क किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि प्रषासन शहरों के संग अभियान-2021 को सफल बनाने के लिए नियम व विनियम आदि बनाने के लिए राज्य स्तर पर गठित समिति में आर. डी. मीणा को विषेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है। उन्होंने बताया कि आगामी अभियान की पूर्व तैयारी के लिए न्यास में पटवारि यों के रिक्त पदों को भरने के लिए सेवानिवृत पटवारी लगाने के लिए आवेदन आमंत्रित किये जायेंगे। इस अवसर पर न्यास के उपसचिवगण मोहनलाल प्रतिहार, चन्दन दुबे एवं मोहम्मद ताहिर, तहसीलदार गजेन्द्र सिंह एवं केपी मीणा, वरिष्ठ नगर नियोजक महावीर सिंह मीणा एवं सभी भू-अभिलेख निरीक्षकगण एवं पटवारीगण मौजूद रहे।
————

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top