Tuesday, April 16, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिवाइस एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी, एवीएसएम, एनएम ने नौसेना के उप प्रमुख...

वाइस एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी, एवीएसएम, एनएम ने नौसेना के उप प्रमुख का पदभार संभाला

वाइस एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी, एवीएसएम, एनएम ने 4 जनवरी, 2024 को नौसेना के उप प्रमुख का पदभार संभाला। पदभार संभालते ही उन्‍होंने दिल्‍ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्‍पांजलि अर्पित कर उन बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि दी जिन्‍होंने देश के लिए अपना सर्वोच्‍च बलिदान दिया। नौसेना के उप प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने से पहले, वाइस एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी ने पश्चिमी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के रूप में कार्य किया।

सैनिक स्कूल रीवा और राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला के पूर्व छात्र वाइस एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी को 01 जुलाई 1985 को भारतीय नौसेना में नियुक्त किया गया था। संचार और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध विशेषज्ञ वाइस एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी सिग्नल संचार अधिकारी और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध अधिकारी के रूप में नौसेना के फ्रंटलाइन युद्धपोतों पर और बाद में गाइडेड मिसाइल डिस्ट्रॉयर आईएनएस मुंबई के कार्यकारी अधिकारी और प्रधान युद्ध अधिकारी के रूप में कार्य किया। उन्होंने भारतीय नौसेना के जहाजों विनाश, किर्च और त्रिशूल की कमान संभाली। उन्होंने विभिन्न महत्वपूर्ण परिचालन और स्टाफ नियुक्तियों पर भी काम किया है, जिसमें मुंबई में पश्चिमी बेड़े के बेड़ा संचालन अधिकारी, नौसेना संचालन निदेशक, प्रधान निदेशक नेटवर्क केंद्रित संचालन और नई दिल्ली में प्रधान निदेशक नौसेना योजना शामिल हैं। रियर एडमिरल के पद पर पदोन्नति होने पर उन्होंने एनएचक्यू में नौसेना के सहायक प्रमुख (नीति और योजना) और पूर्वी बेड़े के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग के रूप में कार्य किया।

जून 2019 में वाइस एडमिरल के पद पर पदोन्नति होने पर उन्हें केरल के एझिमाला में प्रतिष्ठित भारतीय नौसेना अकादमी के कमांडेंट के रूप में नियुक्त किया गया था। वे जुलाई 2020 से मई 2021 तक नौसेना संचालन के महानिदेशक थे। इस अवधि में काफी नौसेना समुद्री संचालन देखे गए। उन्होंने यह सुनिश्चित किया कि नौसेना ‘युद्ध के लिए हमेशा तैयार, विश्वसनीय, एकजुट और भविष्य के लिए सक्षम बल’ बनी रहे, जो कोविड महामारी की चौतरफा गंभीरता के बावजूद कई जटिल सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार रही। बाद में, जून 2021 से फरवरी 2023 तक उन्होंने कार्मिक प्रमुख के रूप में कार्य किया।

एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज, वेलिंगटन से स्नातक हैं, जहां उन्हें थिमैया पदक से सम्मानित किया गया था। उन्होंने नेवल हायर कमांड कोर्स पूरा किया और 2007-08 में यूएस नेवल वॉर कॉलेज, न्यूपोर्ट, रोड आइलैंड्स में भी भाग लिया, जहां उन्होंने प्रतिष्ठित रॉबर्ट ई बेटमैन इंटरनेशनल पुरस्कार जीता।

वाइस एडमिरल त्रिपाठी कर्तव्य के प्रति समर्पण के लिए अति विशिष्ट सेवा पदक और नौसेना पदक से सम्‍मानित हैं। वे खिलाड़ी भी हैं और टेनिस, बैडमिंटन और क्रिकेट में उनक गहरी रूचि है। एडमिरल दिनेश के. त्रिपाठी अंतरराष्ट्रीय संबंधों, सैन्य इतिहास और नेतृत्व की कला और विज्ञान के उत्सुक छात्र रहे हैं। उनका विवाह श्रीमती शशि त्रिपाठी से हुआ, जो एक कलाकार और गृहिणी हैं। उनका एक पुत्र है, जो पेशे से वकील हैं, उनका विवाह नीति निर्माण क्षेत्र में कार्यरत तान्या से हुआ है।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार