ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मनोरंजन जगत
 

  • किशोर सम्मान  दिलीप कुमार और सईँ परांजपे को

    किशोर सम्मान दिलीप कुमार और सईँ परांजपे को

    स्व. किशोरकुमार की स्मृति में दिए जाने वाले राष्ट्रीय किशोरकुमार अलंकरण से इस वर्ष दो फिल्मी हस्तियों को प्रदान किया जाएगा। चयन समिति ने अभिनेता दिलीप कुमार और फिल्म निर्देशक सई परांजपे का चयन किया गया है।

  • मुंबई फिल्म समारोह 29 अक्टूबर से

    मंबई में आयोजित मामी' फिल्म समारोह में इस बार वैकल्पिक सिनेमा का जोर रहेगा।। मामी समारोह का खास आकर्षण फिल्म अलीगढ़ होगी। हंसल मेहता की 'अलीगढ़' एक सत्य घटना से प्रेरित फिल्म है।

  • जब नए प्रयोग किए तो फिल्में नहीं चलीःसुभाष घई

    जब नए प्रयोग किए तो फिल्में नहीं चलीःसुभाष घई

    जाने माने फिल्म निर्माता-निर्देशक सुभाष घई ने जागरण फिल्म समारोह में दिल खोलकर अपने मन की बातें साझा की। सुभाष घई ने कहा कि हर कलाकार को तकनीक व हर तकनीशियन को अदाकारी की जानकारी होनी चाहिए।

  • मुंबई में 28 सितंबर से शुरु हो रहे जागरण फिल्म समारोह के खास आकर्षण

    मुंबई में 28 सितंबर से शुरु हो रहे जागरण फिल्म समारोह के खास आकर्षण

    इस वर्ष का फिल्मोत्सव 'खुशी' थीम पर केन्द्रित है, जो फिल्मों के जरिए अपने विविध रंगों की कलात्मकता को नए क्षितिज तक पहुँचायेगा. जागृण पिछले 3 महीने से 16 शहरों में फिल्मों को प्रदर्शन कर चुका है।

  • 28 सितंबर से जागरण फिल्म समारोह मुंबई में

    28 सितंबर से जागरण फिल्म समारोह मुंबई में

    मुंबई में होने वाले छठे जागरण फिल्म समारोह को लेकर गहमा-गहमी शुरू हो गई है। क्लासिक और समसामयिक सिनेमा की एक से एक बेहतरीन फिल्में इस समारोह का खास आकर्षण होंगी।

  • छठा जागरण फिल्म महोत्सव एक जुलाई से 17 शहरों में

    फिल्म प्रेमियों के दिलों में विशेष स्थान रखने वाले 'जागरण फिल्म महोत्सव' की शुरुआत इस बार दिल्ली में एक जुलाई से हो रही है। इस महोत्सव का यह छठा साल है। पांच दिनों तक चलने वाले इस समारोह में राजधानी के दर्शकों को कई प्रतिष्ठित भारतीय और विदेशी फिल्में देखने को मिलेंगी। इस बार महोत्सव […]

  • महबूब और उनका सिनेमा परंपरा का आदर : डगर आधुनिकता की

    किस्सा हिंदी सिनेमा का जब भी बयाँ होगा, महबूब और उनकी 'मदर इंडिया' के जिक्र के बगैर अधूरा रहेगा। छप्पन साल पहले प्रदर्शित हुई 'मदर इंडिया' और आधी सदी पहले इस फानी दुनिया को अलविदा कह गए जनाब महबूब खान आज भी वर्तमान की उपस्थिति हैं। उन्होंने जो किस्से सिनेमा के पर्दे पर बयाँ किए […]

  • नकल से नहीं असल किरदार से फिल्मों को सँवारें – मनु नायक

    हमारे नए राज्य के दूसरे दशक के मध्य में छालीवुड की खुशियों में चार चाँद लगाते हुए छत्तीसगढ़ी फिल्मों को 50 बरस पूरे हो गए.14 अप्रैल 1965 में पहली छत्तीसगढ़ी फिल्म ‘ कहि देबे संदेश’  रिलीज़ हो गई थी. छत्तीसगढ़ी फिल्मों के जनक मनु नायक ( मुम्बई ) ने इस लेखक की दूरभाष पर हुई […]

  • नाम बदलकर परदे पर छा गए फिल्मी सितारे, लोग असली नाम भूल गए

    हमारे सिनेमा के संसार में तो क्या अं दर और क्या बाहर- शायद ही कोई जानता हो कि भारतीय सिनेमा के शिखर पर विराजमान देश के सबसे सम्मानित अभिनेता, अमिताभ बच्चन का असली नाम इंकलाब है। दरअसल, ‘बच्चन‘ न तो कोई नाम है और न ही कोई जाति-उपजाति। यह तो बस, हरिवं श राय श्रीवास्तव […]

  • अपने मकसद में कितना कामयाब रहा फिक्की फ्रैम का सालाना जलसा

    फिक्की फ्रेम्स फेडरेशन आफ चैम्बर्स आफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज और भारतीय फिल्म जगत की साझा वार्षिक पहल है, यह एक ऐसा प्लेटफार्म है जिस पर फिल्म और मनोरंजन जगत के प्रतिनिधि, फेडरेशन के दिग्गज और सरकार के विभिन्न मंत्रालयों के प्रमुख एकत्रित हो कर समस्याओं पर चर्चा करते हैं और सरकार को अपनी रीति नीति […]

  • Page 4 of 5
    1 2 3 4 5

ईमेल सबस्क्रिप्शन

PHOTOS

VIDEOS

Back to Top

Page 4 of 5
1 2 3 4 5