Monday, May 27, 2024
spot_img
Homeभारत गौरवपश्चिम रेलवे ने चर्चगेट स्थित हेरिटेज मुख्यालय भवन के आकर्षक और...

पश्चिम रेलवे ने चर्चगेट स्थित हेरिटेज मुख्यालय भवन के आकर्षक और सौंदर्यात्मक स्वरुप पुनर्जीवित किया

पश्चिम रेलवे ने विभिन्न जीर्णोद्धार कार्यों को शुरू करके चर्चगेट स्थित हेरिटेज मुख्यालय भवन के पुराने आकर्षण को पुनर्जीवित किया है। इस प्रतिष्ठित विरासत भवन को और अधिक आकर्षक और सौंदर्यात्मक स्वरूप प्रदान करने के लिए , इसके प्रवेश लॉबी के विरासती पहलुओं की बहाली के अतिरिक्त इसके अग्रभाग को आकर्षक रोशनी के साथ जगमगाता स्वरूप प्रदान किया गया है। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल ने शुक्रवार, 28 मई, 2021 को इस विरासत भवन के खूबसूरती से बहाल किए गए प्रवेश लॉबी और इसके अग्रभाग पर प्रकाश व्यवस्था प्रणाली का उद्घाटन किया।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, चर्चगेट स्थित पश्चिम रेलवे के मुख्यालय भवन को ग्रेड I विरासत संरचना के रूप में वर्गीकृत किया गया है। पश्चिम रेलवे ने प्रवेश लॉबी में विभिन्न जीर्णोद्धार कार्य कर मुख्यालय भवन के पुराने गौरव को बहाल करने के लिए हरसंभव प्रयास किए हैं। संरचना की मूल वास्तुकला और चिनाई के काम को बहाल रखने के लिए सभी प्रयास किये गए और इसकी उचित देखभाल की गई है। जीर्णोद्धार के कार्य में मेहराबों की पूरी तरह से सफाई और पेंट के कोट को हटाना शामिल था। पोरबंदर स्टोन, मलाड स्टोन, बलुआ स्टोन और बेसाल्ट का उपयोग कर निर्मित मेहराब पत्थरों को उचित नुकीलापन दिया गया। सजावटी किनारों को रिवाइव किया गया , विघटित स्तंभ पत्थरों की मरम्मत की गई , रूफ सीलिंग पर बने लकड़ी के फ्रेम को घिसा और पेंट किया गया है, हेरिटेज मोल्डिंग को पुनः स्थापित किया गया, वुडेन वॉल के पैनलिंग कार्य को उसके मूल रूप और आकार में बहाल कर दिया गया है और संगमरमर के फर्श को भी ग्राइंडिंग और पॉलिशिंग के साथ नया रूप दिया गया है। जीर्णोद्धार का कार्य 15 लाख रुपये की लागत से किया गया है और इसे लगभग तीन महीने के भीतर पूरा कर लिया गया है। प्रवेश लॉबी को हलकी मद्दिम लाइटिंग से रोशन किया गया है जो पहले के समय का आभास कराती है।

श्री ठाकुर ने विस्तृत जानकारी देते हुए यह बताया कि आरजीबीडब्ल्यू आधारित बहुरंगी एलईडी प्रकाश उपकरणों से भवन के अग्रभाग को रोशन किया गया है । प्रकाश व्यवस्था के इस कार्य के जरिये उपयुक्त अवसरों पर विभिन्न थीम के साथ मुख्यालय की इमारत को सुशोभित किया जा सकेगा । यह सुंदर प्रकाश व्यवस्था हमारे मनोबल को बढ़ाकर, इस शहर को ऊर्जा प्रदान करेगी और ऐसे चुनौतीपूर्ण समय में उत्साह को बढ़ाने में सहायक होगी। अग्रभाग की प्रकाश व्यवस्था के कार्य के परिणामस्वरूप कम ऊर्जा खपत के कारण प्रति वर्ष लगभग 10 लाख रुपये की बचत होगी क्योंकि इस कार्य में अधिक वितरित प्रकाश व्यवस्था का उपयोग किया गया है और यह एक स्थायी व्यवस्था है। अग्रभाग की प्रकाश व्यवस्था की मुख्य विशेषताओं में इसका रिमोट कंट्रोल आधारित होना है जिसमें रंगीन दृश्यों / कार्यक्रमों को बनाने के लिए स्मार्टफोन ऐप के साथ-साथ विंडोज आधारित सॉफ्टवेयर का उपयोग करके एलईडी प्रकाश उपकरणों को अवसर की आवश्यकता के अनुसार प्रोग्राम किया जा सकता है।

पश्चिम रेलवे मुख्यालय भवन वेनीशियन गोथिक और वास्तुकला की इंडो- सारसेनिक शैलियों के मिश्रण के साथ एक सुंदर, सौंदर्यपूर्ण और शानदार स्मारक है। प्रसिद्ध वास्तुकार फ्रेडरिक विलियम स्टीवंस ने इस भवन को डिजाइन किया था। भवन का निर्माण 1894 में शुरू हुआ था और 7.5 लाख रुपये की लागत से 1899 में पूरा हुआ। शहर के केंद्र में भव्य रूप से स्थित, यह इमारत पश्चिम रेलवे (पूर्व में BB&CI रेलवे) के प्रशासनिक कार्यालयों को समायोजित करती है।

इस अवसर पर महाप्रबंधक श्री कंसल ने कर्मचारियों की सुविधा के लिए मुख्यालय भवन में नवनिर्मित स्टाफ कैंटीन का भी उद्घाटन किया। सर्व सुविधायुक्त नव पुनर्निर्मित स्टाफ कैंटीन पूरी तरह से वातानुकूलित है और इस कैंटीन में इंफोटेनमेंट उद्देश्य के लिए एक टीवी सेट भी है। इसमें महिला कर्मचारियों के लिए अलग से एनक्लोज़र की व्यवस्था है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार