Tuesday, June 25, 2024
spot_img
Homeप्रेस विज्ञप्तिफोर्ब्स की सूची में जोय आलुक्कास भारत के सबसे अमीर ज्वेलर

फोर्ब्स की सूची में जोय आलुक्कास भारत के सबसे अमीर ज्वेलर

फोर्ब्स की भारत के लिए साल 2023 की 100 सबसे अमीर भारतीयों की सूची में उन्हें 50वां स्थान मिला है

मुम्बई। जोय आलुक्कास समूह को यह ऐलान करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि कंपनी के चेयरमैन, श्री जोय आलुक्कास साल 2023 की फोर्ब्स की 100 सबसे अमीर भारतीयों की सूची में लगातार पायदान चढ़ते हुए 50वें स्थान पर पहुँच गए हैं। इस प्रतिष्ठित सूची में भारत के एकमात्र ज्वेलर होने के नाते श्री जोय आलुक्कास ने शानदार प्रदर्शन करते हुए उद्योग के अन्य जानी-मानी हस्तियों को पीछे छोड़ दिया है।

श्री जोय आलुक्कास ने भारतीय ज्वेलरी क्षेत्र की कायापलट करने में एक अहम भूमिका निभाई है। उनके नए और असाधारण कॉन्सेप्ट, जैसे कि अनेक रिटेल स्टोर, संगठित रिटेल परिचालन और बड़े फॉर्मैट वाले स्टोर विश्वभर में भारतीय ज्वेलरी क्षेत्र को नई पहचान देने में कामयाब हुए हैं। इससे पहले यह क्षेत्र बिखरा हुआ था और मुख्य रूप से परिवारों द्वारा चलाया जाता था।

एक अनुमान के हिसाब से भारत का ज्वेलरी बाज़ार 2023 में 76.77 बिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर 2027 में 100 बिलियन डॉलर से अधिक का होने जा रहा है। वित्त वर्ष 2022 के आंकड़ों के मुताबिक 38% भारतीय ज्वेलरी बाज़ार अब संगठित क्षेत्र में तब्दील हो चुका है। ऐसा श्री जोय आलुक्कास की परिकल्पना के कारण संभव हो पाया है। वित्त वर्ष 2026 तक इसके 47% तक जाने की संभावना है।

उद्योग में अग्रणी और पथप्रदर्शक होने के अलावा, श्री जोय आलुक्कास को उनके अनुभव और नई सोच के लिए भी जाना जाता है। अपने इन्हीं गुणों के कारण उन्हें जीवन में सफलताएँ मिली हैं, जैसे कि चेन्नई में दुनिया का सबसे बड़ा आउटलेट खोलना, प्रचार के तौर पर उपहार स्वरूप रोल्स रॉयस कार देना और यूके, यूएसए और सुदूर पूर्व जैसे नए बाज़ारों में प्रवेश करना।

श्री जोय आलुक्कास को अपने विचारों को तुरंत हकीकत में बदलने की आदत है और वे बेवजह के विश्लेषणों में पड़ कर समय बर्बाद करने में विश्वास नहीं करते हैं। उन्होंने 2008 के वैश्विक आर्थिक संकट और 2020 की महामारी जैसी प्रमुख वैश्विक घटनाओं के दौरान भी व्यापार का सफलतापूर्वक संचालन किया था।

पिछले वर्ष फोर्ब्स की सबसे अमीर भारतीयों की सूची में 69वें पायदान से इस वर्ष 50वें पायदान पर आना ब्रांड जोयआलुक्कास के असाधारण प्रदर्शन और टर्नोवर और मुनाफे में लगातार बढ़ोतरी का सबूत है।

उन्हें प्यार से “दुनिया का पसंदीदा ज्वेलर” कहा जाता है और यह उपलब्धि इसी बात का प्रमाण है। अपने अनुभव से वे अभी भी भारत के ज्वेलरी उद्योग में योगदान कर रहे हैं और वैश्विक स्तर पर अपनी छाप छोड़ रहे हैं।

जोयआलुक्कास के बारे में
जोयआलुक्कास ISO प्रमाणित बहुराष्ट्रीय ज्वेलरी समूह है। आलुक्कास ज्वेलरी ने ब्रांड का नाम बदल कर जोयआलुक्कास रखा। इस संगठन ने त्रिशूर में छोटे ज्वेलर के तौर पर अपना व्यापार शुरू किया था जो आज जोयआलुक्कास समूह में तब्दील हो गया है, जिसके 11 देशों में 160 शोरूम हैं और जहाँ 9000 से अधिक कर्मचारी काम करते हैं। बहुत थोड़े समय में जोयआलुक्कास समूह दुनिया भर में 1 करोड़ ग्राहकों का भरोसेमंद ज्वेलरी पार्टनर बन गया। इस समूह ने अभी तक 10 लाख खास डिज़ाइन बनाए हैं। जोयआलुक्कास एक जाना-माना ज्वेलरी ब्रांड और व्यापार है, जिसने खुद को बाज़ार के अग्रणी खिलाड़ी के तौर पर स्थापित करते हुए अगले स्तर के विकास की नींव रख दी है।

अधिक जानकारी के लिए देखिये: www.joyalukkas.com.

Best Regards,
Deepika Guleria
Senior Executive – Media Relations
[email protected]
www.newsvoir.com

image_print

एक निवेदन

ये साईट भारतीय जीवन मूल्यों और संस्कृति को समर्पित है। हिंदी के विद्वान लेखक अपने शोधपूर्ण लेखों से इसे समृध्द करते हैं। जिन विषयों पर देश का मैन लाईन मीडिया मौन रहता है, हम उन मुद्दों को देश के सामने लाते हैं। इस साईट के संचालन में हमारा कोई आर्थिक व कारोबारी आधार नहीं है। ये साईट भारतीयता की सोच रखने वाले स्नेही जनों के सहयोग से चल रही है। यदि आप अपनी ओर से कोई सहयोग देना चाहें तो आपका स्वागत है। आपका छोटा सा सहयोग भी हमें इस साईट को और समृध्द करने और भारतीय जीवन मूल्यों को प्रचारित-प्रसारित करने के लिए प्रेरित करेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

लोकप्रिय

उपभोक्ता मंच

- Advertisment -

वार त्यौहार