Friday, April 19, 2024
spot_img
Homeखबरेंकेंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह जी को पत्र

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह जी को पत्र

सेवा में,
गृह मंत्री
श्री अमित शाह जी
भारत सरकार

विषय: दिल्ली सराय रोहिल्ला थाना क्षेत्र में सड़क जाम कर अव्यवस्था फैलाने वाले लोगों को सड़क जाम करने से हटाने वाले सब-इंस्पेक्टर मनोज कुमार तोमर के निलंबन के अन्याय के संबंध में

महोदय,
सविनय निवेदन इस प्रकार है कि दिनांक 8 मार्च को नमाज पढ़ने के नाम पर सड़क पर यातायात अवरूद्ध करने वाले कुछ शरारती तत्वों को दिल्ली पुलिस के सब-इंस्पेक्टर मनोज कुमार तोमर ने सड़क से हटाया। जिसके तुरंत बाद पुलिस उपायुक्त उत्तरी दिल्ली मनोज कुमार मीणा ने सब-इंस्पेक्टर मनोज कुमार तोमर को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया।

महोदय इससे न केवल पुलिस कर्मियों का मनोबल गिरेगा बल्कि इससे जेहादियों का दुस्साहस भी बढ़ेगा।

मेरा साधारण सा प्रश्न यह है कि अपनी ड्यूटी निभाते हुए यातायात अवरूद्ध करने वाले पुलिसकर्मी को नौकरी से निलंबित करना क्या यह संदेश नहीं देता है कि समुदाय विशेष को कोई भी अव्यवस्था फैलाने का अधिकार है और प्रशासन उनके आगे नतमस्तक रहेगा?

कल को हिन्दू सिक्ख ईसाई व अन्य धर्म के लोग भी यातायात अवरूद्ध करके सड़क जाम करेंगे तो आमजन की क्या हालत होगी?

वक्फ इस देश का तीसरा सबसे बड़ा जमीन मालिक है, उसके बाद भी मुस्लिमों के पास नमाज पढ़ने की जगह नहीं है जो सड़क पर नमाज पढ़नी पड़ती है? और अगर मुस्लिमों की जनसंख्या इतनी ही अधिक है तो इनका अल्पसंख्यक दर्जा तत्काल प्रभाव से समाप्त किया जाय?

इस देश का नागरिक होने के नाते मैं पुलिस उपायुक्त उत्तरी दिल्ली मनोज कुमार मीणा के, सबइंस्पेक्टर मनोज कुमार तोमर को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के अन्यायपूर्ण व पक्षपाती निर्णय की कड़ी निंदा करता हूं। और माननीय गृह मंत्री व गृह सचिव से सबइंस्पेक्टर मनोज कुमार तोमर का निलंबन तत्काल प्रभाव से निरस्त कर उनकी सेवा बहाल करने की मांग करता हूं। अन्यथा इसके बाद पूरे देश में इस तरह की घटनाओं की बाढ़ सी आ जाएगी जो कि एक अव्यवस्था को जन्म देगी।

साथ ही मैं आम जनमानस के लिए यातायात व्यवस्था सुचारू रूप से चलाने रखने के लिए सड़क पर पहली बार नमाज पढ़ते पाए जाने पर 10000 रुपए प्रति व्यक्ति के अर्थ दंड की व दूसरी बार सड़क पर नमाज पढ़ते हुए पकड़े जाने पर 10000 अर्थदंड और एक साल के सश्रम कारावास की भी मांग करता हूं।

भवदीय
दिलीप माहेश्वरी
अध्यक्ष
कनफ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (C A I T )मुंबई
अध्यक्ष
जनता कि आवाज़ फाउंडेशन (मुंबई)
उपाध्यक्ष
भारत विकास परिषद मुंबई प्रान्त
उपाध्यक्ष
अंतरराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन
मुंबई

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -spot_img

वार त्यौहार