ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

मुख्यमंत्री की घोषणा हवाबाज साबित हुई

कल्याण-डोंबिवली महापालिका चुनाव के मद्देनजर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने 3 अक्टूबर 2015 को भाजप के विकास परिषद में शहर विकास के लिए 6500 करोड़ का ‘चुनाव पॅकेज’ जाहीर किया था। सरकार से आज के वक्त तक किसी भी तरह का फंड मनपा को नहीं मिलने की जानकारी आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली को कल्याण- डोंबिवली महानगरपालिका ने दी हैं। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की घोषणा हवाबाज साबित हुई।

आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने कल्याण- डोंबिवली महानगरपालिका और मुख्यमंत्री कार्यालय से जानकारी मांगी थी कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मनपा चुनाव में कल्याण- डोंबिवली महानगरपालिका को 6500 करोड़ रुपए का पॅकेज देने की घोषणा की थी उसमें से कितनी रकम अब तक दी गई। मुख्यमंत्री कार्यालय ने गलगली की आरटीआई की अर्जी नगरविकास विभाग के पास भेजी तो नगरविकास विभाग ने एमएमआरडीए प्रशासन के पास अर्जी भेजकर अपना पल्ला झाड़ा। कल्याण- डोंबिवली महानगरपालिका के लेखाधिकारी तथा सूचना अधिकारी विनय कुलकर्णी ने अनिल गलगली को बताया कि सरकार से अब तक किसी भी तरह का फंड मनपा को नहीं मिला हैं।

अनिल गलगली के अनुसार मुख्यमंत्री ने किया हुआ वादा निभाकर 6500 करोड़ का पॅकेज कल्याण डोंबिवली महानगरपालिका देना जरुरी हैं अन्यथा भविष्य में मुख्यमंत्री इस पद की प्रतिमा जनमानस में मलिन होगी और जनता विश्वास नही रखेगी।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दिनांक 3 अक्टूबर 2015 को मनपा चुनाव के दौरान कल्याण- डोंबिवली महानगरपालिका को 6500 करोड़ का पॅकेज देने की घोषणा की थी। इसके पहले अलग किये 27 गावों को 1200 करोड़ का विशेष पॅकेज राज्य सरकार ने घोषित किया था। उस मौके पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष रावसाहेब दानवे, शिक्षामंत्री विनोद तावडे के अलावा मंत्रिमंडल के कई साथी, नेतागण और पदाधिकारी उपस्थित थे।

संपर्क

अनिल गलगली
9820130074



सम्बंधित लेख
 

Back to Top