Saturday, May 25, 2024
spot_img
Homeफ़िल्मी-गपशपजैन धर्म की संस्कृति पर आधारित 'द लिगेसी ऑफ जिनेश्वर' 19 अप्रैल को...

जैन धर्म की संस्कृति पर आधारित ‘द लिगेसी ऑफ जिनेश्वर’ 19 अप्रैल को प्रदर्शित होगी

‘द लिगेसी ऑफ जिनेश्वर’ (The Legacy of Jineshwar) का बहुप्रतीक्षित ट्रेलर लॉन्च हो गया है। यह कार्यक्रम सिनेपोलिस मुंबई में निर्माता अभिषेक मालू, प्रोजेक्ट हेड विवेक कुलश्रेष्ठ, अभिनेता सुरेंद्र पाल और कई अन्य लोगों की उपस्थिति में हुआ। इस दौरान दावा किया गया कि यह फिल्म जैन धर्म की संस्कृति और अनछुए पहलुओं को सबके सामने मजबूती से रखेगी। 19 अप्रैल 2024 को महावीर जयंती पर यह फिल्म रिलीज होगी।

इस बारे में जारी विज्ञप्ति के अनुसार, कई बाधाओं को पार करने के बाद आखिरकार फिल्म का ट्रेलर लॉन्च हो गया। अब यह फिल्म सिल्वर स्क्रीन पर धूम मचाने के लिए तैयार है। वर्तमान खरतरगच्छाचार्य श्री जिन पीयूष सागर सूरीश्वर के आशीर्वाद से और खरतरगाचा सहस्त्राब्दी महोत्सव समिति के सहयोग से निर्माता अभिषेक मालू ने दर्शकों से अच्छे सिनेमा के अनुभव का वादा किया है।

विज्ञप्ति में यह भी कहा गया है कि ‘द लिगेसी ऑफ जिनेश्वर’ जैन परंपरा की अनकही कहानी को उजागर करने का वादा करती है, जो भगवान महावीर की महत्वपूर्ण शिक्षाओं और तीर्थंकर की आध्यात्मिक विरासत पर प्रकाश डालती है। दर्शक राजा ऋषभ देव से भगवान महावीर तक की यात्रा के साथ-साथ खतरगच्छ (जैन धर्म में एक संप्रदाय) की स्थापना को एक दिलचस्प कथा प्रारूप में प्रस्तुत करते हुए देखेंगे।

परियोजना निदेशक विवेक सुधींद्र कुलश्रेष्ठ के दूरदर्शी मार्गदर्शन और निर्देशक प्रदीप पी. जाधव और विवेक अय्यर द्वारा निर्देशित यह फिल्म जैन धर्म के सार को प्रामाणिकता और श्रद्धा के साथ जीवंत करती है। प्रसिद्ध लेखक और गीतकार प्रशांत बेबर ने संगीतकार विवियन रिचर्ड और विपिन पटवा के साथ, फिल्म को भावपूर्ण संगीत दिया है, जो न केवल मनोरंजन करता है बल्कि प्रेरित भी करता है।

पद्मश्री कैलाश खेर, जावेद अली और दिव्य कुमार द्वारा मधुर रचनाओं को अपनी आवाज देने से दर्शक फिल्म के शक्तिशाली साउंडट्रैक से मंत्रमुग्ध होने की उम्मीद कर सकते हैं।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार