ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मनोरंजन जगत
 

  • शेखर कपूर ने कहा, अब यू ट्यूब होगा सिनेमा का असली ठिकाना

    शेखर कपूर ने कहा, अब यू ट्यूब होगा सिनेमा का असली ठिकाना

    भारत के 46 वें अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह की अंतरराष्ट्रीय जूरी के अध्यक्ष शेखर कपूर का कहना है कि टेक्नालॉजी सिनेमा को तेजी से बदल रही है। नए फिल्मकारों को अब सिनेमा हॉल की जरूरत नहीं रहेगी। अब ऐसे कैमरे आ रहे हैं जिनमें दस से पंद्रह लैंस एक साथ होंगे। फिल्म निर्माण का पारंपरिक तरीका बदल जाएगा।

  • मामी फिल्म समारोह में दीपिका सुनाएगी अपनी कहानी

    मामी फिल्म समारोह में दीपिका सुनाएगी अपनी कहानी

    मुंबई में चल रहे मामी फिल्म समारोह में तीसरे दिन दीपिका पादुकोण से लेकर आलिया भट्ट जैसे सितारों का जमघट बांद्रा स्थित मेहबूब स्टूडियो में मुंबई एकेडमी ऑफ मूविंग इमेज (मामी) में लगेगा। यहां पर न सिर्फ क्लासिक और समानांतकर सिनेमा देखने को मिलेगा बल्कि उन लोगों को सितारों से बात करने का मौका मिलेगा जो सितारे बनाते हैं।

  • जियो मामी में दुनिया भर की 150 फिल्में

    जियो मामी में दुनिया भर की 150 फिल्में

    जियो मामी मुंबई फिल्म समारोह यहां 29 अक्टूबर से प्रारंभ होगा, जिसमें दुनियाभर की 150 से अधिक फिल्में दिखाई जाएंगी। इनमें मशहूर फीचर, लघु और डॉक्यूमेंटरी फिल्में शामिल होंगी। फिल्म समारोह के लिए आभूषण डिजाइनर नीरव मोदी ने नई ट्रॉफी भी तैयार की है।

  • किशोर सम्मान  दिलीप कुमार और सईँ परांजपे को

    किशोर सम्मान दिलीप कुमार और सईँ परांजपे को

    स्व. किशोरकुमार की स्मृति में दिए जाने वाले राष्ट्रीय किशोरकुमार अलंकरण से इस वर्ष दो फिल्मी हस्तियों को प्रदान किया जाएगा। चयन समिति ने अभिनेता दिलीप कुमार और फिल्म निर्देशक सई परांजपे का चयन किया गया है।

  • मुंबई फिल्म समारोह 29 अक्टूबर से

    मंबई में आयोजित मामी' फिल्म समारोह में इस बार वैकल्पिक सिनेमा का जोर रहेगा।। मामी समारोह का खास आकर्षण फिल्म अलीगढ़ होगी। हंसल मेहता की 'अलीगढ़' एक सत्य घटना से प्रेरित फिल्म है।

  • जब नए प्रयोग किए तो फिल्में नहीं चलीःसुभाष घई

    जब नए प्रयोग किए तो फिल्में नहीं चलीःसुभाष घई

    जाने माने फिल्म निर्माता-निर्देशक सुभाष घई ने जागरण फिल्म समारोह में दिल खोलकर अपने मन की बातें साझा की। सुभाष घई ने कहा कि हर कलाकार को तकनीक व हर तकनीशियन को अदाकारी की जानकारी होनी चाहिए।

  • मुंबई में 28 सितंबर से शुरु हो रहे जागरण फिल्म समारोह के खास आकर्षण

    मुंबई में 28 सितंबर से शुरु हो रहे जागरण फिल्म समारोह के खास आकर्षण

    इस वर्ष का फिल्मोत्सव 'खुशी' थीम पर केन्द्रित है, जो फिल्मों के जरिए अपने विविध रंगों की कलात्मकता को नए क्षितिज तक पहुँचायेगा. जागृण पिछले 3 महीने से 16 शहरों में फिल्मों को प्रदर्शन कर चुका है।

  • 28 सितंबर से जागरण फिल्म समारोह मुंबई में

    28 सितंबर से जागरण फिल्म समारोह मुंबई में

    मुंबई में होने वाले छठे जागरण फिल्म समारोह को लेकर गहमा-गहमी शुरू हो गई है। क्लासिक और समसामयिक सिनेमा की एक से एक बेहतरीन फिल्में इस समारोह का खास आकर्षण होंगी।

  • छठा जागरण फिल्म महोत्सव एक जुलाई से 17 शहरों में

    फिल्म प्रेमियों के दिलों में विशेष स्थान रखने वाले 'जागरण फिल्म महोत्सव' की शुरुआत इस बार दिल्ली में एक जुलाई से हो रही है। इस महोत्सव का यह छठा साल है। पांच दिनों तक चलने वाले इस समारोह में राजधानी के दर्शकों को कई प्रतिष्ठित भारतीय और विदेशी फिल्में देखने को मिलेंगी। इस बार महोत्सव […]

  • महबूब और उनका सिनेमा परंपरा का आदर : डगर आधुनिकता की

    किस्सा हिंदी सिनेमा का जब भी बयाँ होगा, महबूब और उनकी 'मदर इंडिया' के जिक्र के बगैर अधूरा रहेगा। छप्पन साल पहले प्रदर्शित हुई 'मदर इंडिया' और आधी सदी पहले इस फानी दुनिया को अलविदा कह गए जनाब महबूब खान आज भी वर्तमान की उपस्थिति हैं। उन्होंने जो किस्से सिनेमा के पर्दे पर बयाँ किए […]

Back to Top