आप यहाँ है :

क्या इस बार टीवी पर गणतंत्र की परेड नहीं दिखाई देगी ?

‘टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया’ (TRAI) के नए टैरिफ नियमों को लेकर केबल ऑपरेटर्स के एक प्रमुख संगठन ने 26 जनवरी की सुबह हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। ऐसे में दर्शक केबल टीवी पर 26 जनवरी को आयोजित होने वाली गणतंत्र दिवस की परेड नहीं देख पाएंगे।

अमर उजाला में प्रकाशित खबर के अनुसार, हिंद केबल ऑपरेटर वेलफेयर फाउंडेशन नामक इस संगठन का कहना है कि ट्राई के फैसले के विरोध में पूरे देश में 26 जनवरी की सुबह 7 से लेकर दोपहर 12 बजे तक केबल टीवी का प्रसारण बंद रहेगा।

मुरादाबाद में मंगलवार को आयोजित बैठक में यह फैसला लिया गया है। बैठक में कहा गया कि ट्राई ने केबल ऑपरेटर्स की कई मांगों को पूरा नहीं किया है। इस बारे में कई बार प्रधानमंत्री कार्यालय, सूचना प्रसारण मंत्रालय को अवगत कराया गया है, लेकिन फिर भी उन्हें राहत नहीं मिली है।

हिंद केबल ऑपरेटर वेलफेयर फाउंडेशन के अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने कहा कि संगठन की कुछ प्रमुख मांगे हैं, जिनके ऊपर अभी तक सुनवाई नहीं हो पाई है। इन मांगों में 15 परसेंट कैपिग, लोकल केबल ऑपरेटर की शेयरिंग सही नहीं है। इसके अलावा नेटवर्क कैपेसिटी फीस, सेट टॉप बॉक्स पोर्टबिलिटी भी प्रमुख मुद्दा है।

गौरतलब है कि पहले ट्राई के नए नियम 29 दिसंबर 2018 से लागू होने थे, लेकिन कंज्यूमर्स की सुविधा के लिए इस सीमा को एक माह के लिए बढ़ा दिया गया है। अब यह एक फरवरी 2019 से प्रभावी होंगे। नए आदेशों के तहत अब उपभोक्ता 31 जनवरी 2019 तक अपने पसंदीदा चैनल का चुनाव कर सकेंगे। ट्राई का कहना है कि इस समय सीमा को आगे और नहीं बढ़ाया जाएगा।

नए नियम में कंज्यूमर के पास अपने पसंद के चैनल चुनने का अधिकार होगा और जिन चैनलों को वे देखना चाहेंगे, उन्हीं के लिए भुगतान करना होगा। इसके अलावा टीवी ब्रॉडकास्टर्स को भी अपने सभी चैनलों के लिए अलग-अलग और बुके (bouquets) के लिए अधिकतम खुदरा मूल्य (MRP) का खुलासा करना भी जरूरी होगा।



सम्बंधित लेख
 

Back to Top