ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

दिखाया सुशासन, चुनौतियों को बनाया अवसर- डाॅ. महेश जोशी

कोटा। बूंदी में सरकार के दो साल के कार्यक्रम की शुरुआत अतिथिगणों द्वारा कलेक्ट्रेट के नॉलेज पार्क में महात्मा गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन करने एवं सभागार में राष्ट्रगीत वंदे मातरम के गायन के साथ हुई। शनिवार को जिला प्रभारी सरकारी मुख्य सचेतक डाॅ. महेश जोशी के मुख्य आतिथ्य में बूंदी में आयोजित कार्यक्रम में जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन किया गया। मुख्य अतिथि डाॅ. महेश जोशी ने कहा कि राजस्थान सरकार अपने दो वर्ष के कार्यकाल में जनअपेक्षाओं पर खरी उतरी है। संवेदनशीलता और प्रतिबद्धता के साथ आगे बढ़ते हुए सरकार ने प्रदेश में सुशासन को मूर्त रूप दिया है। इस दौरान सामने आई चुनौतियों से डटकर मुकाबला करते हुए उन्हें अवसर के रूप में बदला है और विकास की की ओर कदम बढ़ाए हैं।

डाॅ. जोशी ने इस अवसर पर राज्य सरकार के कार्यकाल के दो वर्ष पूर्ण के अवसर पर सूचना एवं जन संपर्क विभाग बूंदी द्वारा प्रकाशित ‘2 वर्ष जन सेवा के’ जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन किया। इस अवसर पर जिला प्रभारी सचिव श्रीमती मुग्धा सिन्हा, जिला प्रमुख श्रीमती चंद्रावती कंवर उप जिला प्रमुख बंशीलाल मीणा, जिला कलक्टर आशीष गुप्ता, जिला पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा, अतिरिक्त जिला कलक्टर एयू खान, मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुरलीधर प्रतिहार एवं जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

डाॅ. जोशी ने कहा कि राज्य सरकार ने कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को बहुत ही सुनियोजित तरीके से लेते हुए न केवल इसका कुशल प्रबंधन किया है, बल्कि इसे अवसर के रूप में देखते हुए स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। राजस्थान सरकार ने जन घोषणा पत्र में किए वादों में से 50 प्रतिशत की समयबद्ध क्रियान्विति कर घोषणापत्र क्रियान्विति की रिपोर्ट प्रकाशित कर इसे विकास की प्रतिबद्धता के दस्तावेज के रूप में जनता के सामने रखा है। विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से आमजन को राहत देने का भरसक प्रयास किया है, जिनकी क्रियान्विति जिले में भी देखी जा सकती है।

डाॅ. जोशी ने कहा कि बूंदी जिले को स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में सबसे बड़ी सौगात मेडिकल काॅलेज के रूप में मिलने जा रही है, जिससे आमजन को बेहतर स्वास्थ्य सेवा का सपना पूरा हो सकेगा। कोविड-19 लिए जिला अस्पताल में आरटी एण्ड पीसीआर लैब भी प्रारंभ हो चुकी है। आमजन से जुड़ी मूलभूत आवश्यकताओं जैसे बिजली, पानी, सड़क, खेती, शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न योजनाओं से प्रदेशवासियों को लाभान्वित किया गया है। भविष्य में भी कई बड़ी परियोजनाओं का लाभ बूंदी को मिलेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सबके लिए समदृष्टि समभाव रखने वाले हैं। ऐसे में जिले का कोई क्षेत्र उपेक्षित नहीं रहेगा। साथ ही भ्रष्ट आचरण के प्रति सरकार का रवैया ‘जीरो टाॅलरेंस’ का है, जिसे किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा ।

सरकारी मुख्य सचेतक डाॅ. महेश जोशी ने विभागीय कार्यों की समीक्षा के दौरान बूंदी जिले की कई मौकों पर खुलकर सराहना की। उन्होंने कोविड-19 प्रबंधन के लिए टीम बूंदी को बधाई दी और तारीफ की। इसी तरह नरेगा मे सर्वाधिक मानव दिवसों के सृजन तथा प्रधानमंत्री आवास योजना में द्वितीय रहने पर सराहना की और कहा कि आने वाले समय में भी टीम वर्क के अच्छे परिणाम आएंगे। जिला प्रभारी सचिव मुग्धा सिन्हा ने बूंदी में साहचर्य और सहयोग की प्रशंसा करते हुए कहा कि यहां हर कार्य बेहतर तरीके से होता आया है। आगे भी टीम बूंदी बेहतर कार्य करेगी।

बैठक में जिला कलक्टर आशीष गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि बूंदी में राज्य सरकार की योजनाओं का अधिकाधिक लाभ पात्र लोगों को दिया गया है। वहीं कोरोना काल में जरूरतमंदों की समन्वित सहयोग से मदद करते हुए जरूरतमंदों को संबल दिया गया है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि आने वाले समय में टीम बूंदी हर क्षेत्र में और भी बेहतर तरीके से कार्य करेगी।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top