आप यहाँ है :

हिन्दी जगत
 

  • बौद्धिक विमर्शों से नाता तोड़ चुके हैं हिंदी के अखबार

    हिंदी पत्रकारिता को यह गौरव प्राप्त है कि वह न सिर्फ इस देश की आजादी की लड़ाई का मूल स्वर रही, बल्कि हिंदी को एक भाषा के रूप में रचने, बनाने और अनुशासनों में बांधने का काम भी उसने किया है। हिंदी भारतीय उपमहाद्वीप की एक ऐसी भाषा बनी, जिसकी पत्रकारिता और साहित्य के बीच […]

  • हिन्दी की सेवा के लिए बालेंदु शर्मा दाधीच को राजभाषा पुरस्कार

    प्रभासाक्षी.कॉम के समूह संपादक और सुपरिचित तकनीकविद् बालेन्दु शर्मा दाधीच को सन् 2013 के आत्माराम पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। उन्हें यह पुरस्कार विज्ञान और टेक्नॉलॉजी के जरिए हिंदी भाषा के प्रति योगदान के लिए प्रदान किया जाएगा। केंद्रीय हिंदी संस्थान की ओर से दिया जाने वाला यह पुरस्कार राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले […]

  • हिंदी के विश्वदूत : डॉ. इन्दु प्रकाश पाण्डेय

    डॉ. इन्दु प्रकाश पाण्डेय और उनकी जर्मन पत्नी हाइडी से मेरी पहली मुलाकात सितंबर 2012 में जोहान्सबर्ग, दक्षिण अफ्रीका में विश्व हिंदी सम्मेलन के दौरान हुई । एक आकर्षक व गरिमामय व्यक्तित्व के धनी वयोवृद्ध किन्तु सक्रिय डॉ. इन्दु प्रकाश पाण्डेय और पूर्णत: भारतीयता के रंग में रंगी सहधर्मिणी उनकी जर्मन पत्नी हाइडी से हुई […]

  • विज्ञान के अध्यापक वरुण कुमार का आँखे खोलने वाला एक पत्र

    अंग्रेजी माध्यम के विद्यार्थी, विद्यालयों के  संचालक, शिक्षक, अंग्रेजीदां अफसर व नेता आदि अवश्य पढ़ने का कष्ट करें।   मैं लुधियाना के एक सरकारी स्कूल में बच्चों को भौतिक विज्ञान पढ़ाता हूँ और अपने कोचिंग सेंटर में एम.एस.सी. गणित के बच्चों को पढाता हूँ। मेरे पास जो बच्चे पढ़ रहे हैं वे सरकारी स्कूलों से […]

  • ‘भारतीय भाषाओं की रक्षा और राष्ट्रभाषा की प्रतिष्ठा के लिए संघर्ष करना होगा’

    हैदराबाद। उच्च शिक्षा और शोध संस्थान की स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर केंद्रीय हिंदी निदेशालय और स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद के सहयोग से आयोजित त्रिदिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी “मुक्तिबोध की कविता 'अंधेरे में' : अर्धशती समारोह” का उद्घाटन करते हुए प्रख्यात साहित्यकार, वर्तमान सांसद और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कहा […]

  • हिन्दी आती है तो कान में सीसा घोलकर सरकारी रेडिओ सुनें

    अब तो हद हो रही है। एक ओर देश के प्रधान मंत्री इस और उनके करोड़ों प्रशंसक इस बात पर फूले नहीं समा रहे हैं कि प्रधान मंत्री जी पूरी दुनिया में बर मंच पर हिन्दी बोलकर देश की भाषा का सम्मान और गौरव बढ़ा रहे हैं दूसरी ओर प्रधान मंत्री के अधीन चलने वाला […]

  • हिंदी की विश्वदूत – श्रीमती नीलू गुप्ता

    श्रीमती नीलू गुप्ता श्रीमती नीलू गुप्ता  भारत से जाकर अमेरिका में बसे लोगों की तादाद काफी है और विभिन्न क्षेत्रों में  भारतीयों ने अपनी एक विशेष पहचान और जगह भी बनाई है। संयुक्त राज्य अमेरिका  के कैलिफ़ोर्निया राज्य में भी भारतीयों की अच्छी खासी संख्या है । संयुक्त राज्य  अमेरिका के पश्चिमी तट पर स्थित […]

  • हिन्दी वाले ही हिन्दी की कर रहे चिंदी चिंंदी

    चंडीगढ़ में दस साल रहा हूँ। जयपुर की तरह जब-तब वहाँ के अखबारों को नेट पर देख आता हूँ। इस तरह शहर से एक रिश्ता बना रहता है। कुछ मीठी यादें, कुछ सोए गम जाग जाते हैं। कल ही उधर का एक बड़ा हिंदी अखबार देख रहा था। एक खबर यों शुरू होती थी : […]

  • पत्रकार-लेखक राजेश विक्रांत का 14 मार्च को मुंबई में सार्वजनिक अभिनंदन

    राजेश विक्रांत मुम्बई महानगर के साहित्यिक-सांस्कृतिक आयोजनों के सुपरिचित हस्ताक्षर  हैं। मुम्बई की पत्रकारिता व् लेखन में पिछले 25 सालों से सक्रिय लेखक पत्रकार राजेश विक्रांत के जीवन की स्वर्ण जयंती पर साहित्य सेवा फाउंडेशन मुम्बई की ओर से उनका सार्वजनिक अभिनन्दन समारोह कवि- पत्रकार और महाराष्ट्र टीवी के कांसेप्ट एडिटर अमर त्रिपाठी के नेतृत्व […]

  • हिन्दी सेवी जगदीप सिंह डांगी का नाम लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्डस 2015 में दर्ज हुआ

    जगदीप सिंह डांगी, एसोसिएट प्रोफ़ेसर, प्रौद्योगिकी अध्ययन केंद्र, भाषा विद्यापीठ, महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा का नाम लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्डस 2015 में दर्ज किया गया है। यह सम्मान प्रो. डांगी को हिंदी के प्रथम वर्तनी परीक्षक सॉफ़्टवेयर ‘सक्षम’ को विकसित करने पर दिया गया। इससे पहले भी इनका नाम लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्डस […]

Back to Top