Friday, April 19, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिसिर्फ पत्र व पार्सल ही नहीं, घर बैठे सरकार की तमाम कल्याणकारी...

सिर्फ पत्र व पार्सल ही नहीं, घर बैठे सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं से लोगों को जोड़ रहा डाक विभाग

वाराणसी। बदलते परिवेश में वित्तीय समावेशन, डिजिटल इंडिया और अंत्योदय में डाक विभाग अहम भूमिका निभा रहा है। डाक विभाग अब पत्र व पार्सलों के साथ-साथ सरकार की तमाम जनकल्याणकारी योजनाओं और इनके लाभों को भी लोगों तक पहुँचा रहा है। देश के हर कोने में, हर दरवाजे पर डाक विभाग की पहुँच है और वह लोगों के सुख-दुःख में बराबर रूप से जुड़ा हुआ है। उक्त उद्गार वाराणसी एवं प्रयागराज परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने 13 मार्च को मीरजापुर प्रधान डाकघर कार्यालय के विजिट के दौरान व्यक्त किए। उन्होंने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों से लोगों के प्रति अच्छे व्यवहार और विभिन्न सेवाओं में आवंटित लक्ष्यों की प्राप्ति पर जोर दिया। डाक अधीक्षक श्री सुरेश चंद्र ने पोस्टमास्टर जनरल का स्वागत करते हुए मीरजापुर में डाक सेवाओं की प्रगति के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि भारत सरकार की तमाम अग्रणी योजनाओं को डाकघरों के माध्यम से प्रमुखता से लागू किया गया है। डाक विभाग पत्र-पार्सल के साथ-साथ बचत बैंक, डाक जीवन बीमा, इण्डिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक, डाकघर पासपोर्ट सेवा केन्द्र, आधार नामांकन एवं अद्यतनीकरण, कॉमन सर्विस सेंटर, डाक निर्यात केंद्र जैसे तमाम जनोन्मुखी कार्य कर रहा है। आईपीपीबी के माध्यम से डाकिया और ग्रामीण डाक सेवक आज एक चलते फिरते बैंक के रूप में कार्य कर रहे हैं। सीईएलसी के तहत घर बैठे बच्चों का आधार बनाने, मोबाइल अपडेट करने, डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट, डीबीटी, बिल पेमेंट, एईपीएस द्वारा बैंक खाते से भुगतान, वाहनों का बीमा, स्वास्थ्य बीमा, दुर्घटना बीमा, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना जैसी तमाम सेवाएं आईपीपीबी द्वारा डाकिया के माध्यम से घर बैठे मुहैया कराई जा रही हैं। डाकिया चलते फिरते बैंक के रूप में कार्य कर रहा है।

पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने मीरजापुर में डाक सेवाओं की प्रगति की विस्तृत समीक्षा की। मीरजापुर मंडल में वर्तमान में कुल 4 .91 लाख बचत खाते, 74 हज़ार आईपीपीबी खाते, 52 हज़ार सुकन्या समृद्धि खाते, 1205 महिला सम्मान बचत पत्र खाते खोले गए हैं। मीरजापुर में 13 गाँवों को ‘सम्पूर्ण सुकन्या समृद्धि ग्राम, 53 गाँवों को ‘सम्पूर्ण बीमा ग्राम’ और 07 गाँवों को फाइव स्टार विलेज भी बनाया जा चुका है। चुनार उपडाकघर में संचालित पासपोर्ट सेवा केंद्र के माध्यम से मीरजापुर में इस वित्तीय वर्ष में 650 लोगों ने पासपोर्ट बनवाया। 75 हजार लोगों ने डाकघर के माध्यम से नया आधार बनवाया या अपडेट किया, वहीं 39 हज़ार लोगों ने इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के माध्यम से सीईएलसी के अंतर्गत इसका लाभ उठाया। 20 हजार से ज्यादा लोगों को घर बैठे आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से 9.25 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया।

पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने वित्तीय वर्ष के शेष दिनों में व्यापक अभियान चलाकर विभिन्न सेवाओं में आवंटित लक्ष्यों की प्राप्ति पर जोर दिया। साथ ही साथ विभिन्न सेवाओं से आम जन को जोड़ने, जन परिवाद के त्वरित निस्तारण और ग्राहकों के प्रति संवेदनशीलता पर जोर दिया।

इस अवसर पर अधीक्षक डाकघर सुरेश चंद्र, सहायक अधीक्षक अशोक कुमार, पंकज कुमार श्रीवास्तव, उपमंडलीय निरीक्षक राहुल सिंह, प्रवीण कुमार, पप्पू यादव, ब्रह्मदेव पांडेय, पोस्टमास्टर मीरजापुर प्रधान डाकघर बृजेंद्र कुमार ठाकुर, सहित तमाम अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार