ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

हिन्दी जगत
 

  • आज के सवाल और मुक्तिबोध के ‘अँधेरे में’ की एक पड़ताल

    हिन्दी कविता के महानतम सर्जकों में से एक गजानन माधव मुक्तिबोध के निधन के पचास साल इसी सितंबर में पूरे हो गए हैं। सितंबर उन्नीस सौ पैंसठ के नया ज्ञानोदय में कवि श्रीकांत वर्मा का एक लेख छपा था जिसमें उन्होंने कहा था ‘अप्रिय’ सत्य की रक्षा का काव्य रचने वाले कवि मुक्तिबोध को अपने […]

  • हेमंत स्मृति कविता सम्मान ‘हरेप्रकाश उपाध्याय’ को विजय वर्मा कथा सम्मान ‘शरद सिंह’ को

    मुम्बई। हेमंत फाउंडेशन की ओर से वर्ष २०१३ का हेमंत स्मृति कथा सम्मान युवा कवि हरेप्रकाश उपाध्याय [लखनऊ] के कविता संग्रह ‘खिलाड़ी दोस्त एवं अन्य कविताएं’ तथा विजय वर्मा कथा सम्मान चर्चित लेखिका शरद सिंह [सागर] के उपन्यास ‘कस्बाई सिमोन’ को दिये जाने की घोषणा संस्था की अध्यक्ष लेखिका संतोष श्रीवास्तव एवं सचिव प्रमिला वर्मा […]

  • कविता का एक दिन: राजस्थान साहित्य अकादमी और अपनी माटी का संयुक्त आयोजन

    <p><span style="line-height:1.6em">राजस्थान साहित्य अकादमी, उदयपुर और अपनी माटी,चित्तौड़गढ़ के संयुक्त तत्वावधान में 29 सितम्बर, 2013 को सेन्ट्रल अकादमी सीनियर सेकंडरी स्कूल, सेंथी, चित्तौड़गढ़ में माटी के मीत-2 के आयोजन में सौ रचनाकारों और बुद्धिजीवियों ने वर्तमान परिदृश्य पर चिंतन-मनन किया। प्रख्यात पुरातत्त्वविद मुनि जिनविजय की स्मृति में हुए इस विमर्श प्रधान कार्यक्रम के पहले सत्र […]

Back to Top