आप यहाँ है :

ऐश्वर्या राय का ये विज्ञापन अब नहीं दिखेगा

जेवर बनाने वाली कंपनी ने अपने उस विज्ञापन को हटाने का फैसला किया है जिसमें एक बच्चा ऐश्वर्या राय के लिए छाता पकड़े हुए है।  सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस विज्ञापन पर आपत्ति लेते हुए इसे नस्लभेदी और बालश्रम को बढ़ावा देने वाला विज्ञापन बताया था।

गौरतलब है कि ऐश्वर्या राय बच्चन इस विज्ञापन में ज्वैलरी पहनी नजर आ रही हैं और उसमें एक अश्वेत बच्चे को छाता पकड़े दिखाया गया है। इस बात को लेकर संगठनों ने आपत्ति ली थी। ऐश्वर्या राय को इस विज्ञापन से हटने का अनुरोध भी किया था।

 

ऐश्वर्या राय केरल के  'कल्याण ज्वेलर्स' की राष्ट्रीय ब्रांड एंबेसेडर हैं। हाल ही में जब अखबार में इससे संबंधित विज्ञापन प्रकाशित हुआ तो उन्हें सामाजिक कार्यकर्ताओं के विरोध का सामना करना पड़ा। ऐश्वर्या राय को खुला खत लिखा गया कि उनको इस विज्ञापन से अलग हो जाना चाहिए क्योंकि यह बालश्रम को बढ़ावा देता है। हालांकि इस बात के सामने आने के बाद ऐश्वर्या राय ने भी एक बयान जारी करते हुए कहा कि विज्ञापन में आए इस बदलाव के लिए क्रिएटिव टीम जिम्मेदार हैं।

कंपनी ने भी लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए न सिर्फ माफी मांगी है बल्कि वे इस कैंपेन को रोकने की प्रक्रिया में लग गए हैं। कल्याण ज्वेलर्स ने अपने फेसबुक पेज के माध्यम से कहा है, 'क्रिएटिविटी रॉयलनेस, सदाबहार सुंदरता और रुतबे को दर्शाने के हिसाब से उपयोग की गई थी। यदि इससे किसी भी व्यक्ति का संगठन की भावना को ठेस पहुंची है तो हम इसके लिए खेद प्रकट करते हैं। हम कैंपेन से इस क्रिएटिव फार्म को हटाने की प्रक्रिया शुरू कर चुके हैं।'

image_pdfimage_print


सम्बंधित लेख
 

Back to Top