आप यहाँ है :

लोकसभा अध्यक्ष बिरला के प्रयासों से संसदीय क्षेत्र के कई स्टेशनों का होगा विकास

कोटा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों से संसदीय क्षेत्र कोटा-बूंदी के कई रेलवे स्टेशनों की सूरत जल्द निखरेगी। बिरला की कोशिशों से जहां डकनिया में 2 लूप लाइन बिछाने के लिए रेलवे ने 28.5 करोड़ रूपए स्वीकृत कर दिए हैं, वहीं स्टेशन की दशा सुधारने के लिए भी 11 करोड़ रूपए अलग से दिए हैं। लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने गत 5 फरवरी को रेल मंत्री पीयूष गोयल के साथ कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र में रेल सुविधाओं को लेकर समीक्षा बैठक की थी। इस दौरान बिरला ने कोटा, डकनिया सहित क्षेत्र के कई अन्य स्टेशनों पर कार्यों की आवश्यकता की जानकारी दी थी। बिरला ने उन कार्यों के बारे में भी बताया था जो राशि जारी नहीं होने के कारण अटके हुए हैं। बैठक के बाद रेल मंत्री ने कोटा-बूंदी क्षेत्र की आवश्यकताओं को प्राथमिकता से लेते हुए कई स्टेशनों के लिए राशि स्वीकृत कर दी है।

कोटा रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के विकास के लिए 22 करोड़ रूपए स्वीकृत किए गए हैं। इसके अलावा आईआरएसडीसी को कोटा स्टेशन को विकसित करने की जिम्मेदारी भी दी गई है। आईआरएसडीसी डकनिया तलावा स्टेशन को विकसित करने का काम भी देखेगा। इन दोनों स्टेशनों के समयबद्ध विकास की माॅनीटरिंग के लिए रेल मंत्री ने अधिकारियों को विशेष ध्यान रखने के निर्देश भी दिए हैं।

कोटा के आसपास के क्षेत्रों में यात्रियों के आवागमन को सुलभ बनाने के लिए मेमो ट्रेन जल्द दौड़ने लगेगी। रेल मंत्रालय ने फरवरी में 8-8 डिब्बों वाली मेमो ट्रेन के दो रेक कोटा मंडल को दे दिए हैं। आईसीएफ चेन्नई से 8-8 डिब्बों वाली मेमो ट्रेन के दो और रेक जल्द मिलने की संभावना है।

डकनिया के बाद कोटा के एक और सैटेलाइट स्टेशन के तौर पर विकसित किए जा रहे सोगरिया रेलवे स्टेशन का काम अगले माह 15 अप्रेल तक पूरा कर लिया जाएगा। कोटा-बीना दोहरीकरण कार्य के तहत इस स्टेशन के विकास के लिए 10 करोड़ रूपए व्यय किए गए हैं।

कोटा मंडल के 8 स्टेशनों पर फुट ओवर ब्रिज का निर्माण भी जनवरी 2022 तक हो जाएगा। गुरला में फुट ओवर ब्रिज मई 2021 तक, घाट का बराना जुलाई 2021, अलनिया व रावठा रोड पर नवंबर 2021, लबान, अरनेठा और कापरेन में दिसंबर 2021 तथा कंवलपुरा में जनवरी 2022 तक फुट ओवर ब्रिज का काम पूरा कर लिया जाएगा।

कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र के 5 रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को अब कोच तलाशने में दिक्कत नहीं आएगी। कोटा, डकनिया तलाव, इंद्रगढ़, सुमेरगंजमंडी, लाखेरी व बूंदी स्टेशन पर 1.6 करोड़ की लागत से कोच गाइडेंस सिस्टम लगाए जाएंगे। इसके अलावा कोटा व रामगंजमंडी स्टेशनों के फुटओवर ब्रिज पर 18 लाख रूपए की लागत से ट्रेन डिस्प्ले सिस्टम भी लगाए जाएंगे।

कोटा जिले के दीगोद तथा श्री कल्याणपुर तथा बूंदी जिले के इंद्रगढ़-सुमेरगंजमंडी स्टेशन पर भी करीब 4 करोड़ रूपए के विकास कार्य होंगे। इंद्रगढ़-सुमेरगंजमंडी स्टेशन पर 1.8 करोड़ रूपए के कार्य होंगे जिनके टेंडर अंतिम स्टेज में हैं। दीगोद तथा श्रीकल्याणपुरा में स्टेशन से मुख्य मार्ग तक सीसी रोड का निर्माण करवा दिया गया है। दोनों स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं के विकास पर दो करोड़ रूपए और खर्च किए जाएंगे।

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top