Tuesday, April 16, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिलखनऊ जीपीओ सहित प्रदेश के 11 चिन्हित डाक घर करेंगे ई-स्टांप की...

लखनऊ जीपीओ सहित प्रदेश के 11 चिन्हित डाक घर करेंगे ई-स्टांप की बिक्री

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश डाक परिमंडल ने डाकघर द्वारा प्रदान की जाने वाली नागरिक आधारित सेवाओं का विस्तार करते हुए डाकघरों के माध्यम से ई-स्टांप के विक्रय की आधिकारिक शुरुआत की।यह सेवा उत्तर प्रदेश डाक परिमण्डल के चीफ पोस्टमॉस्टर जनरल ब. सेल्वा कुमार द्वारा स्टाम्प  एवं पंजीकरण विभाग उत्तर प्रदेश की प्रमुख सचिव लीना जौहरी की उपस्थिति में की गयी। इस बाबत लखनऊ जी पी ओ में आयोजित कार्यक्रम में लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के पोस्टमॉस्टर जनरल विवेक कुमार दक्ष, स्टांप  एवं पंजीकरण विभाग उत्तर प्रदेश ओर से आईजी डॉ रूपेश कुमार, रवीश कुमार, सुशील कुमार  तिवारी चीफ पोस्टमास्टर  लखनऊ  जीपीओ व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

इस सम्बन्ध में गौरतलब है की 22 दिसंबर को उत्तर प्रदेश डाक परिमंडल तथा स्टॉक होल्डिंग कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया के बीच महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किये गये इसी क्रम में आज यह सेवा जनता के लिए शुरू की गयी। यह सेवा लखनऊ जीपीओ समेत प्रदेश के 11 चिन्हित डाकघरों (गौतमबुद्ध नगर सेक्टर-34, ग़ाज़ियाबाद प्रधान डाकघर, कानपुर प्रधान डाकघर, आगरा कलेक्ट्रेट उप डाकघर, प्रयागराज कचहरी प्रधान डाकघर, वाराणसी कचहरी उप डाकघर, गोरखपुर कचहरी उप डाकघर, मेरठ कचहरी उप डाकघर, सहारनपुर प्रधान डाकघर, बिजनौर प्रधान डाकघर) में पायलट मोड में शुरू की गयी है।

इस अवसर पर विवेक कुमार दक्ष ने बताया कि इस सेवा के शुरू होने से जनता को चिन्हित डाकघरों से असानी से ई-स्टाम्प पेपर प्राप्त हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि 10 रुपये मूल्य का स्टाम्प पेपर 10 रूपए का ही मिलेगा। आज डाक विभाग जनता को तमाम नागरिक आधारित सेवाएँ प्रदान कर रहा है और इसी क्रम में डाक घरों के माध्यम से ई-स्टाम्प की बिक्री एक महत्तवपूर्ण सेवा है। मैं आशा करता हूं कि हम डाक विभाग के बृहद नेटवर्क के माध्यम से ई-स्टांप की सेवा का लाभ प्रदेश के कोने-कोने तक पहुंचाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि तीन महीनों के पश्चात इसका रिव्यू किया जाएगा और तत्पश्चात ये सेवा प्रदेश के अन्य डाक घरों में उपलबध कराने पर विचार होगा।

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार