आप यहाँ है :

पश्चिम रेलवे 26 मई से 1 जून, 2016 तक मनायेगा ‘रेल हमसफ़र सप्ताह’

पश्चिम रेलवे पर 26 मई से 1 जून, 2016 तक ‘रेल हमसफ़र सप्ताह’ मनाया जायेगा। इस सप्ताह के दौरान भारतीय रेल पर पिछले दो वर्षों के दौरान अर्जित उल्लेखनीय उपलब्धियों को प्रकाश में लाया जायेगा। इस अवधि के दौरान पश्चिम रेलवे पिछले दो वर्ष में शुरू की गई विभिन्न गतिविधियों को प्रकाश में लायेगी तथा विशिष्ट रूप से पश्चिम रेलवे द्वारा एवं समग्र रूप से सम्पूर्ण भारतीय रेल के सभी क्षेत्रों पर हासिल की गई खास उपलब्धियों से जन सामान्य को अवगत करवाया जायेगा। विशेषतः यात्री सुविधाओं में हुई प्रगति को भी प्रदर्शित किया जायेगा। विभिन्न कार्यक्रमों के साथ इस सप्ताह को मनाया जायेगा तथा प्रत्येक दिन को उस दिन के उद्देश्य जैसे- स्वच्छता, समयपालनता, खानपान, टिकट चेकिंग, यात्री संवाद, मालभाड़ा ग्राहक संवाद एवं मीडिया से संवाद के नाम पर उस दिवस को एक विशेष नाम प्रदान किया गया है।

‘रेल हमसफ़र सप्ताह’ के पहले दिन 26 मई, 2016 को पश्चिम रेलवे पर ‘स्वच्छता दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा, जिसमें सभी स्टेशनों पर तथा ट्रेनों में गहन स्वच्छता अभियान चलाने के प्रयास किये जायेंगे। वहीं महाप्रबंधक एवं मंडल रेल प्रबंधक, रेल कर्मचारियों, एनजीओ, कर्मचारी संगठनों, स्काउट एवं गाइड्स इत्यादि के सहयोग से प्रत्येक स्टेशन का निरीक्षण एक अधिकारी द्वारा किया जायेगा।

‘रेल हमसफ़र सप्ताह’ के दूसरे दिन अर्थात 27 मई, 2016 को ‘सत्कार दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा, जिसमें अधिकारियों द्वारा स्टेशनों तथा ट्रेनों में खानपान इकाइयों एवं पेयजल सुविधा सम्बंधी निरीक्षण किये जायेंगे। इसका मुख्य उद्देश्य खानपान इकाइयों पर बिक्री किये जाने वाले सामग्रियों की पूर्ण मूल्य सूची प्रदर्शित करने, स्वच्छता, रख-रखाव एवं इन खानपान इकाइयों और रसोईयानों की मरम्मत को और अधिक बेहतर बनाना है, जिससे ये वांछनीय मानकों के अनुरूप हों।

28 मई, 2016 को ‘सेवा दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा, जिसमें प्रत्येक ट्रेन में (उपनगरीय लोकल ट्रेनों को छोड़कर)10.00 बजे से 16.00 बजे तक मॉनिटरिंग के लिए एक अधिकारी तैनात होगा। नामित अधिकारी इन ट्रेनों में यात्रा करेंगे तथा सभी श्रेणियों के यात्रियों से संवाद स्थापित कर सुनिश्चित करेंगे कि सुविधाएँ ज़रूरतों के अनुरूप उपलब्ध हों। शिकायतों एवं इनके निपटान सम्बंधी कार्य भी किये जायेंगे। इस दिन मंडल एवं क्षेत्रीय रेलवे प्रधान कार्यालय द्वारा सोशल मीडिया पर तथा अन्य माध्यमों से प्राप्त शिकायतों/सुझावों सहित सभी जन शिकायतों का विश्लेषण महाप्रबंधक एवं मंडल रेल प्रबंधक स्तर पर किया जायेगा तथा अधिकतर मामलों की अनुपूरक कार्यवाही एवं उसी दिन निपटारे का प्रयास भी किया जायेगा।

29 मई, 2016 को ‘सतर्कता दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा तथा इस दिन सम्पूर्ण पश्चिम रेलवे पर टिकट जाँच अभियान चलाया जायेगा। इस अभियान में मेल/एक्सप्रेस तथा पैसेंजर ट्रेनों की समयपालनता 100 प्रतिशत सुनिश्चित करने, सभी मेल/एक्सप्रेस की फुट प्लेटिंग सहित महत्त्वपूर्ण स्टेशनों तथा ट्रेनों में न केवल कमर्शियल स्टाफ द्वारा बल्कि अन्य विभागों से प्राधिकृत रेल कर्मचारियों द्वारा सतर्कता, आरपीएफ एवं जीआरपी कर्मचारियों की सहायता से गहन टिकट जाँच अभियान चलाया जायेगा।

30 मई, 2016 को ‘सामंजस्य दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा, जिसमें सम्पूर्ण पश्चिम रेलवे पर दिनभर के कार्य के अंतर्गत सम्बंधित अधिकारियों की टीम मान्यताप्राप्त यूनियनों के प्रतिनिधियों के साथ कर्मचारी कॉलोनियों का निरीक्षण करेंगे तथा कॉलोनी में स्वच्छता अभियान चलायेंगे एवं उनके अनुरक्षण का भी कार्य करेंगे। प्रत्येक मंडल पर वृक्षारोपण पर विशेष बल दिया जायेगा, जिसमें रेलवे कॉलोनियों एवं अन्य परिसरों पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। रेल कर्मचारियों एवं परिजनों के लिए विशेष खेलकूद कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे तथा उन्हें इसमें भाग लेने हेतु प्रोत्साहित किया जायेगा। महाप्रबंधक तथा मंडल रेल प्रबंधक सहित अन्य अधिकारी विभिन्न डिपो एवं कार्य स्थलों पर कर्मचारियों के साथ बैठकें करेंगे तथा उनकी समस्याओं को सुनेंगे एवं वहीं उनके निपटारे की कार्रवाई की जायेगी।

31 मई, 2016 को ‘संयोजन दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक तथा सम्बंधित मंडल रेल प्रबधक सभी महत्त्वपूर्ण माल यातायात ग्राहकों के साथ बैठक एवं विभिन्न सुधारों एवं माल यातायात के नीति सम्बंधी विषयों पर बैठक एवं सेमीनार करेंगे तथा लक्ष्य की प्राप्ति के लिए रेल यातायात को बेहतर बनाने के लिए विभिन्न उद्योगों से प्रतिबद्धता प्राप्त करने हेतु चर्चा की जायेगी। इन बैठकों में व्यक्तिगत उद्योग/ग्राहक से सम्बंधित विभिन्न मुद्दों पर भी चर्चा की जायेगी तथा महाप्रबंधक एवं सम्बंधित मंडल रेल प्रबंधक द्वारा एक तय समय सीमा के अंतर्गत इसका निपटारा किया जायेगा।

सप्ताह भर चले इस अभियान के अंतिम दिन 1 जून, 2016 को ‘संचार दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा, जिसमें सप्ताह के दौरान चलाई गई विभिन्न गतिविधियों की समीक्षा की जायेगी तथा पिछले दो वर्षों के दौरान भारतीय रेलवे की विभिन्न उपलब्धियों के बारे में सूचना प्रदान करने एवं उनके अपने मंडलों और क्षेत्रों पर किये गये विशेष कार्यों के बारे में बताने हेतु महाप्रबंधक/मंडल रेल प्रबंधक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करेंगे।

******

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top